सेविंग अकाउंट पर बैंक काटता है चार्ज – जानिए

सेविंग अकाउंट पर बैंक ऐसे काटता है चार्ज 

वर्तमान समय में बचत के उद्देश्य से लगभग सभी लोग अपना बैंक एकाउंट अर्थात खाता खोलते है, और अपनी सुविधा के अनुसार अपने एकाउंट का प्रयोग करते है | हम बैंक में अपना एकाउंट खोलते समय सिर्फ कुछ बाते, जैसे ब्याज किस दर से प्राप्त होगा, एटीएम की सुविधा आदि से सम्बंधित जानकारी प्राप्त करते है, परन्तु एकाउंट ओपन होने के पश्चात बैंक द्वारा दी जाने वाली सुविधाओं के लिए हमसे कुछ शुल्क लेता है, जिसकी जानकारी हमें नहीं होती है | इसलिए किसी भी बैंक में अपना एकाउंट ओपन करने से पहले इस सम्बन्ध में जानकारी अवश्य प्राप्त कर लेना चाहिए | आइए आगे जानते है, सेविंग अकाउंट पर बैंक चार्ज कैसे काटता है ?

ये भी पढ़े: SBI Online Account घर बैठे कैसे Open करे

सेविंग अकाउंट (Saving Account) से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी

किसी भी बैंक में सेविंग अकाउंट खुलवानें पर बैंक द्वारा कुछ फीस या चार्ज लिया जाता है | सभी बैंकों द्वारा लिए जाने वाली यह फीस अलग-अलग होती है, बैंक द्वारा यह फीस अपनी सुविधाओं के एवज में लेती है, जिसकी जानकारी हमे नहीं होती है | इसलिए किसिस भी बैंक में एकाउंट ओपन करने से पहले बैंक द्वारा लिए जाने वाली फीस के बारें में अवश्य जानकारी प्राप्त कर लेनी चाहिए |

ये भी पढ़े: *99# USSD Banking सर्विस का उपयोग कैसे करे

बैंक द्वारा सेविंग अकाउंट पर काटे जाने वाले चार्ज

मासिक बैलेंस मेनटेन न करने पर

सभी बैंकों की मिनिमम बैलेंस मेनटेन करने हेतु अलग-अलग धनराशि निर्धारित की है | यदि आप अपनें सेविंग अकाउंट में मिनिमम बैलेंस मेनटेन नहीं करते हैं, तो बैंक उस पर बैलेंस मेनटेन न करनें का शुल्क आपकी जमा धनराशि से काट लेता है, इसके लिए बैंक को आपसे पूछनें की आवश्यकता नहीं होती है | मुख्य रूप से यह शुल्क अर्थात पेनाल्टी 100 रुपए से लेकर 650 रुपए तक होती है ।

ये भी पढ़े: नेट बैंकिंग मोबाइल बैंकिंग कैसे करे

डेबिट कार्ड चार्ज

वर्तमान समय में लगभग बैंक में एकाउंट रखनें वाले सभी लोग डेबिट कार्ड जारी करते है, और बैंक द्वारा प्रदना की जानें वाली इस सुविधा के लिए एनुअल मेन्टेनेंस फीस चार्ज करते हैं, यह फीस बैंक के अनुसार 100 रुपए से लेकर 800 रुपए तक होती है | बैंक द्वारा यह चार्ज आप के द्वारा खोले गये एकाउंट पर निर्भर करता है, कि आप को किस तरह की की सेवाए दी जा रही है |

मासिक बैलेंस की गणना

  • उदहारण के रूप में मान लीजिए कि आपके बैंक ने आपको 5,000 रुपये का औसत बैलेंस बनाए रखने के लिए कहा है, हम अक्टूबर का माह लेते हैं
  • पहली अक्टूबर को आपके खाते में 4,000 रुपये हैं, 12 अगस्त को आपने 3,000 रुपये का निकासी की और 18 अक्टूबर को आपने 10,000 रुपये जमा किए इसका अर्थ है, कि अब आपके खाते में कुल 12,000 रुपये है |
  • इस हिसाब से 1 से 12 अक्टूबर तक (कुल 11 दिन) आपके खाते में जमा राशि = (4,000×11) 44,000 रुपये
  • 12 अक्टूबर से 18 अक्टूबर (कुल 6 दिन) आपके खाते में जमा राशि = (1,000×6) 6,000 रुपये
  • 18 अक्टूबर से 31 अक्टूबर तक ( कुल 13 दिन) आपके खाते में जमा राशि = (10,000×13) 1.3 लाख रुपये
  • 31 दिनों कुल जमा राशि = 1.8 लाख रुपये (44,000+6,000+1,30,000)
  • 31 दिनों की औसत राशि = 5806 रुपये (1.8 लाख रुपये/ 31)

ये भी पढ़े: मंथली एवरेज बैलेंस (Monthly Average Balance) क्या है

इसका अर्थ यह है, कि आपका औसत मासिक बैलेंस 5,000 रुपये से अधिक है, आपकी खाते की जमा राशि की गणना उस दिन के अंत तक जमा रकम के आधार पर किया जाता है |

यहाँ पर हमनें आपको सेविंग अकाउंट पर बैंक द्वारा काटे जानें वाले चार्ज के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: डीमैट अकाउंट क्या होता है

ये भी पढ़े: पेपल (Paypal) क्या है ? पेपल अकाउंट या खाता कैसे बनाये 

ये भी पढ़े: कैंसिल चेक (Cancel Cheque) क्या होता है और इसकी उपयोगिता क्या है ?