पीओके (POK) क्या है?

पीओके (POK) के विषय में जानकारी

भारत को स्वतंत्रता 15 अगस्त 1947 को मिली थी | इस स्वतंत्रता के साथ ही भारत को दो भागों में विभाजित कर दिया जिसका दुःख भारत के नागरिकों को आज भी है, यह विभाजन धर्म के आधार पर किया गया है, जिसमें लाखों निर्दोष नागरिकों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा था | इस विभाजन का दर्द आज भी पाकिस्तान दे रहा है | पाकिस्तान ने भारत का लगभग आधा कश्मीर अपने कब्जे में कर रखा है, जिसे पीओके के नाम से जाना जाता है, इस पेज पर पीओके (POK) क्या है, लाइन ऑफ़ कंट्रोल (LOC) कैसे बनी के विषय में जानकारी दी जा रही है |

ये भी पढ़ें: जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल 2019 | राज्य पुनर्गठन कैसे होता है?

ये भी पढ़ें: धारा 370 क्या है

पीओके (POK) का फुल फॉर्म

पीओके (POK) का फुल फॉर्म “Pakistan-occupied Kashmir है, हिंदी भाषा में इसे पाक अधिकृत कश्मीर कहा जाता है |

ये भी पढ़ें: आर्टिकल 35A क्या है ?

पीओके (POK) क्या है?

स्वतंत्रता के समय भारत की सभी रियासतों को भारत या पाकिस्तान अथवा स्वतंत्र रहने की छूट प्रदान की गयी | उस समय कश्मीर के राजा हरी सिंह थे, वह स्वतंत्र रहना चाहते थे इसलिए वह भारत या पाकिस्तान से मिलना नहीं चाहते थे | पाकिस्तान की बात न मानने के कारण कश्मीर पर कबायली हमलावर के रूप में पाकिस्तानी सेना ने आक्रमण कर दिया, जिसका मुकाबला करने के लिए राजा हरी सिंह ने प्रयास किया लेकिन वह असफल रहे, इसके बाद उन्होंने भारत में विलय पत्र पर हस्ताक्षर किया जिसके बाद भारत ने अपनी सेना कश्मीर में भेज कर नियंत्रण किया | इस समय तक पाकिस्तानी सेना आधे कश्मीर के अंदर आ गयी थी | भारतीय सेना उनका मुकाबला कर रही थी, लेकिन संयुक्त राष्ट्र संघ में इस मुद्दे को ले जाया गया जिसके बाद यथास्थिति बनाये रखने का आदेश हुआ जिससे जो सेना जहाँ पर थी वहीं पर रुक गयी | इस प्रकार से कश्मीर का आधा भाग पाकिस्तान के कब्जे में हो गया इस कश्मीर को ही पीओके (POK) या पाक अधिकृत कश्मीर कहा जाता है |

 ये भी पढ़ें: धारा 144 का मतलब क्या है?

लाइन ऑफ़ कंट्रोल (LOC) कैसे बनी?

कश्मीर का मुद्दा संयुक्त राष्ट्र में जाने के बाद भारत और पाकिस्तान की सेनाओं को अपने- अपने स्थान पर रुक जाने का आदेश दिया गया और यथास्थिति बनाये रखने और संयम रखने को कहा गया | इस प्रकार से जिस स्थान पर सेनाएं थी उसी स्थान पर एक रेखा का निर्धारण कर दिया गया | इस रेखा को ही लाइन ऑफ़ कंट्रोल (LOC) कहा गया है | इस एलओसी के एक तरफ भारत का नियंत्रण है और दूसरी तरफ पाकिस्तान का नियंत्रण है |

ये भी पढ़ें: UAPA Bill क्या है?

यहाँ पर हमनें पीओके (POK) क्या है, लाइन ऑफ़ कंट्रोल (LOC) कैसे बनी के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़ें: राज्य में राष्ट्रपति शासन कैसे लगता है?

ये भी पढ़ें: अविश्वास प्रस्ताव और विश्वास मत क्या है?

ये भी पढ़ें: एक देश एक राशन कार्ड योजना क्या है?

ये भी पढ़ें: एक देश एक चुनाव का मतलब क्या है?