किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (KVPY) क्या है?

किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना से सम्बंधित जानकारी (Information About KVPY)

यह एक राष्ट्रीय कार्यक्रम है, इस योजना के अंतर्गत मूलभूत विज्ञान के क्षेत्रों में शिक्षावृत्ति को बढ़ावा दिया जाता है| किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना का आयोजन विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार के द्वारा किया जाता है| इस योजना के द्वारा विज्ञान में अनुसंधान की दिशा में करियर जारी रखने के इच्छुक, असाधारण रूप से अभिप्रेरित विद्यार्थियों को आकर्षित किया जाता है| इस योजना का मुख्य उद्देश्य अनुसंधान के लिए आवश्यक प्रतिभा और अभिवृत्ति वाले विद्यार्थियों की पहचान करना और उनकी सहायता करना है| इस पेज पर किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (KVPY) और छात्रवृत्ति राशि के विषय में बताया जा रहा है|

ये भी पढ़ें: भारत सरकार की समस्त योजनाओं की जानकारी

ये भी पढ़ें: (योगी) उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना (Swarojgar Yojana)

किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (KVPY) क्या है

विज्ञान में रूचि रखने वाले छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए लिए भारत सरकार द्वारा किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना का संचालन किया जाता है| के. वी. पी. वाई. शिक्षावृत्ति के लिए विज्ञापन सामान्य रूप से प्रौद्योगिकी दिवस (मई 11) एवं जुलाई के दूसरे रविवार को प्रकाशित किया जाता है।

इस योजना का आरम्भ वर्ष 1999 में  विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग, भारत सरकार द्वारा की गई थी| इसके द्वारा चयनित छात्रों को पूर्व-पीएचडी स्तरों तक छात्रवृति एवं आकस्मिक अनुदान प्रदान किया जाता है। इसके अतिरिक्त देश के प्रतिष्ठित शोध एवं शैक्षणिक संस्थानों में ग्रीष्मकालीन शिविरों का आयोजन किया जाता है, जिसमे यह छात्र भाग ले सकते है|

ये भी पढ़ें: न्यूनतम आय योजना (NYAY Scheme) क्या है ?

ये भी पढ़े: बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना क्या है

योजना की पात्रता (Eligibility)

  • दसवीं (10वीं) में गणित और विज्ञान में 75% अंक (एसटी / एससी / पीडब्लूडी के लिए 65% अंक) प्राप्त करने के बाद 11 वीं में प्रवेश लेने छात्र इस योजना के पात्र है
  • फेलोशिप प्राप्त करने के लिए छात्रों को 12 वीं में विज्ञान विषय में 60% अंक (एसटी / एससी / पीडब्लूडी के लिए 50% अंक) प्राप्त करना अनिवार्य है
  • अंडरग्रेजुएट प्रोग्राम में पहले साल में बीएससी / बीएस / बी मैथ / बी स्टेट / एमएस / इंटीग्रेटेड एमएससी में प्रवेश प्राप्त किया हो
  • वह छात्र जो आईजीसीएसई परीक्षा देने वाले हैं, वह भी इस योजना के लिए योग्य माने जायेंगे इन्हें कम से कम 75% अंक (एसटी / एससी / पीडब्लूडी के लिए 65% अंक) प्राप्त करना अनिवार्य है

ये भी पढ़ें: कन्या सुमंगला योजना (Kanya Sumangala Yojana)

केवीपीवाई छात्रवृत्ति राशि (KVPY Scholorship)

क्र.म. बेसिक विज्ञान अवधि मासिक फेलोशिप वार्षिक कांटिन्जेंसी ग्रांट
1. एसए / एसएक्स / एसबी के लिए – बीएससी / बीएस / बी मैथ / बी स्टेट / एमएस / इंटीग्रेटेड एमएससी प्रथम वर्ष से तृतीय वर्ष तक 5000 रूपये 20,000 रूपये
2. एसए / एसएक्स / एसबी के लिए – एमएससी / एम स्टेट / एमएस / एम मैथ / इंटीग्रेटेड एमएससी चौथे और पांचवे वर्ष में 7000 रूपये 28,000 रूपये

ये भी पढ़ें: कुसुम योजना (Kusum Yojana) क्या है ?

चयन प्रक्रिया (Selection Process)

ये भी पढ़ें: यूनिवर्सल बेसिक इनकम (Universal Basic Income) योजना

ये भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना, shadianudan.upsdc.gov.in

यहाँ पर हमनें आपको किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़ें: sspy-up.gov.in, उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना

ये भी पढ़ें: mprojgar.gov.in, मध्य प्रदेश बेरोजगारी भत्ता योजना

ये भी पढ़ें: (योगी) मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना (Mukhyamantri Jan Arogya Aojana)