कैबिनेट मंत्री क्या होता है

कैबिनेट मंत्री (Cabinet Minister)

Table of Contents

भारत में सरकार के गठन के पश्चात मंत्रियों के विभाग और पद का निर्धारण होता हैं, इन पदों में एक पद कैबिनेट मंत्री का होता है, यह सरकार के योग्य और शक्तिशाली नेताओं का समूह होता है, इनकी संख्या 12 से 25 तक हो सकती है, यह नेता राज्यो की योजना बनाते हैं, और संचालित करते है, यह एक विभाग के प्रमुख होते है, इनके आधीन अन्य मंत्री जैसे राज्य मंत्री इत्यादि आते हैं, यह कैबिनेट की मीटिंग में भाग लेते है, उस मीटिंग में अपनी योजना को रखते है |  कैबिनेट मंत्री क्या होते है ? कैबिनेट मंत्रियो की शैक्षिक योग्यता के बारें में जानकारी प्रदान कर  रहे है |

ये भी पढ़े: कब लगता है देश और राज्य में राष्ट्रपति का शासन

ये भी पढ़े: लोकसभा का चुनाव कैसे होता है

भारतीय संसदीय व्यवस्था के अंतर्गत सरकार तीन प्रकार के मंत्रियों से मिलकर बनी होती है, जो इस प्रकार है –

1.कैबिनेट मंत्री

2.राज्य मंत्री

3.उप मंत्री

इनमें सबसे सर्वोच्च कैबिनेट मंत्री होता है, यह एक विभाग का प्रमुख होता है, यह कैबिनेट की सभी मीटिंग में अनिवार्य रूप से भाग लेता है, मीटिंग में होने वाले निर्णय में वह अपनी सलाह और उसके अन्य विकल्प को बताता हैं, सभी कैबिनेट मंत्रियों की स्वीकृति और प्रधानमंत्री की स्वीकृति के पश्चात वह निर्णय प्रभावी हो जाता है, विभाग प्रमुख होनें के कारण वह संसद में पूछे गए प्रश्नो का उत्तर देता है, किसी भी विषय की जानकारी जो देश हित में हो उसका उल्लेख संसद में करता है- कैबिनेट मंत्री उदाहारण- रक्षा मंत्री, वित्त मंत्री, विदेश मंत्री इत्यादि है, यह अपनें- अपनें विभाग के कार्य प्रगति की रिपोर्ट कैबिनेट मीटिंग में प्रधानमत्रीं के समक्ष प्रस्तुत करते है |

ये भी पढ़े: विधायक कैसे बने

देश के कैबिनेट मंत्रियों की शैक्षिक योग्यता

कैबिनेट मंत्री इस प्रकार है |

1.नाम-प्रधानमंत्री नरेन्द्र दामोदरदास मोदी

विभाग- कार्मिक, लोक शिकायत एवं पेंशन, परमाणु ऊर्जा विभाग, अंतरिक्ष विभाग, सभी महत्‍वपूर्ण नीतिगत मामले, तथा किसी अन्‍य मंत्री को नहीं दिये गए अन्‍य सभी पोर्टफोलियो |

शैक्षिक योग्यता- गुजरात विश्वविद्यालय से राजनीति विज्ञान में स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त |

2.नाम-राजनाथ सिंह

विभाग- गृह मंत्रालय |

शैक्षिक योग्यता- गोरखपुर विश्वविद्यालय से प्रथम क्ष्रेणी में भौतिक शास्त्र में आचार्य की उपाधि |

3.नाम-सुषमा स्‍वराज

विभाग- विदेश मंत्रालय, प्रवासी भारतीय मामले |

शैक्षिक योग्यता- एस॰डी॰ कालेज अम्बाला छावनी से बी॰ए॰ तथा पंजाब विश्वविद्यालय चंडीगढ़ से कानून की डिग्री |

ये भी पढ़े: राज्यपाल की नियुक्ति कैसे होती है,कौन करता है

4.नाम-अरुण जेटली

विभाग- वित्त, कॉरर्पोरेट मामले, सूचना एवं प्रसारण |

शैक्षिक योग्यता- श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स, नई दिल्ली से कॉमर्स में स्नातक, दिल्ली विश्‍वविद्यालय के विधि संकाय से विधि की डिग्री  |

5.नाम-एम वेंकैया नायडू

विभाग- शहरी विकास, आवास तथा शहरी गरीबी उपशमन, संसदीय मामले |

शैक्षिक योग्यता- राजनयिक अध्ययन में स्नातक ,  आन्ध्र विश्वविद्यालय, विशाखापत्तनम से कानून में स्नातक की डिग्री |

6.नाम-नितिन जयराम गडकरी

विभाग- सड़क परिवहन तथा राजमार्ग, शिपिंग |

शैक्षिक योग्यता-  M.Com. & L.L.B. from नागपुर यूनिवर्सिटी |

7.नाम-सुरेश प्रभु

शैक्षिक योग्यता- Bachelor in Commerce with Honours |

8.नाम-डी.वी. सदानंद गौड़ा

शैक्षिक योग्यता- विज्ञान में स्नातक |

ये भी पढ़े: भारत में महिलाओ के अधिकार 

9.नाम-उमा भारती

विभाग- जल संसाधन, नदी विकास तथा गंगा संरक्षण |

शैक्षिक योग्यता- छठी कक्षा तक |

10.नाम-डॉ. नजमा ए. हेपतुल्‍ला

विभाग- अल्‍पसंख्‍यक मामले |

शैक्षिक योग्यता- एमएससी, हृदय रोग विज्ञान में पीएचडी |

11.नाम-रामविलास पासवान

विभाग- उपभोक्‍ता मामले, खाद्य एवं सार्वजनिक वितरण |

शैक्षिक योग्यता- विधि स्नातक , M.A |

ये भी पढ़े: राज्य सभा के सांसद कैसे बने

12.नाम-कलराज मिश्र

विभाग- सूक्ष्‍म, लघु तथा मझौले उद्योग |

शैक्षिक योग्यता- M.A. degree |

13.नाम-मेंनका संजय गांधी

विभाग- महिला एवं बाल विकास |

शैक्षिक योग्यता- I.S.C. |

14.नाम-अनंत कुमार

विभाग- रसायन एवं उर्वरक |

शैक्षिक योग्यता- Arts (B.A), bachelors in law (L.L.B) |

15.नाम-रविशंकर प्रसाद

विभाग- संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी |

शैक्षिक योग्यता- बी०ए०(ऑनर्स), एम०ए०(राजनीति विज्ञान) तथा एलएल०बी० |

16.नाम-जगत प्रकाश नड्डा

विभाग- स्वास्थ्य और परिवार कल्याण |

शैक्षिक योग्यता- B.A., LL.B. from Himachal University |

17.नाम-अशोक गजपति राजू पूसापति

विभाग- नागरिक उड्डयन |

शैक्षिक योग्यता- Arts and Science , V.S. Krishna College, Visakhapatnam. |

18.नाम-अनंत गीते

विभाग- भारी उद्योग तथा सार्वजनिक उद्यम |

शैक्षिक योग्यता- Matriculate Educated at Mumbai Board (Formerly Pune Board), Ratnagiri (Maharashtra) |

ये भी पढ़े: जानिये क्या है भारत के नागरिक के मौलिक अधिकार !

19.नाम-हरसिमरत कौर

विभाग- बादल खाद्य प्रसंस्‍करण उद्योग |

शैक्षिक योग्यता- Diploma in textile design |

20.नाम-नरेंद्र सिंह तोमर

विभाग- खनन, इस्‍पात |

शैक्षिक योग्यता- स्नातक  |

21.नाम-चौधरी बीरेन्द्र सिंह

विभाग- ग्रामीण विकास, पंचायती राज, पेयजल औऱ स्वच्छता |

शैक्षिक योग्यता- स्नातक , एलएल०बी० |

22.नाम-जुएल ओराम

विभाग- जनजातीय मामले |

शैक्षिक योग्यता- Diploma in Electrical Engineering Educated at U.G.I.E., Rourkela (Orissa) |

23.नाम-राधा मोहन सिंह

विभाग- कृषि |

शैक्षिक योग्यता- B.A. Educated at M.S. College, Bihar University, Motihari, Bihar |

24.नाम-थावरचंद गहलोत

विभाग- सामाजिक न्‍याय तथा अधिकारिता  |

शैक्षिक योग्यता- B.A. Educated at Vikram University, Ujjain, Madhya Pradesh |

25.नाम- डॉ. हर्षवर्धन

विभाग- विज्ञान औऱ प्रौद्योगिकी, भू विज्ञान |

शैक्षिक योग्यता- आयुर्विज्ञान तथा शल्य-चिकित्सा स्नातक, ओटोलर्यनोलोजी में शल्यविज्ञान निष्णात |

ये भी पढ़े: संविधान किसे कहते है, लिखित संविधान का क्या अर्थ है ?

यहाँ पर हमनें आपको कैबिनेट मंत्री और उनकी शैक्षिक योग्यता के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े:  सुप्रीम कोर्ट के जज कैसे बनते हैं

ये भी पढ़े: क्या है प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना

ये भी पढ़े: भारतीय संविधान की 11 वीं अनुसूची में शामिल विषयो की सूची