NCC सर्टिफिकेट से भारतीय सेना में एंट्री कैसे मिलेगी

NCC सर्टिफिकेट से भारतीय सेना में एंट्री 

एनसीसी (NCC) का पूरा नाम नेशनल कैडेट कोर है | एनसीसी, भारत का एक सैन्य कैडेट कोर है, इसके माध्यम से  स्कूल और कॉलेज के छात्रों को सेना, नौसेना और वायु सेना के लिए उपयुक्त सैन्य प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है | एनसीसी का गठन एक कमेटी द्वारा किया गया था,  जिसके प्रमुख पंडित हृदय नाथ कुंजरू के सुझाव पर 16 अप्रैल 1948 को नेशनल कैडेट कोर की स्थापना हुई थी | वर्ष 1948 में शुरुआत मात्र 20,000 के साथ शुरू हुई थी, और वर्तमान में 13 लाख से अधिक छात्र एनसीसी में शामिल है |  एनसीसी क्या है, एनसीसी से प्राप्त सर्टिफिकेट से भारतीय सेना में एंट्री कैसे मिलेगी ? इससे सम्बंधित जानकारी आपको इस पेज पर विस्तार से दे रहे है |

ये भी पढ़े: NCC क्या है

ये भी पढ़े: NCC कैसे ज्वाइन करे

एनसीसी (NCC) क्या है

ncc

एनसीसी एक ऐसा संगठन है, जो सम्पूर्ण भारत में स्कूल कालेजों व विश्वविद्यालयों में पढ़ रहे छात्रों को सैन्य प्रशिक्षण के साथ – साथ उन्हें, अपने जीवन को अनुशासित तरीके से जीना सिखाने के साथ ही एक जिम्मेदार नागरिक बनाना है, इसके माध्यम से युवाओं में नेतृत्व की क्षमता और सेवा की भावना भी विकसित करना है । एनसीसी में छात्रों सीनियर छात्रों की ट्रेनिंग सुरक्षा बलों के जवानों की तर्ज पर होती है |

ये भी पढ़े: भारतीय वायु सेना कैसे ज्वाइन करे ?

एनसीसी में सर्टिफिकेट (NCC CERTIFICATE)

एनसीसी में तीन प्रकार ए, बी तथा सी प्रमाण पत्र प्रदान किये जाते है, यह छात्रों के लगन और परिश्रम तथा परीक्षा के आधार पर दिया जाता है | एनसीसी का ए प्रमाण पत्र 15 वर्ष से कम उम्र के छात्रों के लिए है |

 

ncc c certificate

‘बी’ सर्टिफिकेट प्राप्त करने की अधिकतम उम्र 17  वर्ष है, ‘बी’ सर्टिफिकेट प्राप्त करने के दो वर्ष पश्चात छात्र ‘सी’ सर्टिफिकेट प्राप्त कर सकते है |  ए’ सर्टिफिकेट से छात्र बड़ा पद नहीं प्राप्त कर सकते, अधिक से अधिक सीएसएम (कंपनी सार्जेंट मेजर) बन सकते हैं, जबकि बी सर्टिफिकेट से जेयूओ और सी सर्टिफिकेट से सीएसयूओ (कंपनी सीनियर अंडर ऑफिसर) का पद प्राप्त कर सकते हैं,  एनसीसी से ‘सी’ सर्टिफिकेट प्राप्त छात्रों को सेना, अर्धसैनिक बलों के अतिरिक्त विभिन्न सरकारी नौकरियां आसानी से प्राप्त कर सकते है |

ये भी पढ़े: एयर फ़ोर्स में पायलट कैसे बने

एनसीसी सर्टिफिकेट से लाभ

यदि आप स्कूल में एनसीसी में ‘ए’ सर्टिफिकेट धारक हैं, तो उच्च शिक्षा के लिए कुछ संस्थानों में प्रवेश प्राप्त करनें हेतु अलग से कोटा निर्धारित होता है । स्नातक में इंजीनियरिंग कोर्स को छोड़कर अन्य सभी कोर्स में पांच प्रतिशत की छूट दी जाती है, यदि  किसी कोर्स में 50 प्रतिशत अंक पर प्रवेश प्राप्त हो रहा है, तो वहां ऐसे छात्रों को 45 प्रतिशत पर प्रवेश प्राप्त हो जायेगा । ‘बी’ और ‘सी’ सर्टिफिकेट प्राप्त अभ्यर्थियों को पोस्ट ग्रेजुएशन में भी प्रवेश के दौरान छूट प्राप्त होती है ।

ये भी पढ़े: असिस्टेंट कमांडेंट कैसे बने

नियुक्तियों में बोनस अंक (Bonus Marks)

रक्षा बलों में  रैंक में भर्ती के समय, कैडेटों को प्राप्त होनें वाले बोनस अंक इस प्रकार है-

सैनिक जीडी श्रेणी

इस श्रेणी में बोनस अंक भौतिक और लिखित परीक्षा में सुरक्षित कुल अंक पर आधारित होते हैं ।

सर्टिफिकेटबोनस अंक
एनसीसी ‘ए’ सर्टिफिकेट5 प्रतिशत
एनसीसी ‘बी’ सर्टिफिकेट8 प्रतिशत
एनसीसी ‘सी’ सर्टिफिकेट10 प्रतिशत

ये भी पढ़े: मर्चेंट नेवी में कैसे जाए

सैनिक टेक / क्लर्क / एस के टी / नर्सिंग सहायता

इनमें बोनस अंक लिखित परीक्षा में प्राप्त कुल अंक पर आधारित होंगे ।

सर्टिफिकेटबोनस अंक
एनसीसी ‘ए’ सर्टिफिकेट5 प्रतिशत
एनसीसी ‘बी’ सर्टिफिकेट8 प्रतिशत
एनसीसी ‘सी’ सर्टिफिकेट10 प्रतिशत

ये भी पढ़े: रेलवे पुलिस कांस्टेबल और सब-इंस्पेक्टर की तैयारी कैसे करे

नौसेना (Navy)

नेवी डायरेक्ट एंट्री सेलर और आर्टिफिशर अपरेंटिस में भर्ती के लिए अंक इस प्रकार हैं-

डायरेक्ट एंट्री सेलर

सर्टिफिकेट अंक
एनसीसी ‘ए’ सर्टिफिकेट02 अंक
एनसीसी ‘बी’ सर्टिफिकेट04 अंक
एनसीसी ‘सी’ सर्टिफिकेट06 अंक

ये भी पढ़े: NDA क्या है

आर्टिफिशर अपरेंटिस (Artificer Apprentice)

सर्टिफिकेट अंक
एनसीसी ‘ए’ सर्टिफिकेट05 अंक
एनसीसी ‘बी’ सर्टिफिकेट10 अंक
एनसीसी ‘सी’ सर्टिफिकेट15 अंक

ये भी पढ़े: NDA EXAM  में पहली बार में ही कैसे पाए सफलता 

वायु सेना (Air Force)

प्रमाणित धारकों के चयन परीक्षण अंकों में जोड़े जानें वाले अंक इस प्रकार है –

सर्टिफिकेट अंक
एनसीसी ‘ए’ सर्टिफिकेट03 अंक
एनसीसी ‘बी’ सर्टिफिकेट04 अंक
एनसीसी ‘सी’ सर्टिफिकेट05 अंक

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

सैन्य नर्सिंग सेवा ()

एक सीट बीएससी (नर्सिंग) कोर्स और एनसीसी प्रशिक्षित लड़कियों के लिए 24 प्रोबेशनर नर्सिंग कोर्स के लिए आरक्षित है, जिसमें योग्यता के क्रम में जी -2 प्रमाण पत्र है ।

पैरा सैन्य बलों द्वारा एनसीसी कैडेटों द्वारा प्रदान किए गए कई प्रोत्साहन इस प्रकार है –

बीएसएफ (सीमा सुरक्षा बल)

सर्टिफिकेट अंक
एनसीसी ‘ए’ सर्टिफिकेट04 अंक
एनसीसी ‘बी’ सर्टिफिकेट06 अंक
एनसीसी ‘सी’ सर्टिफिकेट10 अंक

ये भी पढ़े: आर्मी और पुलिस भर्ती में मेडिकल कैसे होता है ?

सीआईएसएफ (केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल)

सीआईएसएफ में भर्ती के लिए एनसीसी प्रमाण पत्र धारकों को प्राप्त होनें वाले अंक इस प्रकार है –

सर्टिफिकेट अंक
एनसीसी ‘बी’ सर्टिफिकेट01 अंक
एनसीसी ‘सी’ सर्टिफिकेट03 अंक

ये भी पढ़े: भारतीय तट रक्षक कैसे बने

तट रक्षक

शिक्षा योग्यता के आधार पर अधिकारी कैडर में भर्ती के लिए एनसीसी ‘सी’ प्रमाण पत्र धारकों को 15 अंक का भार या शिक्षा योग्यता के आधार पर बोनस अंक प्राप्त होते है |

नौसेना

नौसेना में कमीशन के लिए प्रति नौ – नौ रिक्तियों तक बीसीसी (भौतिकी और गणित) या बीई के साथ एनसीसी ‘सी’ सर्टिफिकेट उत्तीर्ण स्नातक कैडेटों के लिए आरक्षित हैं, जो 19 से 24 वर्ष के आयु वर्ग में हैं, और एसएसबी द्वारा यूपीएससी की सीडीएस परीक्षा से छूट दी गई है ।

वायु सेना पायलट कोर्स

एनसीसी ‘सी “सर्टिफिकेट धारकों के लिए प्रत्येक शाखा में 10% रिक्तियां आरक्षित हैं ।

यहाँ पर हमनें आपको NCC सर्टिफिकेट से भारतीय सेना में नौकरी प्राप्त करनें के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: एयर फ़ोर्स में पायलट कैसे बने

ये भी पढ़े: रॉ एजेंट बननें के लिए क्या करें  

ये भी पढ़े: कैसे भरे सरकारी नौकरियों के ऑनलाइन फॉर्म

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी मिलेगी जरूर अगर आपका करेंट अफेयर्स होगा मजबूत