रॉ एजेंट बननें के लिए क्या करें 

रॉ एजेंट कैसे बनें ? 

विश्व के लगभग सभी देशों नें अपनें देश की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम रखते है, सुरक्षा की दृष्टिकोण से सभी देशो की खुफिया एजेंसी होती है, जो देश से जुड़ी गुप्त जानकारियों को देश से बाहर निकलनें से रोकती हैं, और देश में होनें  वाले किसी भी तरह के हमले को समय से पूर्व ही अंदाजा लगा लेती है, ताकि देश को किसी प्रकार की क्षति न हो । भारत की खुफिया एजेंसी रॉ है, जो हर समय सतर्क रहते हुए देश की सुरक्षा में लगी हुयी है, ऐसे में यदि आप भी रॉ एजेंट बनना चाहते है, तो इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

ये भी पढ़े: सीबीआई ऑफिसर कैसे बने 

ये भी पढ़े: Current Affairs की तैयारी कैसे करे

रॉ एजेंट क्या है

रॉ भारत की अंतराष्ट्रीय ख़ुफ़िया एजेंसी अथवा गुप्तचर संस्था है , इस संस्था का निर्माण भारत के पडोसी देशों पर निगरानी रखनें  और उनकी ख़ुफ़िया जानकारियों को प्राप्त  करनें  के लिए किया गया था, ताकि देश को अन्य देशो के हमलों से बचाया जा सकें | इसे हिंदी में ‘अनुसंधान और विश्लेषण स्कंध’ कहा जाता है, इस एजेंसी में कार्य करनें वाले लोगो को रॉ एजेंट कहा जाता है, वर्ष 1968 में चीन की जासूसी करनें के लिए इसका निर्माण किया गया था, परन्तु वर्तमान समय में रॉ का भारतीय एकता और सुरक्षा में महत्वपूर्ण योगदान है |

पूर्व में विदेशी जानकारी प्राप्त करनें का कार्य सर्वप्रथम  इंटेलिजेंस ब्यूरो ( अन्वेषण ब्यूरो )द्वारा किया जाता  था, इसका गठन अंग्रेजो द्वारा किया गया था, वर्ष 1933 में द्वितीय विश्व युद्ध के आरंभ में भारत के सीमावर्ती क्षेत्रो की जानकारी प्राप्त करनें के लिए  इंटेलिजेंस ब्यूरो की गतिविधियों को और बढ़ा दिया गया,वर्ष 1962 में भारत-चीन युद्ध में भारत पराजित होनें का कारण, विदेशी जानकारी का अभाव था, सन 1962 के दौरान सूचना तंत्रों की असफलता के कारण प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरु नें एक विदेशी गुप्तचर संस्था के गठन का आदेश दिया, जिसके अंतर्गत रॉ का गठन हुआ |

ये भी पढ़े: भारतीय तट रक्षक कैसे बने

ऐसे बनें रॉ एजेंट 

भारतीय रॉ विभाग में सम्मिलित होनें  के लिए कोई डायरेक्ट भर्ती परीक्षा नहीं होती है, सबसे पहले आपको रक्षा क्षेत्र या भारतीय सिविल सेवा विभाग में शामिल होना होता है , इन विभागों में अच्छा अनुभव प्राप्त करनें  के बाद आपको एक इंटरव्यू देना होता है, इस इंटरव्यू में सफल होनें पर आपको रॉ विभाग में सम्मिलित होने का अवसर मिलता है |

रॉ इंडिया एजेंट और इंटेलिजेंस ऑफिसर के पद में उच्च पद के उन अधिकारियों को विदेश- भारत में कार्य करनें  के लिए एक गुप्त एजेंट के रूप में नियुक्त किया जाता  है, राष्ट्रीय स्तर की सेवा में मुख्य रूप से रक्षा और सुरक्षा के दौरान और अधिकांश समय – आईपीएस अधिकारियों, केंद्रीय खुफिया अधिकारी, सीआईडी अधिकारियों, भारत के आतंकवादियों के प्रमुख – आईएमए, आईएनए, एएफए के रूप में कार्यरत हों |

रॉ विभाग विशेष रूप से सिविल सेवा विभाग या पुलिस विभाग में कार्यरत कर्मचारियों को उनके कार्य और बुधिमत्ता के आधार पर चयन किया जाता है, वर्तमान समय में रॉ विभाग अभ्यर्थियों का चयन सीधे स्नातक स्तर से किया जा रहा है, परन्तु इसके लिए आपके पास कुछ विशेष गुण होनें आवश्यक है, जो इस प्रकार है –

  • कंप्यूटर हैकिंग
  • विशेष कार्य कौशल
  • इंटरनेट में गति और अनस्टारिंग आदि में निपुणता

ये भी पढ़े: एयर फ़ोर्स में पायलट कैसे बने

योग्यता मानदंड

आयु

अभ्यर्थी की आयु 19 वर्ष से 25 वर्ष के मध्य होनी चाहिए |

शैक्षणिक योग्यता

आवेदकों को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक/स्नातकोत्तर डिग्री की होनी चाहिए |

वैवाहिक स्थिति

आवेदक को अविवाहित होना चाहिए |

चयन प्रक्रिया

अभ्यर्थी का चयन लिखित परीक्षा, साक्षात्कार, मेडिकल परिक्षण तीन प्रक्रियाओ के अंतर्गत किया जाता है |

रॉ एजेंट बनने के लिए बेसिक आवश्यकताए

  • किसी भी प्रकार का आपराधिक रिकॉर्ड होने से आपके आवेदन के निरस्त  होने की संभावना होती है
  • आवेदकों को ड्रग परीक्षण से गुजरना होता है, तथा मादक पदार्थों की आदत नही होनी चाहिये
  • अधिकांश एजेंटों को विदेशों की यात्रा करनी पड़ती है, यात्रा के बिना भी भूमिकाएं होती हैं
  • रॉ में नौकरी प्राप्त करना अत्यंत प्रतिस्पर्धा परिपूर्ण है, आपको दूसरो से हटकर और कुछ करने  का गुण होना चाहिये

ये भी पढ़े: मर्चेंट नेवी में कैसे जाए

आवेदन फार्म से सम्बंधित जानकारी

अनुसंधान और विश्लेषण विंग (रॉ) की कोई वेबसाइट नहीं है, इसलिए उनका एजेंट बनने के लिए आवेदन करना कठिन है, हालांकि, उप क्षेत्र अधिकारी, कैबिनेट सचिवालय, भारत सरकार के रूप में विज्ञापित की गई नौकरियों को आर एंड ए के लिए भर्ती माना जाता है |

रॉ में डायरेक्ट प्रवेश

रॉ में नियुक्ति प्राप्त करनें के लिए  डिप्टी फील्ड ऑफिसर, कैबिनेट सेक्रेटेरिएट , गवर्नमेंट ऑफ़ इंडिया के फॉर्म के माध्यम से,   इसके अतिरिक्त नेशनल  अकादमी  ऑफ़  एडमिनिस्ट्रेशन से  एग्जाम देकर भी अनुसंधान और विश्लेषण स्कंध से जुड़ सकते है, इसके अंतर्गत होनें वाली परीक्षाओं का आयोजन एसएससी द्वारा किया जाता है |

सिविल सर्विसेज एग्जाम द्वारा

रिसर्च एंड एनालिसिस नें  एक नया प्रोग्राम बनाया है,ताकि अधिक से अधिक टैलेंटड छात्र को चनित किया जा सके | लाल बहादुर शास्त्री नेशनल अकादमी ऑफ़ एडमिनिस्ट्रेशन से सिविल सर्विसेज की पढ़ाई कर रहे विद्यार्थी भी रॉ के लिए चुने जाते है, पाठ्यक्रम समाप्त होनें के पश्चात रॉ की टीम कैंपस रिक्रूटमेंट के लिए संस्था में आती है, कुछ साइकोलॉजिकल टेस्ट के बाद कैंडिडेट्स को ट्रेनिंग के लिए रखा जाता है, इस ट्रेनिंग की अवधि एक वर्ष  होती है, अभ्यर्थियों की योग्यता को देखते हुए इन्हे रॉ का हिस्सा बनाया जाता है |

ये भी पढ़े: इंडियन आर्मी में पद और रैंक  

डिफेन्स सर्विसेज के माध्यम से

यदि अभ्यर्थी सिविल सर्विसेज की परिक्षाओं में सफलता नहीं मिल रही है, तो आप डिफेन्स सर्विसेज के माध्यम से रॉ में प्रवेश प्राप्त कर सकते है |

इंटेलिजेंस ब्यूरो के माध्यम से  

इंटेलिजेंस ब्यूरो में SA या ACIO की सीधी भर्ती होती है, इसके माध्यम से आप रॉ में जा सकते हैं |

ऐसे करे तैयारी

  • जनरल नॉलेज, कर्रेंट अफेयर्स, न्यूज़पेपर पर विशेष ध्यान दें, रोचक न्यूज को पॉइंट बनाये, किसी दूसरे के हाथ से बार बार अलग अलग प्रश्नपत्रिका बनाये फिर उसके प्रश्नो को सॉल्व करे, सेल्फ स्टडी पर ज्यादा फोकस करें, प्रश्नावली प्रतियोगिता में सम्मिलित होकर अपना आत्मविश्वास बढ़ाए
  • किताबे पढ़ते समय पॉइंट को मार्क करे, इस परीक्षा की आजतक की सभी प्रश्न पत्रों को एकत्र कर, प्रश्नो का उत्तर निकाले, यदि किसी सवाल का जवाब नहीं मिल रहा है,  तो इंटरनेट की सहायता प्राप्त कर सकते है
  • सेल्फ कॉन्फिडेंस बढ़ाये, किसी के सामने या स्टेज पर बोलनें  की क्षमता बढ़ाये, पॉइंट को पकड़कर बोलनें का अभ्यास करे
  • कोई भी एक विदेशी भाषा सीखें, खासकर अपने देश के शत्रुओं की भाषा को प्राथमिकता दें, इससे भी बेहतर, एक अपेक्षाकृत अस्पष्ट भाषा सीखें

ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए

यहाँ आपको हमनें रॉ एजेंट बननें के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: असिस्टेंट कमांडेंट कैसे बने

ये भी पढ़े: Reasoning को कैसे बनाये आसान

ये भी पढ़े: जॉब असली है या नकली कैसे पहचाने