इंडियन आर्मी में पद और रैंक  

भारतीय सेना में पद और रैंक

भारतीय सेना हमारे देश की रक्षा के लिए सदेव तैयार रहती है, जिस प्रकार किसी कंपनी में अलग-अलग रैंक के अधिकारी, कर्मचारी कार्य करते है, उसी प्रकार भारतीय सेना में पद के अनुसार सभी सैन्यकर्मियों की एक अलग पहचान होती है एवं सभी सैन्यकर्मियों की पोशाक और बैज अलग-अलग होते है, जिसे देखकर यह अनुमान लगाया जा सकता है, कि कौन-सा अधिकारी किस पद पर आसीन है तथा उसकी रैंक क्या है ? आपको इस पेज पर इंडियन आर्मी में पद एवं रैंक का विवरण दे रहे हैं, जिससे आप आसानी से सैन्य अधिकारियों के बारे में पूरी जानकारी प्राप्त कर सकेंगे |

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

ये भी पढ़े: असिस्टेंट कमांडेंट कैसे बने

इंडियन आर्मी में रैंक  (Indian Army Rank)

इंडियन आर्मी में कुल 19 रैंक्स होती हैं, प्रत्येक अधिकारी को उसके पद के अनुरूप एक बैज प्राप्त होता है, जो पद की गरिमा और अधिकारों को दर्शाता है ।

क्रम संख्या रैंक
1. फील्ड मार्शल
2. जनरल
3. लेफ्टिनेंट जनरल
4. मेजर जेनरल
5. ब्रिगेडियर
6. कर्नल
7. लेफ्टिनेंट कर्नल
8. मेजर
9. कैप्टन
10. लेफ्टिनेंट
11. सूबेदार मेजर
12. सूबेदार
13. नायब सूबेदार
14. हवलदार
15. नायक
16. लांस नायक
17. सिपाही

ये भी पढ़े: मर्चेंट नेवी में कैसे जाए

इंडियन आर्मी पद (Designation in Indian Army)

1.फील्ड मार्शल

फील्ड मार्शल रैंक सेना मे सर्वोच्च पद होता था| जिस को वर्तमान मे सेना ने समाप्त कर दिया है |

2.जनरल

वर्तमान मे जनरल भारत की सेना का सर्वोच्च रैंक है |

3.लेफ्टिनेंट जनरल

यहाँ भारतीय मे दूसरा सर्वोच्च पद होता  है |

4.मेजर जनरल

भारतीय सेना मे मेजर जनरल का पद भारतीय जल सेना के रियर एड्मिरल और भारतीय वायु सेना के एयर वाइस मार्शल की रैंक के बराबर होता है |

ये भी पढ़े: पुलिस कांस्टेबल कैसे बने

5.ब्रिगेडियर

ब्रिगड़िएर भारतीय सेना का एक उच्च रैंक होती है |

6.कर्नल

भारतीय सेना मे कर्नल रैंक ब्रिगेडियर से नीचे और लेफ्टिनेंट कर्नल से उच्च रैंक होती है |

7.लेफ्टिनेंट कर्नल

भारतीय सेना मे लेफ्टिनेंट कर्नल के रैंक का पद चिन्ह में  अशोक चिन्ह और एक  5 सितारा के बीच अशोक चिन्ह बना होता है |

8.मेजर

मेजर एक कमीशन अधिकारी होता है , जिस को मैनेजमेंट और लीडरशिप का ट्रेनिंग प्राप्त होती है,  वह हर मिशन का एक खास हिस्सा होता है |

ये भी पढ़े: एयर फ़ोर्स में पायलट कैसे बने

9.कैप्टन

कैप्टन भी मेजर की भांति कमीशन अधिकारी होता है, जिस की रैंक मेजर से नीचे होती है |

10.लेफ्टिनेंट

कमीशन सेवा में 13 वर्ष रहनें के पश्चात समय सीमा के आधार पर यह पद प्राप्त होता है |

11.सूबेदार मेजर

सबेदार मेजर का पद  जूनियर  कमीशंड  अफसर  मे सब से उच्च होता है, इन के पदचिन्ह मे अशोक चिन्ह के साथ 2 लाल पट्टी के बीच एक पीली पट्टी होती है |

12.सूबेदार

हर बटालियन मे कई सूबेदार होते है, सूबेदार भी एक जूनियर कमीशंड  ऑफिसर होता है |

ये भी पढ़े: भारतीय तट रक्षक कैसे बने

13.नायब सूबेदार

यह पद प्रमोशन के आधार पर प्राप्त होता है |

14.हवलदार

नाइब सूबेदार के नीचे का रैंक हवलदार, नायक, लांस नायक और सिपाही होते है |

15.नायक

नायक की बैज पर दो पट्टी होती हैं ।

16.लांस नायक

नायक या लांस दफादार के वर्दी पर दो धारियों वाली पट्टी का निशान होता है, इनकी सेवानिवृति की आयु 49 वर्ष या 24 वर्ष की सेवा (जो भी पहले हो जाय) के बाद निर्धारित है |

17.सिपाही

सिपाही के वर्दी पर कोई निशान नहीं होता है| सिपाही की सेवानिवृति की आयु 42 वर्ष या 19 वर्ष की सेवा (जो भी पहले हो जाय) के बाद निर्धारित है |

ये भी पढ़े: आईपीएस ऑफिसर कैसे बने

यहाँ आपको हमनें इंडियन आर्मी में पद और रैंक के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: Current Affairs की तैयारी कैसे करे

ये भी पढ़े: कैसे भरे सरकारी नौकरियों के ऑनलाइन फॉर्म

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी मिलेगी जरूर अगर आपका करेंट अफेयर्स होगा मजबूत