प्लांट पैथोलॉजी में करियर कैसे बनाये

प्लांट पैथोलॉजी क्या है 

पेड़-पौधे से हमारा वातावरण स्वस्थ रहता है, इसके साथ ही पौधों से हमें जीवित रहनें के लिए आक्सीजन प्राप्त होती है, पेड़- पौधे भी मनुष्यों और जानवरो की भांति संक्रामक रोगों से प्रभावित होते है, पेड़- पौधों को संक्रामक रोगों से बचानें के लिए प्लांट पैथोलॉजी के अंतर्गत बताया जाता है, वर्तमान समय में इस क्षेत्र में जानकारों तथा विशेषज्ञों की मांग अधिक है,जिसके कारण आप इस क्षेत्र में अपनी रूचि के अनुसार अपना बेहतर करियर बना सकते है, आप प्लांट पैथोलॉजी में करियर कैसे बना सकते है ? इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

ये भी पढ़े: अकाउंटिंग और ऑडिटिंग फील्ड में करियर कैसे बनाये

ये भी पढ़े: ज्योग्राफिकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम GIS में कैरियर

प्लांट पैथोलॉजी में करियर 

फिथोपैथोलॉजी’ को ही सामान्यतः प्लांट पैथोलॉजी कहा जाता है, यह एक प्रकार का वैज्ञानिक अध्ययन होता है, इसमें पौधों को स्वस्थ बनाये रखनें का प्रयास किया जाता है, और उनको परीक्षण के दौरान उनके रोंगो को पता किया जाता है, रोग पता होने के बाद उनके उपचार के लिए दवाओं का रिसर्च किया जाता है | पौधों में रोग पर्यावरण की स्थिति व संक्रामक जीवों द्वारा होता है, विभिन्न प्रकार के जीवों में कई प्रकार के रोग होते है, वह जीव पौधों के संपर्क में आते ही वही रोग पौधों में हो जाता है, इस कारण से प्लांट पैथोलॉजी में जीवों में होने वाली बीमारियों का भी अध्ययन कराया जाता है, जिससे पौधों में होने वाले रोगों का समय पर निवारण किया जा सके |

ये भी पढ़े: CLAT प्रवेश परीक्षा के लिए योग्यता क्या है 

शैक्षणिक योग्यता

अभ्यर्थी को बारवीं की परीक्षा फिजिक्स, कैमिस्ट्री और बॉयोलॉजी के साथ न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक अनिवार्य है, इस कोर्स में चयन प्रवेश परीक्षा व मेरिट के आधार पर होता है, आप इस क्षेत्र में स्नातक के बाद मास्टर्स और डॉक्टरेट डिग्री प्राप्त करने का अवसर उपलब्ध रहता है, आप इस क्षेत्र में वैज्ञानिक या विशेषज्ञ बननें  के लिए एन्टोमोलॉजी, नेमाटोलॉजी और वीड साइंस आदि से कोर्स कर सकते है, भारत में इस प्रकार के अनेक एग्रीकल्चरल विश्वविद्यालय हैं, जो प्लांट पैथोलॉजी में स्नातक, परास्नातक कोर्स करवाते है |

ये भी पढ़े: फूड टेक्नोलॉजी में कॅरियर कैसे बनाये

प्लांट पैथोलॉजी का महत्व 

पेड़-पौधों में जीवाणु, विषाणु, माइक्रोप्लाज्मा, सूत्रकृमि और जहरीली गैसों के कारण विभिन्न प्रकार के रोग होते है, इन रोग के कारण खाद्य व रेशेदार फसले मुख्य रूप से प्रभावित होती हैं, आम जन-जीवन की आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए यह आवश्यक है, कि पेड़-पौधों को संक्रमति होनें से बचाया जाए,  प्लांट प्रोटेक्शन साइंस’ एग्रीकल्चर क्षेत्र की एक शाखा है, इसमें पौधों को स्वस्थ बनाने के लिए सिखाया जाता है |

ये भी पढ़े: मेडिकल-इंजीनियरिंग के अलावा ये कोर्स दे सकते है रोज़गार 

भारत में महत्वपूर्ण विश्वविद्यालयों तथा संस्थानों की सूची

1.चौधरी चरण सिंह हरियाणा एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, हिसार |

2.सीएसके हिमाचल प्रदेश एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, पालमपुर |

3.इंडियन एग्रीकल्चरल रिसर्च इंस्टीट्यूट, नई दिल्ली |

4.तमिलनाडु  एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, कोयम्बटूर |

5.सेंट्रल इंस्टीट्यूट ऑफ फिशरिस एजुकेशन, मुंबई |

ये भी पढ़े: विश्व में विख्यात टॉप 10 यूनिवर्सिटी की सूची

6.फॉरेस्ट रिसर्च इंस्टीट्यूट, देहरादून |

7.पंजाब एग्रीकल्चरल यूनिवर्सिटी, लुधियाना |

8.नेशनल डेयरी रिसर्च इंस्टीट्यूट, करनाल |

9.गोविंद बल्लभ पंत यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चरल एंड टेक्नोलॉजी, पंतनगर |

10.यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चरल साइंस, बेंगलुरु, |

11.प्लांट पैथोलॉजी के अंतर्गत मिलने वाले मुख्य जॉब |

12.रिसर्चर, प्लांट स्पेशलिस्ट, हेल्थ मैनेजर, टीचर, कंसल्टेंट आदि |

ये भी पढ़े: विश्व मे कितने देश है, इनकी राजधानी एवं मुद्रा

प्लांट पैथोलॉजी में नौकरी देने वाली प्रसिद्ध कंपनिया या इंस्टीट्यूट

1.बॉयोटेक्नोलॉजी फर्म |

2.बॉयोलॉजिकल कंट्रोल कंपनी |

3.ग्रीकल्चरल रिसर्च सर्विस |

4.एग्रीकल्चरल कंसल्टिंग कंपनी |

5.एग्रोकैमिकल कंपनी |

ये भी पढ़े: अकाउंटिंग और ऑडिटिंग फील्ड में करियर कैसे बनाये

6.फॉरेस्ट सर्विस |

7.एनीमल एंड प्लांट हेल्थ इंसपेक्शन सर्विस |

8.एनवायरमेंटल प्रोटेक्शन  एजेंसी |

9.स्टेट डिपार्टमेंट्स ऑफ एग्रीकल्चरल एनवायरमेंटल |

10.सीड एंड प्लांट प्रोड्क्शन कंपनी |

11.इंटरनेशनल एग्रीकल्चरल रिसर्च सेंटर्स |

12.बॉटेनिकल गार्डन्स |

ये भी पढ़े: कैसे करे SSC CGL परीक्षा के लिए तैयारी 

यहाँ पर हमनें आपको प्लांट पैथोलॉजी में करियर बनानें के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी 

ये भी पढ़े: कैसे भरे सरकारी नौकरियों के ऑनलाइन फॉर्म

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी मिलेगी जरूर अगर आपका करेंट अफेयर्स होगा मजबूत