फास्टैग ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे

फास्टैग ऑनलाइन कैसे ख़रीदे (How To Buy Fast Tag Online)

इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम या फास्टैग स्कीम भारत में सबसे पहले वर्ष 2014 में शुरू की गई थी, जिसे अब धीरे-धीरे पूरे देश के टोल प्लाजाओं पर लागू किया जा रहा है| भारत सरकार नें सभी प्राइवेट और कमर्शियल दोनों प्रकार के वाहनों के लिए फास्टैग 1 दिसंबर से अनिवार्य कर दिया था, परन्तु किन्ही कारणों से इसे पूर्ण रूप से लागू करनें की तारीख को बढ़ाकर 15 दिसंबर कर दिया है| यदि 15 दिसंबर तक कोई चालक अपनें वाहन में फास्टैग नहीं लगाता है, तो उसे दो गुना टोल देना होगा। यदि आप किसी टोल पर स्कैनर में कोई खराबी है, और फास्टैग को स्कैन नहीं कर पा रहा है, तो वाहन चालक को किसी प्रकार का शुल्क नहीं देना होगा, अर्थात वह फ्री में ही टोल से गुजर सकेगा। टोल प्लाजाओं पर टोल कलेक्शन सिस्टम से होने वाली समस्याओं के निराकरण के लिए राष्ट्रीय हाईवेज अथॉरिटी ऑफ इंडिया द्वारा भारत में इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन सिस्टम शुरू किया गया है| फास्टैग (Fastag) ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे ? इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है|

ये भी पढ़े: मोटर व्हीकल एक्ट क्या है?

 फास्टैग से सम्बंधित जानकारी (Information About Fast Tag)

हमें अधिकाशतः राजमार्ग पर जाम का सामना करना पड़ता है, जिसके कारण हम सही समय पर अपने गंतव्य तक पहुचनें में असफल हो जाते है| नौकरी करनें वाले लोगो के लिए यह एक विकराल समस्या है, इस समस्या से निजात दिलानें के लिए ‘राष्ट्रीय हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया’ द्वारा भारत में ‘इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन’ (ETC) सिस्टम शुरू किया गया है| फास्टैग सिस्टम की सहायता से आपको टोल प्लाजा में टोल टैक्स देने के दौरान होने वाली परेशानियों से निजात मिल सकेगी, इसके साथ आप टोल प्लाजा में बिना रूके अपना टोल टैक्स दें सकेंगे| इसके लिए आपको अपने वाहन पर फास्टैग लगाना होगा|

फास्टैग इलेक्ट्रॉनिक टोल कलेक्शन तकनीक है, इसमें रेडियो फ्रीक्वेंसी आइडेंटिफिकेशन (RFID) का प्रयोग होता है| इस टैग को वाहन के विंडस्क्रीन पर लगाया जाता है, जैसे ही आपकी गाड़ी टोल प्लाजा के पास आती है, तो टोल प्लाजा पर लगा सेंसर आपके वाहन के विंडस्क्रीन पर लगे फास्टैग को ट्रैक कर लेता है| इसके बाद आपके फास्टटैग अकाउंट से उस टोल प्लाजा पर लगने वाला शुल्क कट जाता है| इस तरह आप टोल प्लाजा पर बिना रुके शुल्क का भुगतान कर देते हैं| वाहन में लगा यह टैग आपके प्रीपेड खाते के सक्रिय होते ही अपना काम शुरू कर देगा| जब आपके फास्टैग अकाउंट की राशि खत्म हो जाएगी, तो आपको उसे फिर से रिचार्ज कराना पड़ेगा|

ये भी पढ़े: वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) क्या होता है

फास्टैग की वैधता (Validity Of Fast Tag)

फास्टैग की वैधता 5 वर्ष तक की होगी, अर्थात पांच वर्ष बाद आपको नया फास्टैग अपनी गाड़ी पर लगवाना होगा|

पिछले वर्षो की अपेक्षा लाभ (Profit Over Previous Years)

सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने टोल प्लाजा में टोल टैक्स देने के कारण लगने वाली गाड़ियों की लम्बी लाइन और पैसे के लेन-देन की समस्या को हल करने के लिए फास्टैग सिस्टम को देश के सभी टोल प्लाजाओं पर शुरू किया है| फास्टैग से आपका समय बचने के साथ-साथ आपके पेट्रोल या डीजल की भी बचत होगी|

वर्ष 2016-17 के बीच फास्टैग का इस्तेमाल करने वाले लोगों को सभी टोल भुगतानों पर 10% का कैशबैक मिला|  वहीं 2017-2018 के बीच 7.5 %, कैश बैक मिला| वर्ष 2018-2019 के बीच 5 % कैश बैक और 2019-2020 तक 2.5 %  कैश बैक मिलेगा| फास्टैग का उपयोग करनें पर यह कैश बैक एक सप्ताह के भीतर आपके फास्टैग अकाउंट में आ जाएगा| अभी तक फास्टैग केवल भारत के कुछ शहरों के टोल प्लाजा पर ही लागू था, इसके सफल होने के बाद सड़क एवं परिवहन मंत्रालय द्वारा इसे पूरे देश में लागू कर दिया है|

ये भी पढ़े: पेट्रोल-डीजल के दाम कैसे तय होते है?

यहाँ से ख़रीदे फास्टैग (Purchase Fastag From Here)

अपने वाहन के लिए फास्टैग खरीदना काफी आसान है| नई गाड़ी खरीदते समय ही डीलर से आप फास्टैग प्राप्त कर सकते हैं. वहीं, पुरानी वाहनों के लिए इसे नेशनल हाईवे के प्वाइंट ऑफ सेल से खरीदा जा सकता है| इसके अलावा फास्टैग को प्राइवेट सेक्टर के बैंकों से भी खरीद सकते हैं| इनका टाइअप नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया से होता है| इनमें सिंडिकेट बैंक, एक्सिस बैंक, आईडीएफसी बैंक, एचडीएफसी बैंक, एसबीआई बैंक, और आईसीआई  बैंक से प्राप्त कर सकते है. आप चाहें तो Paytm से भी फास्टैग खरीद सकते हैं|

  • भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण की ओर से संचालित टोल प्लाजा।
  • एसबीआई, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई समेत कई बैंक।
  • ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पेटीएम, अमेजन डॉट कॉम।
  • इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन, भारत पेट्रोलियम, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम के पेट्रोल पंप।
  • नेशनल हाईवे अथॉरिटी की माई फास्ट ऐप।

ये भी पढ़े: नेट बैंकिंग मोबाइल बैंकिंग कैसे करे

फास्टैग खरीदने के लिए आपको कुछ दस्तावेज देने होंगे जो इस प्रकार है-  

  • गाड़ी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट।
  • गाड़ी मालिक की पासपोर्ट साइज फोटो।
  • गाड़ी मालिक का केवाईसी डॉक्यूमेंट। जैसे- आईडी प्रूफ, एड्रेस प्रूफ।
  • फास्ट टैग खरीदते समय इन सभी दस्तावेजों की ऑरिजनल कॉपी जरूर साथ रखें।

फ़ास्टैग डिपाजिट फीस एवं टैग कलर  (Deposit Fees & Fastag Colours)

बैंकों द्वारा फ़ास्ट टैग में शामिल होने की फीस के रूप में रु 100 चार्ज किया जाता है। इसके बाद वाहनों के प्रकार के अनुसार अलग-अलग रंग के फ़ास्ट टैग जारी करने लिए रु 200 से रु 500 तक टैग डिपाजिट फीस के रूप में लिया जाता है। जो इस प्रकार  हैं –

ये भी पढ़े: भारत स्टेज 4 (BS-4) और भारत स्टेज 6 (BS-6) क्या है

वाहन

टैग कलर

डिपाजिट फीस रु०  

कार / जीपी / वैन

वायलेट

200

मिनी लाइट कमर्शियल व्हीकल

वायलेट

200

लाइट कमर्शियल व्हीकल / मिनी बस

ऑरेंज

300

बस 3 एक्सल

पीला

400

ट्रक 3 एक्सल

पीला

500

ट्रेक्टर / ट्रेक्टर विथ ट्रेलर/ ट्रक 4/5/6 एक्सल

पिंक

500

बस 2 एक्सल/ट्रक 2एक्सल

ग्रीन

400

ट्रक 7 एक्सल और उससे अधिक एक्सल

नीला

500

अर्थ मूविंग / हैवी कंस्ट्रक्शन मशीनरी

ब्लैक

500

ये भी पढ़े: इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) क्या है ?

फास्टैग ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन कैसे करे (Fastag Online Registration )

फास्टैग को किसी भी प्वाइंट ऑफ सेल (POS) लोकेशन पर जाकर बैंक से ऑफलाइन खरीदा जा सकता है| इसके लिए उस बैंक में आपका पहले से बैंक एकाउंट होना आवश्यक नहीं है। लंबी कतारों में लगने और समय बचाने के लिए इसके लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना आसान है| हालांकि, फास्टैग आवेदन करने की प्रक्रिया विभिन्न बैंकों में थोड़ी अलग होती है|

सभी प्राइवेट बैंक और एसबीआई द्वारा अपनी-अपनी वेबसाइट पर फास्‍टैग खरीदने का ऑनलाइन ऑप्‍शन है। जब आप इस लिंक पर अप्‍लाई करते हैं, तो आप से आपके अलावा आपके वाहन की आरसी ( रजिस्‍ट्रेशन सर्टिफिकेट) और ड्राइविंग लाइसेंस की फोटो भी अपलोड करनी होगी। डॉक्‍युमेंट और डिटेल अपलोड करने के एक से दो दिन में आपके घर पर फास्‍टैग आ जाएगा, जिसे आप अपनी गाड़ी के शीशे पर लगाकर टोल प्‍लाजा पर बिना रुके निकल सकते हैं। बैंकों की ओर से कोई डिलीवरी चार्ज नहीं लिया जा रहा है।

ये भी पढ़े: ऑनलाइन मुकदमा कैसे दर्ज कराएं 

बैंक से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया (Registration Process)

हम आपको बैंक द्वारा फास्टैग आवेदन प्रक्रिया के बारें में स्टेप बाई स्टेप बता रहे है, जिसकी सहायता से आप आसानी से ऑनलाइन अप्लाई कर सकते है| आप फास्टैग सिंडिकेट बैंक, एक्सिस बैंक, आईडीएफसी बैंक, एचडीएफसी बैंक, एसबीआई बैंक, और आईसीआई  बैंक में किसी भी बैंक के माध्यम से प्राप्त कर सकते है|

एचडीएफसी बैंक से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया (Registration Process By HDFC Bank)

1.सबसे पहले आप गूगल पर fastag लिखकर इंटर करे

2.इंटर करनें के बाद आपको कई बैंकों के विकल्प दिखेंगे, आप अपनी इच्छानुसार बैंक का चयन करे 

ये भी पढ़े: ऑनलाइन शिकायत कैसे दर्ज करे

3.जैसे की आपने HDFC Bank का आप्शन सेलेक्ट किया 

 

4. यहाँ आप Apply Now पर क्लिक करे

5. यदि आपके पास इस बैंक में एकाउंट है, तो YES पर क्लिक करते ही आपके सामने एक फार्म खुलेगा जिसमें आपको सभी डिटेल्स भरनी होंगी, जैसे ही सबमिट करेंगे तो आपके मोबाइल पर कस्टमर आईडी आएगी|   

ये भी पढ़े: Online FIR कैसे दर्ज करे   

6.कस्टमर आईडी भरनें के बाद आपके मोबाइल पर OTP आयेगा, OTP सबमिट करे  

7.इसके बाद आपके सामनें एक न्य पेज खुल जायेगा, जिसमें आपको वाहन का प्रकार का चयन करना होगा 

8.वाहन प्रकार का चयन करते ही आपके एकाउंट की डिटेल शो होगी

9.इसके बाद आप जिस स्थान से अप्लाई कर रहे है, उससे सम्बंधित जानकारी अंकित करनी होगी 

ये भी पढ़े: ड्राइविंग लाइसेंस (Driving License) ऑनलाइन अप्लाई और चेक कैसे करें

10. यहाँ आप फार्म में सभी डिटेल्स भरे और next पर क्लिक करे 

11. यहाँ आपको Upload Document पर क्लिक करना होगा, यहाँ आपको अपने वाहन की RC और अन्य मांगे गये Documents Upload करना होगा|

12. यहाँ आपके द्वारा भरी गयी सभी डिटेल्स दिखेंगी, जो आपने फार्म में अंकित की थी| सभी डिटेल्स चेक करनें के बाद Generate Confirmation Code पर क्लिक करे, आपके मोबाइल पर एक कोड आयेगा जिसे आपको इंटर करना होगा|

13.कोड इंटर करते ही आपका Fastag Online Apply Process पूरा हो गया|

14.इसके पश्चात बैंक द्वारा आपके डाक्यूमेंट्स वेरीफाई किये जायेंगे, डाक्यूमेंट्स वेरीफाई होनें के बाद कार्ड आपके Address पर सेंड कर दिया जायेगा| इसमें लगभग दो से तीन दिन का समय लगता है|

ये भी पढ़े: भारत स्टेज 4 (BS-4) और भारत स्टेज 6 (BS-6) क्या है  

पेटीएम का फास्टैग (Paytm Fastag)

पेटीएम ऐप पर फास्टैग को ऑनलाइन खरीद सकते हैं। पेटीएम फास्टैग का प्रयोग करने वाले ग्राहकों को प्रत्येक टोल लेनदेन में 7.5% का कैशबैक मिलेगा। आपके Paytm FASTag बैंक के Wallet  में लिंक किया जायेगा । Paytm FASTag  के Wallet से ही टोल प्लाजा फीस की भुगतान के लिए Paytm FASTag के Wallet में मिनिमम (150+) पैसा होना चाहिए।

Paytm FASTag  कैसे ख़रीदे 

1.आपको पहले पेटीएम की आप को डाऊनलोड करे, और अपने एंड्राइड मोबाइल में और या फिर आप पेटीएम की official वेबसाइट https://paytm.com पर जाएँ । अपने बैंक अकाउंट में जो मोबाइल नंबर लिंक है उसी मोबाइल नंबर और पासवर्ड की से Paytm  Account में लॉग-इन है ।

2. आप Paytm के होम पेज में More‘ पर  जाएँ और ड्रॉप डाउन मेनू में आपको फास्टैग‘ ऑप्शन पर क्लिक करे 

पेटीएम फास्टैग‘ पेज खुल जाएगा| उसमे आपको अपने वाहन का रजिस्ट्रेशन नंबर लिखना है और रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट (RC BOOK) दोनो तरफ से फोटो को अपलोड करना RC BOOK  की फोटो को 2 MB से ज्यादा नहीं होनी चाहिए ।

ये भी पढ़े:

3.अब आपके सामनें एक नई विंडो खुलेगी जिसमें आपको 400 पर क्लिक करना है| 

4.अब आपके सामनें पूरी डिटेल आ जाएगी| आपने जो भी एड्रेस दिया होगा Fastag आपके एड्रेस पे सेंड कर दिया जायेगा| जो आपको दो से तीन दें में मिल जायेगा|   

ये भी पढ़े: PM2.5 और PM10 क्या है

Paytm wallet से ही FASTag को रिचार्ज 

आपको अपने Paytm wallet में पैसे add करना होगा । इसके बाद अपने FASTag की Paytm wallet से अपने आप एक जो टोल प्लाजा का पेमेंट होगा वो कट जाएगी ( आपको Paytm FASTag में कोई अलग रिचार्ज नहीं करना पड़ेगा)| आपको यह भी ध्यान रखना है, कि Paytm wallet में पैसा add करने बाद 20 मिनट बाद ही आप टोल भुगतान के लिए फास्टैग का इस्तेमाल कर सकते हैं।

एसएमएस द्वारा फ़ास्टैग  (Fastag By SMS)

  • बैंकों द्वारा फ़ास्ट टैग खरीदने के लिए मिस्ड कॉल और एसएमएस की सुविधा भी जारी की गयी है। आईसीआईसीआई बैंक से एसएमएस द्वारा फ़ास्ट टैग बनवाने के लिए 5676766 नंबर पर मेसेज इस प्रकार भेजना होगा
  • – ITOLL (SPACE) PINCODE (SPACE) NAME लिखने के बाद 5676766 पर SEND करना होगा।
  • यदि आपका Pin code 250110 है, और आपका नाम Ram Yadav है। तो आपको मेसेज में लिखना होगा –
  • lTOLL 250110 Ram Yadav और 5676766 नंबर लिखने के बाद send विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  • इसे बाद बैंक के कर्मचारी आपके बताये गए एड्रेस पर आपसे मिल कर फ़ास्ट टैग का आवेदन फॉर्म भरवाएंगे और आवश्यक डाक्यूमेंट्स संलग्न करने के बाद बैंक में सबमिट करेंगे। आवेदन फॉर्म जमा होने के 2-3 दिन के अन्दर फ़ास्ट टैग आपके द्वारा फॉर्म में दर्ज किये गए एड्रेस पर कोरियर द्वारा पहुँच जाएगा|

ये भी पढ़े: कैसे बनवाए Online ID Voter Card

फास्टैग से सम्बंधित समस्याओं हेतु (Fastag Related Problems)

फास्टैग से जुड़ी समस्याएं  जैसे फास्टैग का ठीक से स्कैन ना होना, फास्ट टैग का डैमेज या टूटने पर या फिर अकाउंट में पैसा होने पर टोल नहीं दे पाने जैसी समस्याओं को आप एक फोन कॉल के माध्यम से सुलझा सकते हैं। नेशनल हाईवे ऑथोरिटी के नेशनल हेल्पलाइन नंबर 1033 पर कॉल करके, या फिर हाईवे ऑथोरिटी की वेबसाइट www.ihmcl.com या MyFastTag मोबाइल ऐप के जरिए फास्टैग से जुड़ी अपनी समस्या बता सकते हैं।

यहाँ पर हमनें फास्टैग (Fastag) ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने और खरीदनें के बारें में बताया| यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है| 

ये भी पढ़े: आधार कार्ड कैसे डाउनलोड करें

ये भी पढ़े: कैसे करे उपभोक्ता फोरम में शिकायत दर्ज़ 

ये भी पढ़े: पैन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे