राजधानी और उपराजधानी किसे कहते है

राजधानी और उपराजधानी से संबंधित जानकारी

राजधानी एक नगरपालिका कही जाती है, यह एक ऐसी नगरपालिका होती है, जो किसी देश, प्रदेश, प्रान्त या अन्य प्रशासनिक ईकाई अथवा क्षेत्र में सरकार की गद्दी होने का प्राथमिक दर्जा प्राप्त किये हुए होती है| वहीं उपराजधानी किसी राज्य या राष्ट्र की मुख्य राजधानी के अतिरिक्त दूसरी राजधानी कही जाती है| जैसे उदहारण के तौर पर – महाराष्ट्र राज्य की उप-राजधानी नागपुर है| यदि आप भी राजधानी और उपराजधानी के विषय में जानना चाहते हैं, तो यंहा पर आपको राजधानी और उपराजधानी किसे कहते है, भारत की उपराजधानी क्या है? इसकी विस्तृत जानकारी प्रदान की जा रही है|

ये भी पढ़े: भारत की राष्ट्रभाषा क्या है ?

ADVERTISEMENT विज्ञापन

ये भी पढ़े: भारत का नक्शा किसने बनाया

राजधानी और उपराजधानी क्या है?

मुख्य रूप से राजधानी शब्द की उत्पत्ति संस्कृत भाषा से हुई  है, जिसका तात्पर्य किसी प्रांत राज्य देश का वह भू क्षेत्र से होता है और इसी क्षेत्र से उसकी शासन व्यवस्था संचालित भी होती है लेकिन राजधानी देश के बीचो बीच  होनी आवश्यक होती है और साथ ही देश व राज्य की सरकार के सभी विभाग उसी नगर में  होना जरूरी है ताकि ऐसा  करने से  सरकार अपने सभी कार्य राजधानी से सरलता पूर्वक कर सके| जिस स्थान से पुरे देश की व्यवस्था संचालित की जाती है या जहाँ से शासन चलता है उस स्थान को ही राजधानी कहा जाता है और वहीं उपराजधानी की बात करे तो देश की अर्थव्यस्था या व्यापार को चलाने वाले मुख्य शहर को उपराजधानी कहा जा सकता है किसी राज्य या राष्ट्र की मुख्य राजधानी के अतिरिक्त दूसरी राजधानी ही उपराजधानी कहलाती है |

ADVERTISEMENT विज्ञापन

ये भी पढ़े: भारत के पड़ोसी देश और उनकी राजधानी, मुद्रा

भारत की उपराजधानी क्या है?

वैसे तो पहले भारत की उपराजधानी का प्रावधान भारत में इंगित नहीं था, अंग्रेजों के समय में भारत की उपराजधानी में बदलाव होता रहता था क्योंकि, गर्मियों  के मौसम में भारत की उपराजधानी दिल्ली से शिमला कर दी जाती थी और वहीं, उत्तर प्रदेश की भी राजधानी में बदलाव होकर नैनीताल कर दी जाती थी लेकिन अब अंग्रेजों का शासन खत्म हो  जाने के बाद इस परम्परा को भी खत्म कर दिया गया और अब उपराजधानी को भी सरकार के कार्यकाल के मुताबिक़ स्थिर रखा गया है | वर्तमान समय में भारत की उपराजधानी मुंबई है | इसके साथ ही मुंबई को भारत की वाणिज्यिक भी कहते है क्योंकि, मुंबई में कई संस्थानों के हेड क्वाटर्स बने हुए है | जिससे देश की अर्थव्यस्था और व्यापार इसी शहर से चलाये जा रहे है | इसलिए भारत की उपराजधानी मुंबई को बनाया गया है |

ये भी पढ़े:  कैसे करे अपने दिन की सही शुरुआत

ADVERTISEMENT विज्ञापन

हमने यहाँ आपके लिए राजधानी और उपराजधानी के बारे में सभी जानकारी प्रस्तुत की है। यदि आपके मन में कोई प्रश्न या सुझाव है, या फिर इससे संबंधित कोई अन्य जानकारी चाहिए, तो कृपया कमेंट बॉक्स में पूछें। हम आपकी प्रतिक्रिया और सुझाव की प्रतीक्षा करेंगे। अधिक जानकारी के लिए हमारी वेबसाइट kaiseinhindi.com पर जाएं।

ये भी पढ़े: यूनेस्को द्वारा घोषित भारत के 37 विश्व धरोहर स्थल की सूची

ये भी पढ़े: भारतीय नौसेना दिवस कब और क्यों मनाया जाता है

ये भी पढ़े:  भारतीय वायु सेना कैसे ज्वाइन करे ?

ये भी पढ़े: भारत के प्रमुख शोध-संस्थान