ज्योग्राफिकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम GIS में कैरियर

ज्योग्राफिकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम GIS में कैरियर 

ज्योग्राफिकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम (जीआईएस) भूगोल की एक प्रमुख शाखा है, जो रिमोट सेंसिंग, डिजिटल तकनीक व हाईटेक विधियो से सुसज्जित है,  इसमें पुरानें आंकड़ों के साथ-साथ नए आंकड़ों को भी संशोधित किया जाता हैं,  इस शाखा के  बढ़ते महत्व एवं उपयोगिता को देखते हुए विभिन्न विश्वविद्यालयो में इससे सम्बंधित कोर्स कराये जाते है, यदि आप भी ज्योग्राफिकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम में कैरियर बनाना चाहते हैं, तो आज हम इसके विषय में विस्तार से जानकारी प्रदान कर रहे है |

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

ये भी पढ़े: भारतीय वायु सेना कैसे ज्वाइन करे ?

जीआईएस(GIS) क्या है 

यह एक ऐसा सॉफ्टवेयर है, जिसकी सहायता से क्षेत्र की टारगेट एरिया की मैपिंग की जाती है, इसके बाद प्राप्त डाटा के माध्यम से ऑफिस में बैठे-बैठे ही उस पूरे क्षेत्र की सही जानकारी प्राप्त हो जाती हैं । इस सॉफ्टवेयर का प्रयोग अर्थ साइंस, एग्रिकल्चर, डिफेंस, न्यूक्लियर साइंस, आर्किटेक्चर, टाउन प्लानर, मैपिंग, मोबाइल आदि क्षेत्र में अधिक होता हैं, इसकी सहायता से किसी भी स्थान की स्थिति को अपनें कंप्यूटर पर देखा एवं बनाया जा सकता है ।

 

जिओग्रॅफिक इन्फॉर्मेशन टेक्नोलॉजी क्षेत्र

इसके क्षेत्र इस प्रकार हैं |

1.फोटोग्रामैट्री |

2.जीआईएस ऐप्लिेकशन |

3.जीआईए डेवलॅपमेंट |

4.जिओस्टेटिस्टीक |

5.जीआईएस प्रोजेक्ट डेवलॅपमेंट |

6.वेबजीआईएस |

ये भी पढ़े: सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने

शैक्षणिक योग्यता

आप जीआईएस में पोस्ट ग्रेजुएशन, डिप्लोमा, सर्टिफिकेट आदि कोर्स कर सकते हैं। साधारणतया  जिओलॉजी, अप्लायड जिओलॉजी, अर्थ साइंस, जिओग्रफी, जिओसाइंस बीएससी, बीई, बीटेक आदि में स्नातक डिग्रीधारक कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं ।

शिक्षण संस्थान

अनेंक शिक्षण संस्थानों में जीआईएस से संबंधित पाठ्यक्रम का संचालन किया जा रहा हैं । इस क्षेत्र की प्रमुख शिक्षण संस्थान इंस्टीट्यूट ऑफ जिओ-इन्फॉर्मेटिक्स ऐंड रिमोट सेंसिंग के अंतर्गत आनें वाले इंस्टीट्यूट से लांग और शॉर्ट टर्म पाठ्यक्रम किया जा सकता हैं । पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट इन जीआईएस ऐंड आरएस ,जिसकी समय अवधि छह माह है , पोस्ट ग्रेजुएट सर्टिफिकेट इन जीआईएस प्रोग्रामिंग कोर्स जिसकी समय अवधि चार माह हैं ।

1.इंडियन इंस्टीट्यूट रिमोट सेंसिंग देहरादून |

2.इलाहाबाद यूनिवर्सिटी ,उत्तर प्रदेश |

3.बिरला इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी ,रांची |

4.एमडीएस युनिवर्सिटी अजमेर ,राजस्थान |

5.इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी रुड़की |

6.इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी ,कानपूर |

7.जीआईएस इंस्टीट्यूट ,नोएडा |

8.ईएसआरआई इंडिया ,दिल्ली |

ये भी पढ़े: स्नो एक्सपर्ट में कॅरियर कैसे बनाये

जॉब की संभावनाए 

1.इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गनाइजेशन (इसरो) |

2.नेंशनल रिमोट सेंसिंग एजेंसी (एनआरएसए) |

3.नेंशनल इन्फॉर्मेटिक सेंटर (एनआईसी) |

4.स्पेस ऐप्लिकेशन सेंटर |

5.अर्बन डेवलॅपमेंट ऑथोरिटी |

6.नेंचुरल रिसोर्स मैनेंजमेंट |

7.इमर्जेंसी मैनेंजमेंट |

8.मिलिट्री कमांड |

9.ट्रांसर्पोटेशन मैनेंजमेंट |

10.सोशियो-इकोनॉमिक डेवलॅपमेंट |

11.अर्बन डेवलॅपमेंट |

12.बिजनेंस ऐप्लिकेशन |

ये भी पढ़े: रेडियो जॉकी कैसे बने ?

विदेश में जॉब की संभावनाएं 

जीआईएस का उपयोग भविष्य में लगभग प्रत्येक क्षेत्र में होनें की संभावना है जैसे- डिजास्टर मैनेंजमेंट, डेवलॅमेंट ऑथोरिटी आदि । वर्तमान में भारत का डिजिटल मैप उपलब्ध नहीं है ,जिसके कारण इस क्षेत्र में करियर की बेहतरीन संभावनाएं देखी जा रही हैं और विकसित देशों में इस टेक्नोलॉजी का प्रयोग पहले से किया जा रहा  हैं ,इसलिए वहां डाटा एनालिसिस हेतु  इस क्षेत्र से सम्बन्धित  स्किल्ड लोगों की आवश्यकता अधिक है |

वेतन 

इस क्षेत्र में फ्रेशर को वार्षिक वेतन लगभग एक लाख से एक लाख बीस हजार रुपये के मध्य प्राप्त होता है, अनुभव अधिक होनें पर वेतन भी अधिक हो सकता हैं | आठ से दस वर्ष के कार्य-अनुभव के पश्चात आप सीईओ के पद तक आसानी से पहुंच सकते हैं ।

ये भी पढ़े: प्रोग्रामर कैसे बने

यहाँ पर हमनें आपको ज्योग्राफिकल इन्फॉर्मेशन सिस्टम में कैरियर के विषय में बताया हैं, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूलें |

ये भी पढ़े: मार्केट रिसर्च के क्षेत्र में बेहतर करियर की संभावनाए

ये भी पढ़े: CDPO Kaise Bane – तैयारी कैसे करे

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी