जीएनपी (GNP) और एनएनपी (NNP) क्या है?

जीएनपी (GNP) और  एनएनपी (NNP) के विषय में जानकारी

किसी भी देश की अर्थव्यवस्था की माप करने से उस देश की उन्नति और अवनति का पता लगाया जाता है | इसको पता करने के लिए महान अर्थशास्त्रीयों ने कई प्रकार के नियम बना कर रखे है, जिसके आधार पर देश की आर्थिक स्थिति का पता लगाया जा सकता है | अर्थव्यवस्था को गति देने में केंद्र सरकार की नीतियां और भारतीय रिजर्व बैंक के द्वारा उठाये गए कदम महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है, भारतीय अर्थव्यवस्था को समझने में जीएनपी (GNP) और  एनएनपी (NNP) का भी बहुत ही अधिक योगदान रहता है, इस पेज पर जीएनपी (GNP) और एनएनपी (NNP) क्या है और इसके फुल फॉर्म और अंतर के विषय में बताया जा रहा है |

ये भी पढ़ें: जीडीपी (GDP) क्या होता है?

जीएनपी फुल फॉर्म क्या है (Full Form)?

GNP का फुल फॉर्म “Gross National Product” होता है, हिंदी भाषा में इसे “सकल राष्ट्रीय उत्पाद” के नाम से जाना जाता है |

ये भी पढ़ें: मुद्रास्फीति (Inflation) क्या होता है?

जीएनपी क्या है (What is GNP) ?

किसी भी देश में एक निश्चित समय अवधि में या एक वित्तीय वर्ष में देश के नागरिकों द्वारा उत्पादित वस्तुओं और सेवाओं के अंतिम मौद्रिक मूल्य को सकल राष्ट्रीय उत्पाद या “Gross National Product” या जीएनपी (GNP) कहा जाता है |

इसको समझने के लिए जीडीपी (GDP) को भी समझना आवश्यक है, जीडीपी का अर्थ है सकल घरेलू उत्पाद इसमें किसी भी देश की सीमा के अंदर एक वर्ष में उत्पादित सभी वस्तुओं और सेवाओं के अंतिम मौद्रिक मूल्य को जीडीपी कहा जाता है | जीडीपी में देश की कंपनियों और विदेशी कंपनियों द्वारा उत्पादित वस्तुओं को शामिल किया जाता है | देश की कंपनियों से जो लाभ होता है वह तो देश के अंदर रहता है, लेकिन  विदेशी कंपनियों को जो लाभ होता है वह देश के बाहर चला जाता है | जीडीपी में इन दोनों लाभों को जोड़ा जाता है |

परन्तु जीएनपी (GNP) में कोई भारतीय व्यक्ति विदेश में रह कर व्यापार या जॉब करता है, जिसके बाद वह अपने लाभ को भारत में भेजता है, इस लाभ को जीएनपी (GNP) में जोड़ा जाता है | इसके विपरीत यदि विदेशी कंपनी या कोई विदेशी व्यक्ति जो भारत में व्यापार या जॉब करके अपने लाभ को भारत से बाहर भेजता है, तो इस लाभ को जीएनपी (GNP) में घटाया जाता है |

ये भी पढ़े: बजट क्या है (Budget Kya Hai)

एनएनपी (NNP) फुल फॉर्म

एनएनपी (NNP) फुल फॉर्म “Net National Product” हिंदी भाषा में इसे “शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद” के नाम से जाना जाता है |

ये भी पढ़े: सेंसेक्स और निफ्टी क्या होता है?

एनएनपी क्या है (What is NNP)?

सकल राष्ट्रीय उत्पाद अथार्त जीएनपी (GNP) से लागत के मूल्य में होने वाले मूल्यह्रास को हटा देने के बाद जो शेष बचता है, उसे “शुद्ध राष्ट्रीय उत्पाद” या एनएनपी (NNP) कहा जाता है |

माना कि भारत की कोई भी कंपनी विदेश में अपना व्यापार करती है, उसमें एक वित्तीय वर्ष में उसकी लागत के मूल्य में जितनी कमी आती है, उस कमी को जीएनपी (GNP) से घटा दिया जाता है, जैसे कि किसी उत्पादन के लिए कोई भी मशीन या यंत्र ख़रीदा जाता है, एक वर्ष में उसकी कीमत में जितनी कमी आएगी वह एनएनपी (NNP) में घटाया जाता है |

अथार्त यदि किसी भी यंत्र या मशीन की कीमत 100 रूपये है, एक वर्ष के बाद इसकी कीमत 80 रूपये ही रह जाती है, तो जीएनपी (GNP) में 20 रुपये की कटौती की जाएगी | इसप्रकार से जो लाभ प्राप्त होगा उसे एनएनपी (NNP) कहा जायेगा |

ये भी पढ़ें: शेयर मार्केट क्या है ये कैसे काम करता है

जीएनपी (GNP) और  एनएनपी (NNP) में अंतर (Difference)

जीएनपी (GNP) और  एनएनपी (NNP) में अंतर इस प्रकार है-

जीएनपी (GNP) में देश या विदेश से अर्जित आय को जोड़ा जाता है, जबकि एनएनपी (NNP) में लगने वाली लागत में होने वाली कमी को घटाया जाता है |

जीएनपी (GNP) को “Gross National Product” और एनएनपी (NNP) को “Net National Product” कहा जाता है |

ये भी पढ़ें: डिजिटल टैक्स (Digital Tax) क्या है

दोनों के बीच का संबंध

NNP = जीएनपी (GNP) – मूल्यह्रास (Depreciation)

ये भी पढ़ें: वायदा कमोडिटी बाजार कारोबार में कैसे पाए सफलता

यहाँ पर हमनें जीएनपी (GNP) और एनएनपी (NNP) के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: विश्व मे कितने देश है, इनकी राजधानी एवं मुद्रा

ये भी पढ़ें: डीमैट अकाउंट क्या होता है

ये भी पढ़े: NFC क्या है एनएफसी कैसे काम करता है ?