आईटीआई ट्रेड लिस्ट in UP, MP, बिहार, हरियाणा

आईटीआई ट्रेड लिस्ट 

Table of Contents

आईटीआई का पूरा नाम औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान है, आईटीआई भारत सरकार के ‘श्रम एवं नियोजन मंत्रालय’ द्वारा संचालित संस्थान है | इसके अंतर्गत छात्रों को इंडस्ट्री में कार्य करनें हेतु प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है | छात्र आईटीआई में आठवी, दसवी के बाद आसानी प्रवेश प्राप्त कर सकते है, इसमें छात्रों के अनुरूप अलग-अलग कोर्स डिज़ाइन किये गये है, आईटीआई करनें के लिए छात्रों में अधिक योग्य होना आवश्यक नहीं है, आईटीआई में एक वर्षीय या दो वर्षीय तथा तीन वर्षीय पाठ्यक्रम होते है |

ये भी पढ़े: ITI Course कैसे करे    

आईटीआई में करियर विकल्प

आईटीआई कोर्स करनें के बाद जाब अर्थात नौकरी मिलनें की संभावना निश्चित होती है | आईटीआई  में लगभग 100 से अधिक कोर्स होते है, जिनको टेक्निकल अर्थात इंजीनियरिंग ट्रेड और नॉन-टेक्निकल (नॉन-इंजीनियरिंग ट्रेड) में विभाजित किया गया है  आईटीआई में कुछ कोर्स ऐसे है, जो छात्रो के लिए काफी लोकप्रिय होते है|

ये भी पढ़े: आईटीआई के बाद करियर विकल्प

आईटीआई ट्रेड लिस्ट (ITI Trade List)

यूपी (UP) में प्रचलित कोर्स

1.इलेक्ट्रीशियन

इलेक्ट्रीशियन को बिजली मिस्त्री कहते हैं, आईटीआई से इलेक्ट्रीशियन कोर्स करनें के पश्चात आप स्वयं का व्यवसाय अथवा किसी कम्पनी में आसानी से नौकरी प्राप्त कर सकते है |

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

2.फिटर

आईटीआई के लिए फ़िटर का कोर्स दो वर्ष का होता है,इस कोर्स को करनें के पश्चात आप अपने 15 से 20 हजार रुपये आसानी से प्राप्त कर सकते है |

3.बढ़ई

आई टी आई में यह कोर्स 2 वर्ष का होता है, जिसमें आपको लकड़ी से सम्बंधित कार्य के बारे में बताया जाता है |

4.फाउंड्री मैन

फाउंड्री मैन कोर्स एक वर्षीय कोर्स है, इसके लिए आपकी न्यूनतम योग्यता 8 वां है । इस कोर्स को करनें के पश्चात आप अपने 15 से 25 हजार रुपये आसानी से प्राप्त कर सकते है |

ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए

5.बुक बाइंडर

बुक बाइंडर के लिए आईटीआई पाठ्यक्रम महाराष्ट्र और केरल जैसे राज्यों में उपलब्ध हैं। कोर्स की न्यूनतम अवधि सिर्फ एक वर्ष निर्धारित की गयी है ।

6.प्लंबर

प्लंबर की मांग बहुत अधिक है । आईटीआई से आप आसानी से एक प्रमाणित प्लंबर होने के डिप्लोमा प्राप्त कर सकते हैं। आई टी आई कोर्स 2 साल के लिए हैं |

7.पैटर्न निर्माता

पैटर्न निर्माता भी एक औद्योगिक फाउंड्री पाठ्यक्रम है । इस कोर्स की अवधि दो वर्ष निर्धारित की गयी है ।

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

8.मेसन बिल्डिंग कन्स्ट्रक्टर

मैसन बिल्डिंग कन्स्ट्रक्टर सिर्फ 1 वर्ष का कोर्स है, और इसमें आपको 8 वां उत्तीर्ण होना अनिवार्य है ।

9.उन्नत वेल्डिंग

भारत में आईटीआई के लिए वेल्डिंग पाठ्यक्रम 1 वर्ष और 2 वर्ष के लिए है ।

10.वायरमैन

वायरमैन के लिए यह पाठ्यक्रम एक वर्ष के लिए होता है,  आप यह कोर्स 8 वीं के बाद कर सकते हैं ।

ये भी पढ़ें: Current Affairs की तैयारी कैसे करे

एम पी (MP) में प्रचलित कोर्स

1.शीट मेटल वर्कर

शीट मेटल वर्क की नौकरी धातु से सम्बंधित उत्पादों की मरम्मत से है,  भारत में 15 से अधिक राज्यों में शीट मेटल कार्यकर्ता के लिए आई टी आई कोर्स उपलब्ध हैं ।

2.उपकरण और डाई मेकर

उपकरण और डाई मेकर निर्माताओं रासायनिक इंजीनियरिंग से सम्बंधित कोर्स एक वर्ष का होता है |

3.मोल्डर

मोल्डर एक शिल्पकार मोल्डिंग व्यावसायिक आई टी आई कोर्स है। इस कोर्स के लिए आपको मैट्रिक या 10 वीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है | इसके पाठ्यक्रम की अवधि 2 वर्ष निर्धारित की गयी है |

ये भी पढ़े: फैशन डिज़ाइनर (Fashion-Designer) कैसे बनें 

4.वेल्डर गैस और इलेक्ट्रिक

वेल्डर गैस और इलेक्ट्रिक एक व्यावसायिक प्रशिक्षण पाठ्यक्रम है, यदि आप महाराष्ट्र में रहते हैं तो इस विशेष पाठ्यक्रम के लिए कई आईटीआई कॉलेज हैं ।

5.टर्नर

टर्नर की आसानी से सेल, गेल, गोवा शिपयार्ड आदि कंपनियों पर कार्य किया जा सकता है। इस कोर्स की अवधि दो वर्ष है, इसके लिए आपको दसवी उत्तीर्ण ओना आवश्यक है |

6.उन्नत उपकरण और डाई बनाना

इस कोर्स की अवधी तीन वर्ष निर्धारित की गयी है, इस कोर्स की फीस लगभग 20,000 / – रुपये प्रति वर्ष  निर्धारित की गयी है ।

ये भी पढ़े: अकाउंटिंग और ऑडिटिंग फील्ड में करियर कैसे बनाये

7.पेंटर जनरल

इस आई टी आई कोर्स में आप पेंट लगाने, अंदर और बाहर की सतहों को समाप्त करने, सामग्री समतल करने आदि के बारे में बताया जाता हैं । इस पाठ्यक्रम में 4 सेमेस्टर होते है, तथा इस कोर्स की अवधी दो वर्ष निर्धारित की गयी है |

8.मशीनिंस्ट

मैकेनिस्टिक में आईटीआई 2 साल का कोर्स है और आपको कोर्स शुरू करने से पहले 10 वीं या मैट्रिक्यूज पूरी करनी होगी। अगर आपको डिप्लोमा मिलता है तो नौकरी की संभावना बहुत बढ़िया है

9.ड्राफ्टमैन मैकेनिकल

ड्राफ्टस्मन मैकेनिकल के लिए आईटीआई कोर्स की अवधि 2 वर्ष है, इसमें  आपको विज्ञान और गणित के साथ 10 वीं पास होना अनिवार्य है ।

यह भी पढ़े: विज्ञापन के क्षेत्र में करियर कैसे बनाये

10.मैकेनिक मशीन टूल्स रखरखाव

इस कोर्स में मैकेनिक मशीन टूल्स के रखरखाव से सम्बंधित जानकारी दी जाती है | इसमें आपको विज्ञान और गणित के साथ 10 वीं पास होना अनिवार्य है | इस कोर्स की अवधि  2 वर्ष निर्धारित की गयी है |

11.मैकेनिक कंप्यूटर हार्डवेयर

आईटीआई में इसका पाठ्यक्रम तकनीकी है, मैकेनिक कंप्यूटर हार्डवेयर के लिए आई टी आई कोर्स 2 से 3 वर्ष की अवधि का हो सकता है ।

बिहार (Bihar) में प्रचलित कोर्स

1.रेफ्रिजरेशन और एयर कंडीशनर मैकेनिक

रेफ्रिजेशन और एयर कंडीशनर मैकेनिक के लिए इस कोर्स कोर्स की अवधी एक वर्ष निर्धारित की गयी है, इसके लिए आपको   8 वां पास होना अनिवार्य है । आई टी आई कोर्स पूरा होने के बाद आप आसानी से नौकरी प्राप्त कर सकते हैं ।

यह भी पढ़े: प्लांट पैथोलॉजी में करियर कैसे बनाये

2.मैकेनिक वॉच एंड क्लॉक

इस कोर्स की अवधि एक वर्ष है | इस कोर्स में आपको घड़ी की रिपेयरिंग के बारे में बताया जाता है  ।

3.मैकेनिक मोटर वाहन

मोटर यांत्रिकी का पाठ्यक्रम दो वर्ष का निर्धारित किया गया है | इस कोर्स के माध्यम से आप आसानी से 20 से 25 हजार रुपये आसानी से प्राप्त कर सकते है |

4.मशीन उपकरण रखरखाव

 यदि आप मशीन उपकरण रखरखाव में एक डिप्लोमा चाहते हैं तो आपको विज्ञान और गणित के साथ 10 वीं पास होना आवश्यक है ।

5.मैकेनिक रेडियो और टेलीविजन

इस पाठ्यक्रम के लिए आपकी आयु 16 वर्ष से अधिक  होनी चाहिए,  इस कोर्स की अवधि दो वर्ष निर्धारित की गयी है  |

ये भी पढ़े: होटल मैनजमेंट में करियर कैसे बनाये

6.डीजल मैकेनिक

डीजल मैकेनिक से सम्बंधित कोर्स की अवधि 1 वर्ष निर्धारित की गयी है,  इसके लिए आपको 8 वां पास होना आवश्यक है ।

7.साधन मैकेनिक

साधन मैकेनिक एक आई टी आई कोर्स है । इस कोर्स की अवधि दो वर्ष निर्धारित की गयी है, तथा इसके लिए आपको दसवीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है ।

8.साधन मैकेनिक केमिकल प्लांट

इस कोर्स की अवधि 2 वर्ष निर्धारित की गयी है, इसके लिए आपको दसवीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है ।

9.वास्तुकला के ड्राफ्ट्समैन जहाज

इस पाठ्यक्रम के लिए आपको 10 वीं पास होना अनिवार्य है । यह एक डिप्लोमा कोर्स है, इस कोर्स की अवधि 3 वर्ष निर्धारित है और इस कोर्स के लिए आवेदन करने से पहले आपको 10 वीं पास होना अनिवार्य है ।

यह भी पढ़े: मार्केट रिसर्च के क्षेत्र में बेहतर करियर की संभावनाए

10.मैट्रोलोजी एंड इंजीनियरिंग इंस्पेक्शन

यह आई टी आई कोर्स तकनीकी से सम्बंधित है इसके लिए कुछ शैक्षिक पृष्ठभूमि मजबूत होना आवश्यक है ।

11.विद्युत रखरखाव

बिजली के रखरखाव के लिए आई टी आई कोर्स की अवधि 2  वर्ष है । पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद आपको अनेक अवसर प्राप्त होंगे |

12.इलेक्ट्रोप्लाटर

इलेक्ट्रोप्लाटर कोर्स की अवधि 2 वर्ष निर्धारित की गयी है, और आपको 10 वीं उत्तीर्ण होना अनिवार्य है । यहां आपको सोने, चांदी, निकल और अन्य धातुओं कोटिंग के बारे में सिखाया जाता है ।

13.कंप्यूटर ऑपरेटर और प्रोग्रामिंग सहायक

कंप्यूटर ऑपरेटर और प्रोग्रामिंग सहायक के लिए आई टी आई कोर्स की अवधि 1 वर्ष है । यहां आपको हार्डवेयर सिस्टम, नियंत्रण और कोड आदि की स्थापना के बारे में  बताया जाता है, इसके लिए आपको 10 वीं उत्तीर्ण होना आवश्यक है |

ये भी पढ़े: बिजनेस की शुरुआत कैसे करे

हरियाणा  (Hariyana) में प्रचलित कोर्स

1.उन्नत इलेक्ट्रॉनिक्स

उन्नत इलेक्ट्रॉनिक्स कोर्स की अवधि 2 से 3 वर्ष निर्धारित की गयी है, इसमें आपको विज्ञान और गणित के साथ 10 वीं उत्तीर्ण होना अनिवार्य है, इसमें आपको इलेक्ट्रॉनिक्स की बातें बताई जाती है |

2.इलेक्ट्रॉनिक मैकेनिक

इसके कोर्स के लिए आपको मैट्रिक पास होना आवश्यक है, इस कोर्स में 4 सेमेस्टर के होते है, तथा इसकी समय अवधि 2  वर्ष है । आप इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों के बारे में सब कुछ सीखते हैं |

3.नेटवर्क तकनीशियन

नेटवर्क तकनीशियन कोर्स  की अवधि 6 माह निर्धारित की गयी है, इसमें आपको नेटवर्क के बारे में बताया जाता है | इस पाठ्यक्रम में आवेदन हेतु आपको 10 वीं उत्तीर्ण होना अनिवार्य है ।

ये भी पढ़े: वीडियो एडिटिंग में करियर कैसे बनायें

4.पूर्व प्रीपरेटरी स्कूल प्रबंधन सहायक

प्री प्रीपरेटरी स्कूल मैनेजमेंट असिस्टेंट आईटीआई कोर्स की अवधि 2 वर्ष है, इसमें दो सेमेस्टर्स के साथ है आपको 10 वीं पास होना आवश्यक है |

5.प्रिंसिपल्स ऑफ़ टीचिंग

यह पाठ्यक्रम महिलाओं के लिए एक अच्छा पाठ्यक्रम हैं । इस कोर्स की अवधि एक वर्ष है |

6.सेक्रेटेरियल प्रैक्टिस

सचिवीय अभ्यास में डिप्लोमा 10 + 2 उत्तीर्ण छात्रों या स्नातक के लिए है।  यहां आप टाइपिंग सीखते हैं, मूल कंप्यूटर, रिसेप्शनिस्ट का कार्य आदि ।

7.बेकर और हलवाई

बेकर और हलवाई के लिए आई टी आई कोर्स एक वर्ष का है, इसके लिए आपको 10 वीं पास होना अनिवार्य है । इस पाठ्यक्रम को सीखने के बाद आप अपना बेकरी का कार्य आरंभ कर सकते है ।

ये भी पढ़े: साइबर लॉ में करियर कैसे बनाये 

8.काटना और सिलाई

यह कोर्स महिलाओं के लिए एक अच्छा पाठ्यक्रम है, इस कोर्स की अवधि 1 वर्ष है । यह आई टी आई कोर्स लगभग सभी राज्यों में उपलब्ध है ।

9.बाल और त्वचा की देखभाल

महिला बाल और त्वचा में आईटीआई डिप्लोमा पाठ्यक्रम में शामिल हैं, इस कोर्स की अवधि एक वर्ष है, इस कोर्स के लिए आपको 10 वीं पास होना अनिवार्य है ।

10.स्टेनोग्राफी अंग्रेजी

इस पाठ्यक्रम की अवधि एक वर्ष निर्धारित है, इसके लिए आपको दसवी पास होना अनिवार्य है । इसमें आपको शॉर्टहैंड पत्राचार, रिपोर्ट इत्यादि सिखाया जाता है ।

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

11.CAD CAM

सीएडी सीएएम पाठ्यक्रम एक वर्ष का पूर्णकालिक पाठ्यक्रम हैं ।

12.डेस्क टॉप पब्लिशिंग ऑपरेटर

डेस्कटॉप प्रकाशन के लिए आई टी आई कोर्स एक साल से दो सेमेस्टर है, इसके लिए आपको 10 वीं पास होना है,इसमें आप डेस्कटॉप प्रकाशन के बारे में बताया जाता है ।

13.आंतरिक सजावट और डिजाइनिंग

इस पाठ्यक्रम की अवधि एक वर्ष है, इसके लिए आपको 10 वीं पास होना अनिवार्य है ।

14.हीट इंजन ऑटोमोबाइल

इस कोर्स के अंतर्गत आपको ऑटोमोबाइल और उनके इंजन से सम्बंधित जानकारी प्रदान की जाती है ।  इस पाठ्यक्रम की अवधि एक वर्ष निर्धारित है |

ये भी पढ़े: आईटीआई के बाद करियर विकल्प, डिप्लोमा

15.चालक सह मैकेनिक लाइट मोटर वाहन

ड्राइवर सह मैकेनिक मोटर वाहन के लिए आपको दसवी पास होना आवश्यक है । इस पाठ्यक्रम की अवधि 6 माह निर्धारित है, इसके लिए आपको दसवी पास होना अनिवार्य है ।

16.सर्वेयर

इस आई टी आई कोर्स की समय अवधि एक वर्ष निर्धारित है, इसके लिए आपको 10 वीं पास होना अनिवार्य है ।

यहाँ आपको हमनें आईटीआई ट्रेड के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

ये भी पढ़े: विभिन्न स्तर की परीक्षाओं की तैयारी कैसे कर

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये