सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने

कैसे बने – सॉफ्टवेयर इंजीनियर 

वर्तमान समय डिजिटल युग का है, इस डिजिटल युग में दिन –प्रतिदिन टेक्नोलॉजी का विस्तार होता जा रहा है,  आज कल जैसे- जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ती जा रही है, हमारे देश में अधिकांश छात्रों की रूचि कंप्यूटर क्षेत्र में देखनें की मिल रही है, क्योंकि इस विस्तृत क्षेत्र में करियर की संभावनाए अधिक है, जैसे – कम्पूटर हार्डवेयर इंजीनियर, सॉफ्टवेयर इंजीनियर, सिस्टम आपरेटर आदि, यदि आप एक सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहते है, तो, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

ये भी पढ़े: कम्प्यूटर एक्सपर्ट कैसे बने

ये भी पढ़े: प्रोग्रामर कैसे बने इसके लिए क्या करे

सॉफ्टवेयर इंजीनियर 

सॉफ्टवेयर इंजीनियर को सॉफ्टवेयर डेवलपर भी कहते है, सॉफ्टवेयर इंजीनियर बननें के लिए आपको कम्प्यूटर से सम्बंधित  जानकारी के साथ-साथ कोडिंग तथा कंप्यूटर भाषाओ का ज्ञान होना आवश्यक है, क्योंकि कंप्यूटर लैंग्वेज HTML, CSS+, JAVA SCRIPT, C, C++ के माध्यम से ही सॉफ्टवेयर डेवलप किये जाते है |

ये भी पढ़े: सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने

शैक्षिक योग्यता

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बननें के लिए किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से 12th विज्ञान वर्ग से 60 प्रतिशत अंको से उत्तीर्ण होना आवश्यक है |

  • कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग
  • बीसीए
  • बैचलर ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी

ये भी पढ़े: सफलता के लिए जरुरी है Focus

1.प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखे

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बननें के लिए कंप्यूटर की भाषाओं का ज्ञान होना आवश्यक है,  जैसे  C लैंग्वेज , C++ , Java , पाईथन , सी शार्प इत्यादि, क्योंकि सॉफ्टवेयर का निर्माण इन्ही भाषओं के माध्यम से किया जाता है, कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग , बीसीए  , बैचलर ऑफ़ इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी  जैसे डिग्री कोर्सेज में यह सभी भाषाए सिखाई जाती है |

  • C लैंग्वेज
  • C++ लैंग्वेज
  • Java लैंग्वेज
  • C शार्प लैंग्वेज

ये भी पढ़े: आईआईटी की तैयारी कैसे करे

2. प्रोग्रामिंग लॉजिक पर विशेष महत्व

यदि आप एक प्रोफेशनल सॉफ्टवेयर डेवलपर बनाना चाहते है, तो इसके लिए आपको अपने लॉजिक को बेहतर बनाना होगा, क्योंकि कंप्यूटर में बननें वाले सभी सॉफ्टवेयर में लॉजिक लगाना होता है, इसके लिए बैचलर डिग्री जैसे की कंप्यूटर साइंस इंजीनियरिंग में आपको अलग से लॉजिक बिल्डिंग का कोर्स होता है, जिसकी सहायता से आप अपने लॉजिक को इम्प्रूव कर सकते है |

ये भी पढ़े: प्रोग्रामर कैसे बने

3.सॉफ्टवेयर बनाना सीखे

कंप्यूटर भाषा का ज्ञान प्राप्त करनें के पश्चात, आपको सॉफ्टवेर को बनानें का प्रयास करना चाहियें,  इससे आपके अन्दर कोडिंग से सम्बंधित स्किल्स विकसित होगी और आप यह  समझ पाएंगे  कि, एक सॉफ्टवेयर कैसे बनता है, तथा सॉफ्टवेयर बनानें के लिए किन बातों का ध्यान रखना आवश्यक है |

ये भी पढ़े: कम्प्यूटर एक्सपर्ट कैसे बने

4.इंटर्नशिप करे

यदि आपने कंप्यूटर साइंस में डिग्री पूर्ण कर लिया है ,इसके पश्चात आपको छोटे सॉफ्टवेयर बनाना आ गया , तो आपको किसी कंपनी में एक फ्रेशेर इंटर्नशिप के लिए जाना चाहिए , इससे आपको समझ पाएंगे कि सॉफ्टवेयर किस तरह बनता है ? और आपकी कोडिंग स्किल्स और अधिक इम्प्रूव होती चली जाएगी , इसके साथ ही आपको सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट में अनुभव हो जायेगा |

ये भी पढ़े: अपने आप को Positive कैसे करे

5.कंप्यूटर एप्लीकेशन में मास्टर डिग्री करे

आप एक अच्छे सॉफ्टवेयर इंजिनियर बननें के साथ साथ अच्छी सैलरी भी प्राप्त करना चाहते है ,तो इसके लिए आपको कंप्यूटर में मास्टर डिग्री करना अति आवश्यक है | इसके लिए आप मास्टर इन कंप्यूटर साइंस, मास्टर इन कंप्यूटर एप्लीकेशन इत्यादि जैसे पाठ्यक्रम हेतु पढ़ाई कर सकते है |

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

सॉफ्टवेयर इंजिनियर बननें हेतु कोर्स

Software Courses Diploma in Web Hosting
Advanced Game Development Course Game Development Course
Data Bundle Course Joomla for Beginners
Database Basics Level 2 Certificate in Windows 7
Diploma in Cloud Computing Level 2 Certificate in Windows 8 OS
Diploma in Game Testing Programming and Database Course
Diploma in PC Security Programming for Beginners
Understanding Computer Virus Web Design Bundle Course
Video Creation Secrets Web Development Complete Cours

ये भी पढ़े: मल्टीमीडिया डिज़ाइनर के रूप में करियर कैसे बनाये 

सॉफ्टवेयर इंजीनियर बननें हेतु कालेज

  • देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी इंदौर
  • मद्रास क्रिस्चियन कालेज, चेन्नई
  • गुरु गोविन्द सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी ,दिल्ली
  • डी  ऑक्सफ़ोर्ड कालेज ऑफ़ साइंस बैंगलोर
  • नेताजी सुभाष इंस्टिट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी दिल्ली

ये भी पढ़े: विश्व में विख्यात टॉप 10 यूनिवर्सिटी की सूची

सैलरी (वेतन )

प्राइवेट कंपनियों में सॉफ्टवेयर इंजीनियर की प्रारंभ में सैलरी 10 से 15 हजार रुपये प्राप्त होती है, अनुभव बढ़नें के आधार पर इसके वेतन में वृद्धि होती रहती है, तथा एक अच्छी कम्पनी में वेतन लगभग 42 से 80 हजार तक प्राप्त होता है |

यहाँ आपको हमनें सॉफ्टवेर इंजीनियर बननें के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: भारत के प्रमुख शोध-संस्थान 

ये भी पढ़े: हैकर कैसे बने – जाने एथिकल हैकिंग के कोर्स

ये भी पढ़े: Interesting Facts & Articles in Hindi (बात काम की)