भारत की राष्ट्रभाषा क्या है ?

भारत की राष्ट्रभाषा 

भारत में अधिकतर लोग हिंदी को राष्ट्रभाषा के रूप में ही जानते है, भारत में सबसे अधिक हिंदी भाषा का प्रयोग किया जाता है,  परन्तु यह एक सत्य है, कि हिंदी को राष्ट्रभाषा के रूप में स्वीकार नहीं किया गया है | भारत के संविधान में अनुच्छेद 343 के अंतर्गत हिंदी भाषा को भारत की ‘राजभाषा’ के रूप में मान्यता दी गयी है, इसका अर्थ है, कि हिंदी का प्रयोग केवल राजकीय कार्य में किया जा सकता है | भारतीय संविधान में राष्ट्रभाषा का कोई उल्लेख नहीं किया गया है | भारत की राष्ट्रभाषा क्या है ? इस पेज पर आपको इससे  सम्बंधित जानकारी दे रहे है |

 ये भी पढ़े: संविधान किसे कहते है, लिखित संविधान का क्या अर्थ है ?

ये भी पढ़े: भारत में महिलाओ के अधिकार 

राष्ट्रभाषा

किसी भी देश की संस्कृति का महत्वपूर्ण हिस्सा उसकी राष्ट्रभाषा होती है, जिसका प्रयोग लिखनें, पढ़नें और वार्तालाप करने में किया जाता है | राष्ट्रभाषा वह भाषा होती है, जिसमे देश के सभी कार्यों का निष्पादन किया किया जाता है | देश के सभी सरकारी कार्य इसी भाषा में किये जाते है | उदाहरण स्वरूप हमारे पड़ोसी देश बांग्लादेश में बंगाली भाषा को राष्ट्रभाषा के रूप में मान्यता दी गयी है और देश में सभी कार्य इसी भाषा में किये जाते है |

ये भी पढ़े: सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल ब्रह्मोस की खासियत

भारतीय संविधान में भाषा

जब भारतीय संविधान का निर्माण हो रहा था, उस समय राष्ट्र भाषा का प्रश्न उठा था, तब डॉ॰ अंबेडकर ने संस्कृत को राष्ट्र भाषा के रूप में मान्यता देने का सुझाव दिया गया था, परन्तु इसका विरोध होने लगा, जिस कारण संस्कृत को राष्ट्र भाषा नहीं माना गया | संविधान सभा में कई लोग हिंदी को राष्ट्र भाषा के रूप में चाहते थे, परन्तु गैर हिंदी क्षेत्र के लोगों ने इसका विरोध किया गया | संविधान सभा ने ने किसी को भी राष्ट्रभाषा के रूप में मान्यता नहीं दी |

भारतीय संविधान की आठवीं अनुसूची में सभी भाषाओं के विषय में जानकारी दी गयी है | इस समय अनुसूची में 22 भारतीय भाषाओं का शामिल किया गया है | संविधान निर्माण के समय 14 भारतीय भाषाओं को संविधान में सम्मिलित किया गया था | वर्ष 1967 में सिन्धी भाषा को अनुसूची में शामिल किया गया | वर्ष 1992 में कोंकणी , मणिपुरी और नेपाली भाषा को शामिल किया गया | वर्ष 2004 में बोड़ो, डोगरी, मैथिली और संथाली भाषा को शामिल किया गया |

ये भी पढ़े: राष्ट्रपति शासन लागू होने पर क्या-क्या बदल जाता है

आठवीं अनुसूची में सम्मिलित भाषा

  • हिन्दी भाषा
  • असमिया भाषा
  • उर्दू भाषा
  • ओड़िया भाषा
  • कन्नड़ भाषा
  • कश्मीरी भाषा
  • कोंकणी भाषा
  • गुजराती भाषा
  • डोगरी भाषा
  • तमिल भाषा

ये भी पढ़े: यूनेस्को द्वारा घोषित भारत के 37 विश्व धरोहर स्थल की सूची

  • तेलुगू भाषा
  • नेपाली भाषा
  • पंजाबी भाषा
  • बंगाली भाषा
  • बोड़ो भाषा
  • मणिपुरी भाषा
  • मराठी भाषा
  • मलयालम भाषा
  • मैथिली भाषा
  • संथाली भाषा
  • संस्कृत भाषा
  • सिन्धी भाषा

ये भी पढ़े: धारा 370 क्या है

यहाँ पर हमनें आपको भारत की राष्ट्रभाषा के विषय में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करे, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: विश्व मे कितने देश है, इनकी राजधानी एवं मुद्रा

ये भी पढ़े: कैसे भरे सरकारी नौकरियों के ऑनलाइन फॉर्म

ये भी पढ़े: भारत के प्रमुख शोध-संस्थान (India’s Major Research Institute)