पॉलिटेक्निक क्या है ?

पॉलिटेक्निक कोर्स से सम्बंधित जानकारी 

दसवीं और बारहवीं की परीक्षा उत्तीर्ण करनें के बाद टेक्निकल कोर्स में प्रवेश लेने के इच्छुक छात्रों को पॉलिटेक्निक में प्रवेश दिया जाता है, इसके माध्यम से आप किसी एक कार्य में पारंगत किये जाते है, इसमें आपको रोजगार जल्दी प्राप्त हो जाता है , पॉलिटेक्निक में प्रैक्टिकल पर विशेष ध्यान दिया जाता है, जिससे छात्र पूर्ण रूप से अपनी ट्रेड में सफल हो सके और उनका भविष्य सुनिश्चित हो सके, आपको इस पेज पर पॉलिटेक्निक क्या है, उसकी योग्यता,कोर्स के विषय के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान कर रहे है |

ये भी पढ़े: विभिन्न क्षेत्रों में करियर की संभावनाएं

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

पॉलिटेक्निक क्या है ?

वह संस्थान जिसके द्वारा छात्रों को तकनीकी क्षेत्र में तीन वर्षीय डिप्लोमा प्रदान किया जाता है, उसे पॉलिटेक्निक कहा जाता है, पॉलिटेक्निक की राज्य स्तर पर प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है, जिसमे सफल अभ्यर्थियों को रैंक दे दी जाती है, और उसी रैंक के आधार पर उनको कॉलेज का एलॉटमेंट कर दिया जाता है, पॉलिटेक्निक की परीक्षा के द्वारा छात्रों को विभिन्न कोर्सों में प्रवेश प्रदान किया जाता है, इन कोर्सों की योग्यता हाईस्कूल से लेकर स्नातक तक होती है, छात्र अपनी योग्यता के अनुसार इसमें प्रवेश प्राप्त कर सकता है, इसमें अधिकांश कोर्स की अवधि तीन वर्ष की होती है |

ये भी पढ़े: कम्प्यूटर एक्सपर्ट कैसे बने

शैक्षिणक योग्यता

पॉलिटेक्निक में विभिन्न प्रकार के कोर्सों का संचालन किया जाता है, जिनकी अलग- अलग योग्यता है, इसकी न्यूनतम योग्यता हाईस्कूल और अधिकतम स्नातक है, आप अपनी योग्यता के अनुसार प्रवेश प्राप्त कर सकते है |

पॉलिटेक्निक के प्रमुख कोर्स

क्र०स कोर्स
1 मकैनिकल इंजिनियरिंग
2 सिविल इंजिनियरिंग
3 ऑटोमोबाइल इंजिनियरिंग
4 पैकेजिंग टेक्नॉलजी
5 इलेक्ट्रिकल ऐंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजिनियरिंग
6 इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड कम्यूनिकेशन इंजिनियरिंग
7 अप्लाइड इलेक्ट्रॉनिक्स ऐंड इंस्ट्रूमेंटेशन
8 कंप्यूटर इंजिनियरिंग, इन्फर्मेशन टेक्नॉलजी
9 माइनिंग इंजिनियरिंग, मेटलॉर्जिकल इंजिनियरिंग,
10  टेक्सटाइल टेक्नॉलजी, केमिकल इंजिनियरिंग,
11  केमिकल इंजिनियरिंग इन प्लास्टिक ऐंड पॉलिमर्स,
12 पेट्रोकेमिकल्स इंजिनियरिंग,
13 लेटर टेक्नॉलजी,
14  प्रिटिंग टेक्नॉलजी,
15 फुटवियर टेक्नॉलजी,
16 आर्किटेक्चर कोर्सेज,
17 एयरक्राफ्ट मेंटिनेंस इंजिनियरिंग,
18 मास कम्यूनिकेशन, इंटीरियर डिजाइनिंग,
19 होटल मैनेजमेंट,
20 कमर्शल ऐंड फाइन आर्ट,
21 मास कम्यूनिकेशन,
22 इंटीरियर डिजाइन,
23 ऑफिस मैनेजमेंट ऐंड कंप्यूटर ऐप्लिकेशन और कंप्यूटर साइंस इत्यादि।

 ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए

वेतन

पॉलिटेक्निक डिप्लोमा प्राप्त करने के बाद आप फ्रेशर के रूप में  15 से 20 हजार रुपये प्रतिमाह प्राप्त कर सकते है, अनुभव अधिक बढ़ने पर आपका यह वेतन बढ़ता जायेगा |

उच्च शिक्षा में लाभ

पॉलिटेक्निक के बाद छात्र उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए बीटेक में प्रेवश ले सकते है, पॉलिटेक्निक उत्तीर्ण छात्र को बीटेक के द्वितीय वर्ष में प्रेवश मिलता है, इस कारण बीटेक की अवधि उनके लिए कम हो जाती है |

ये भी पढ़े: बीटेक (B.Tech) कैसे करे – योग्यता, फीस

कोर्स का चुनाव ध्यान पूर्वक करे

कोर्स का चुनाव करते समय आपको विशेष ध्यान देना होगा, आपको जिस क्षेत्र में जाने के इच्छुक हो आप उसी शाखा में प्रेवश ले, अन्यथा आप का इंट्रेस्ट उस शाखा में न होने के कारण आप उस क्षेत्र में सफल नहीं है पाएंगे, कोर्स का चुनाव करते समय उसमे करियर के विषय में सही से जानकारी प्राप्त कर ले |

पॉलिटेक्निक कॉलेज के प्रकार

पॉलिटेक्निक के अंतर्गत तीन प्रकार के कॉलेज होते है |

  • सरकारी कॉलेज
  • प्राइवेट कॉलेज
  • महिला पॉलिटेक्निक

सरकारी कॉलेज में कोर्स की फीस कम होती है और सरकार द्वारा इसमें छात्रवृति मिलने की सम्भावना अधिक होती है, प्राइवेट कॉलेज में फीस बहुत ही ज्यादा होती है और छात्रवृति मिलने की सम्भावना कम होती है, महिला पॉलिटेक्निक के अंतर्गत केवल महिला अभ्यर्थी ही प्रवेश प्राप्त कर सकती है |

प्रमुख संस्थान

  • राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज, लखनऊ |
  • राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज, कानपुर और सरकार। G.B. पंत पॉलिटेक्निक, लखनऊ |
  • राजकीय पॉलिटेक्निक कॉलेज, गाजियाबाद |
  • राजकीय पॉलिटेक्निक, गोरखपुर |
  • अनार देवी खंडेलवाल महिला पॉलिटेक्निक, मथुरा |
  • राजकीय पॉलिटेक्निक, बांदा |
  • राजकीय गर्ल्स पॉलिटेक्निक, लखनऊ |
  • कु. मायावती सरकार गर्ल्स पॉलिटेक्निक, बादलपुर |

ये भी पढ़े: मेडिकल-इंजीनियरिंग के अलावा ये कोर्स दे सकते है रोज़गार 

यहाँ पर हमनें पॉलिटेक्निक के विषय में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: Current Affairs की तैयारी कैसे करे

ये भी पढ़े: डिग्री और डिप्लोमा में क्या अंतर है

ये भी पढ़े: ज्योग्राफिकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम GIS में कैरियर