सेविंग अकाउंट (बचत खाता) क्या होता है

सेविंग अकाउंट (बचत खाता

सामान्यतः प्रत्येक व्यक्ति अपनी आय का कुछ भाग बचत के रूप में रखना पसंद करता है | समय- समय पर सरकार द्वारा बचत से सम्बंधित विभिन्न प्रकार की योजनाओं का संचालन करती है, जिसके द्वारा अधिक ब्याज प्राप्त किया जा सकता है | आप इन योजनाओं में निवेश करके अपनी आय के कुछ भाग को सुरक्षित कर सकते है | सरकार द्वारा बचत खाता योजना बैंक और पोस्ट ऑफिस के द्वारा संचालित की जाती है, इसके द्वारा आप अपने धन को बैंक या पोस्ट ऑफिस में जमा कर सकते है, इस पेज पर सेविंग अकाउंट (बचत खाता) क्या होता है, नियमों की जानकारी के विषय में विस्तृत रूप से बताया जा रहा है |

ये भी पढ़े: SBI Online Account घर बैठे कैसे Open करे

ये भी पढ़े: मंथली एवरेज बैलेंस (Monthly Average Balance) क्या है  

सेविंग अकाउंट (बचत खाता) क्या होता है ?

सेविंग अकाउंट (बचत खाता) बैंक या पोस्ट ऑफिस में खोला गया वह खाता है, जिसमें आप अपनी आवश्यकता के अनुसार कभी भी धन को जमा और निकाल सकते है | इस प्रकार के खाते से धन की निकासी में किसी भी प्रकार की बाध्यता नहीं होती है, परन्तु इन खातों पर ब्याज दर कम प्राप्त होता है | इस पर त्रैमासिक, छमाही, वार्षिक ब्याज की गणना की जाती है |

ये भी पढ़े: इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) क्या है ?

बचत खाता (Saving Account) खोलनें हेतु डॉक्यूमेंटस 

पहचान पत्र (Identity Card)

आधार कार्ड,पैन कार्ड, वैध पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस , मतदाता पहचान पत्र, रक्षा पहचान पत्र, केन्द्रीय / राज्य सरकार और सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के कर्मचारियो के पहचान पत्र, ज्येष्ठ नागरिक कार्ड इत्यादि |

निवास प्रमाण पत्र 

तहसील द्वारा प्रमाणित निवास प्रमाण पत्र, बिजली का बिल, टेलीफोन का बिल, राशन कार्ड इत्यादि |

ये भी पढ़े: IFSC Code क्या है

परिचय कर्ता

बैंक में खाता खोलने के लिए आपके पास स्वयं का निवास व पहचान का प्रमाण पत्र होना चाहिए, इसके अतिरिक्त आप जिस भी बैंक में खाता खोलना चाहते है, उस बैंक में आपके परिचित किसी व्यक्ति का खाता पहले से हो, उस व्यक्ति को आपके खाते की गारंटी लेनी पड़ती है | जो व्यक्ति आपका परिचय कर्ता होगा उस व्यक्ति का खाता छ : महीने पुराना अवश्य हो | इस प्रकार से आप अपना नया खाता खोल सकते है |

खाता खोलते समय जमा करने की न्यूनतम राशि

खाता खोलते समय आपको न्यूनतम 1000 रूपये जमा करना पड़ता है, यह राशि भारतीय रिजर्व बैंक के दिशा- निर्देश के द्वारा परिवर्तित होती रहती है |

ये भी पढ़े: *99# USSD Banking सर्विस का उपयोग कैसे करे

ब्याज (Intrest)

सेविंग अकाउंट (बचत खाता) में 3.5 से 4.0 प्रतिशत के लगभग ब्याज प्रदान किया जाता है, प्राइवेट बैंक इससे अधिक ब्याज देते है |

जमाकर्ता के हस्ताक्षर

बैंक में खाता खोलते समय आपको नमूना हस्ताक्षर करने पड़ते है, जब आप बैंक में धन की निकासी करेंगे उस समय आप से हस्ताक्षर करने के लिए कहा जाता है, बैंक कर्मचारी आपके द्वारा किये गए हस्ताक्षर को नमूना हस्ताक्षर से मिलान करता है, यदि हस्ताक्षर मिल जाते है, तो आपको धन प्राप्त हो जाता है, अन्यथा आपको धन नहीं दिया जायेगा |

नामांकन (Nomination) सुविधा

व्यक्तिगत खाताधारकों को नामांकन करने की सुविधा प्रदान की जाती है, जिससे मृत्यु की दशा में व्यक्ति के खाते की धन राशि नामांकित व्यक्ति को प्रदान कर दी जाती है |

ये भी पढ़े: कैंसिल चेक (Cancel Cheque) क्या होता है और इसकी उपयोगिता क्या है ?

यहाँ पर हमनें आपको सेविंग अकाउंट (बचत खाता) के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: क्या है Unified Payment Interface

ये भी पढ़े: PF अकाउंट का UAN Number कैसे चेक करे 

ये भी पढ़े: कैंसिल चेक (Cancel Cheque) क्या होता है