इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कैसे बनें?

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बननें की जानकारी (About Electrical Engineer)

हमारे देश के अधिकांश छात्र इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते है| इसके लिए वह लगन के साथ कठिन परिश्रम भी करते है| इंजीनियरिंग का क्षेत्र बहुत ही विशाल है, जिसमें छात्र अपनी इच्छानुसार ट्रेड का चयन करते है| यदि आप भी इंजीनियरिंग के क्षेत्र में करियर बनाने की इच्छा रखते हैं, तो इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग संभावनाओं और मांग के मामले में सबसे अधिक है, क्योंकि घर से लेकर औद्योगिक और स्पेस एप्लिकेंशस तक लगभग हर क्षेत्र में इलेक्ट्रि‍कल इंजीनियर की आवश्यकता  है| इस बढ़ती मांग से इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के रोजगार की संभावनाएं बढ़ती जा रही है| इलेक्ट्रिकल इंजीनियर (Electrical Engineer) कैसे बनें ? इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है|

ये भी पढ़े: पॉलिटेक्निक क्या है ?

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कैसे बनें?

ADVERTISING

ये भी पढ़े: बीटेक (B.Tech) कैसे करे – योग्यता, फीस

शैक्षिक योग्यता (Qualification)

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर से सम्बन्धित कोर्स करने के लिए छात्र को बारवी (12th) कक्षा विज्ञान वर्ग से पास होना चाहिए, उसके बाद इलेक्ट्रिकल इंजीनियर में आप स्नातक की डिग्री या फिर उससे भी आगे स्नातकोत्तर डिग्री प्राप्त कर सकते हैं|

ये भी पढ़े: डिग्री और डिप्लोमा में क्या अंतर है

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर कैसे बनें (Electrical Engineer Kaise Bane)

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग एक कोर्स है, जिसके अंतर्गत अनेक प्रकार की तकनीकी और वैज्ञानिक चीजो का अध्ययन किया जाता है| वर्तमान समय में तकनिकी और आधुनिक चीजो का प्रयोग निरंतर बढ़ता जा रहा है, जिसके कारण इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की मांग बढ़ती जा रही है| इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के क्षेत्र में प्रमुख रूप से मशीनों की कार्य विधि एवं डिजाइन का निर्वाह किया जाता है| इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के अंतर्गत विद्युत ऊर्जा का उत्पादन, वितरण, संचरण आदि विषयो का अध्ययन किया जाता है|

ये भी पढ़े: सिविल इंजीनियर (Civil Engineer) कैसे बने ? 

ये भी पढ़े: 10वी के बाद करियर कैसे बनाये

10th के बाद इलेक्ट्रिकल इंजीनियर (After High School)

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बननें के लिए 10 वीं कक्षा के बाद में डिप्लोमा और डिग्री करके बन सकते हैं| यदि आप 10वीं कक्षा के बाद ही इंजीनियरिंग के क्षेत्र में आना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको सबसे पहले दसवीं करते ही पॉलिटेक्निक में एडमीशन लेना होगा और पॉलिटेक्निक में आपको इलेक्ट्रिकल शाखा से तीन वर्ष का डिप्लोमा प्राप्त करना होगा|  डिप्लोमा प्राप्त करने के बाद आपको इलेक्ट्रिकल शाखा से डिग्री यानी के 3 साल की बीटेक डिग्री या BE करनी होगी|

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

12th के बाद इलेक्ट्रिकल इंजीनियर (After Intermediate)

दसवीं कक्षा के बाद में आप 3 साल का डिप्लोमा और 3 साल की डिग्री मिलाकर 6 साल की पढ़ाई के बाद इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के रूप में कार्य कर सकते हैं| इतने ही समय में आप 2 साल तक 12 वीं कक्षा करके और 4 साल की डिग्री करके भी इलेक्ट्रिकल इंजीनियर के रूप में कार्य कर सकते है| यह आपके ऊपर निर्भर करता है, कि आप 10 वीं कक्षा करके डिप्लोमा करना चाहते हैं या फिर 12 वीं कक्षा पास करके डिग्री करना चाहते हैं|

ये भी पढ़े: मेडिकल-इंजीनियरिंग के अलावा ये कोर्स दे सकते है रोज़गार

पोस्टग्रेजुएट कोर्सेज (Post Graduation)

इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष है, जो इलेक्ट्रिकल एवं इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में एमटेक (मास्टर ऑफ़ टेक्नोलॉजी) की पोस्टग्रेजुएशन की डिग्री ऑफर करता है| इस कोर्स में एडमीशन लेने से पहले आपके पास उपयुक्त फील्ड में अंडरग्रेजुएट डिग्री होनी चाहिए|

डॉक्टोरल कोर्सेज (Doctoral Courses) 

यह इलेक्ट्रिकल एवं इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में डॉक्टोरल डिग्री या पीएचडी (डॉक्टर ऑफ़ फिलोसोफी की डिग्री) प्राप्त करने के लिए एक 3 वर्ष की अवधि का कोर्स है| यह कोर्स करने के लिए छात्रों के पास किसी उपयुक्त विषय में पोस्टग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए|

ये भी पढ़े: UP ITI Selection Process क्या है

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के लिए कॉलेज (College For Electrical Engenieering)

आप अपने शहर के किसी भी बड़े कॉलेज या विश्वविद्यालय से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग का डिप्लोमा या डिग्री कर सकते हैं, या फिर जिसने भी इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग से डिप्लोमा या डिग्री किया है, आप उसकी राय ले सकते हैं, कि कौन सा कॉलेज या विद्यालय आपके क्षेत्र में अच्छा है, तो आपको सभी सह विद्यालय या कॉलेज से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर सकते हैं| इसके अलावा यहाँ भारत के प्रमुख कॉलेज के नाम दिए गए हैं, जहां से आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग कर सकते हैं|

  • आईआईटी बॉम्बे
  • आईआईटी खड़गपुर
  • आईआईटी कानपुर
  • आईआईटी दिल्ली
  • आईआईटी मद्रास
  • वीआईटी यूनिवर्सिटी
  • मणिपाल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
  • नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी
  • डीवाइ पाटिल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग

ये भी पढ़े: लाइनमैन कैसे बने

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में रोजगार अवसर (Opportunities in Electrical Engineering)

जब आप इलेक्ट्रिकल इंजीनियर का कोर्स पूरा करने के बाद आपको जॉब के लिए बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हो जाते हैं| इलेक्ट्रिकल इंजीनीयरिंग का कोर्स करने के बाद आप सेमीकंडक्टर, नेटवर्किंग, कम्यूनिकेशन नेविगेशन सिस्टम, कंप्यूटर्स एंड डाटा एनालिसिस, इलेक्ट्रिकल एनर्जी,  इलेक्ट्रिकल मशीनरी, पावर प्लांट, रेलवे, सिविल एविएशन, टेलीकम्युनिकेशन, विधुत उत्पादन जैसे कई टेक्नोलॉजी से सम्बंधित क्षेत्रों में आप में भी आप जॉब के लिए कोशिश कर सकते हैं|

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में रिसर्च (Research in Electrical Engineering)

इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग के ग्रेजुएट के लिए इंस्टीट्यूटस और कंपनियां नए क्षेत्रों में रिसर्च के लिए भी निवेश कर रही हैं| इन क्षेत्रों में डिस्ट्रीब्यूटेड ग्रिड कंट्रोल, स्मार्ट ग्रिड, गैर-पारंपरिक उर्जा के स्रोत, समुद्र के अन्दर से तेल और गैस निकालने का कार्य जैसे एनर्जी सेक्टर में काफी रिसर्च प्रोजेक्ट इलेक्ट्रिकल इंजीनियरों को मिल सकते हैं|

डाटा डिजिटाइजेशन सेक्टर में जॉब (Job in Data Digitization Sector)

वर्तमान समय में सरकार और व्यक्ति विशेष डाटा डिजिटाइजेशन और नेटवर्क बढ़ाने पर अधिक ध्यान दे रही हैं| ऐसे में इलेक्ट्रिकल ग्रेजुएट्स को नेटवर्क और संचार के क्षेत्र में जॉब मिलने की संभावनाए सबसे अधिक है| संचार के क्षेत्र में प्रगति के साथ ही निश्चित रूप से ऐसे ढेरों डिजिटल डाटा हैं, जिनके विश्लेषण की जरूरत है, डाटा क्लेक्शन की इन प्रणालियों ने इलेक्ट्रिकल इंजीनियरों के लिए अनेक अवसर खोल दिए हैं|

ये भी पढ़े: कम्प्यूटर एक्सपर्ट कैसे बने

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की सैलरी (Salary)

हमारे देश में एक इलेक्ट्रिकल इंजीनियर की सैलरी लगभग 30 से 40000 हजार रुपये प्रतिमाह मिलती है| इसके साथ ही कार्य के क्षेत्र में अनुभव बढनें के साथ ही वेतन में वृद्धि होती रहती है|

ये भी पढ़े: सी लैंग्वेज ( C Programming Language ) कैसे सीखे

यहाँ पर हमनें इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बननें के बारें में बताया| यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है|

ये भी पढ़े:मेडिकल लैब तकनीशियन कैसे बनें 

ये भी पढ़े: Income Tax अधिकारी कैसे बने

ये भी पढ़े: डिजिटल डिटेक्टिव (Digital Detective) कैसे बनें?

ADVERTISING