बिना कोचिंग के आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी

आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी

आईएएस (IAS) परीक्षा भारत की सबसे मुख्य परीक्षाओं में से एक है, जिसमें सफलता प्राप्त करने के लिए अथक मेहनत और प्रयास एवं पाठ्यक्रम के अनुसार तैयारी करने की आवश्यकता होती है, यदि आप के अंदर यह सभी क्षमताएं विद्यमान है और आप आत्मविश्वास से परिपूर्ण है, तो आपको किसी भी कोचिंग की आवश्यकता नहीं है, प्रत्येक विद्यार्थी के अंदर यह सभी क्षमताएं पहले से होती है, बस उन क्षमताओं को पहचान कर उनको निखारने की आवश्यकता होती है, सभी कोचिंग यही कार्य करती है, वह आपकी क्षमताओं की याद दिलाती है | इस पेज पर बिना कोचिंग के आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी करने के विषय में बताया जा रहा है |

ये भी पढ़े : आईएएस कैसे बने ?

ये भी पढ़े : भारत में कितने आईएएस (IAS) अफसर है

ये भी पढ़े: PCS कैसे बने

कोचिंग क्या करती है ?

कोचिंग संस्थान परीक्षा की तैयारी कराती है, परन्तु यदि इस पर सूक्ष्म तरीके से अध्ययन करे तो यह पता चलता है, कि वह हमारी क्षमताओं को जागृति करते है, कोचिंग संस्थान हमे परीक्षा के विषय पर चर्चा करते है और मोटिवेट करते है, जिसके बदले में वह मोटी फीस लेते है, इतनी फीस एक गरीब छात्र देने में असक्षम होते है, तो यहाँ पर एक प्रश्न उठता है, कि क्या गरीब छात्र कभी भी आईएएस (IAS) का पद नहीं प्राप्त कर सकते है ? इस प्रश्न पर विचार करते हुए यह पाया गया कि बिना कोचिंग के भी एक गरीब छात्र आईएएस (IAS) का पद प्राप्त कर सकता है | इस बिंदु पर विस्तार से चर्चा की जा सकती है, जिस पर काफी समय लग सकता है, परन्तु आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी पर चर्चा करना अत्यंत महत्वपूर्ण है |

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए

बिना कोचिंग के आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी

  • वर्तमान समय में लगभग सभी छात्रों के पास मोबाइल है, यह आपकी तैयारी में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वहन कर सकता है, आप इंटरनेट का प्रयोग करके अध्ययन सामग्री के विषय में जानकारी और तैयारी कर सकते है |
  • यूट्यूब पर आप को बहुत से चैनल प्राप्त हो जायेंगे, जो कि फ्री में आपकी तैयारी में सहायता कर सकते है |
  • आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी के लिए आपको सबसे पहले पाठ्यक्रम को सही से समझना चाहिए |
  • पाठ्यक्रम को समझने के बाद आपको पूर्व प्रश्न पत्रों को हल करना चाहिए, इससे आपको इस प्रतियोगिता में पूछे जाने वाले प्रश्नों के विषय में सही से जानकारी हो जाएगी |
  • आईएएस (IAS) परीक्षा का पाठ्यक्रम बहुत विशाल है, इसलिए आपको प्रत्येक दिन लगभग 10 से 11 घंटे तैयारी के लिए समय देना चाहिए |
  • आप अधिक से अधिक प्रैक्टिस सेट को हल करे, पहले आपको एक सेट हल करने में अधिक समय लगेगा फिर धीरे- धीरे यह समय कम होता चला जायेगा | इस प्रकार से आपके अंदर प्रश्नों को जल्दी हल करने की क्षमता का विकास होगा |
  • आपको प्रत्येक दिन दैनिक समाचारपत्र का अध्ययन करना चाहिए | दैनिक समाचार पत्र में आपको राष्ट्रीय, प्रादेशिक और सम्पादकीय तथा खेल समाचार का सही से अध्ययन करना चाहिए | इसे अधिक दिन याद रखने के लिए आप एक नोट बुक बनाये उसमे आप इसके विषय में लिखे और सम्बंधित चित्र को काट कर नोट बुक में चिपकाये | इससे आप उसे अधिक दिन तक याद रख सकते है | यह प्रक्रिया आप प्रत्येक विषय के लिए कर सकते है, जो आपको जल्दी याद नहीं होते है |
  • आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी करने में आपको दृढ़ संकल्प और धैर्य बनाये रखने की आवश्यकता है | आपको तब तक नहीं रुकना है, जब तक आप सफलता प्राप्त न कर ले |

ये भी पढ़े: अपने अंदर के Talent को कैसे पहचाने

ये भी पढ़े: सफलता के लिए जरुरी है Focus

ये भी पढ़े: किसी भी subject को कैसे याद किया जाए

पाठ्यक्रम

विषय विभाजन पाठ्यक्रम विवरण
इतिहास

भारत का इतिहास

और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन

प्राचीन भारतीय इतिहास

मध्यकालीन भारतीय इतिहास

आधुनिक भारतीय इतिहास

भूगोल

भारत एंव विशव भूगोल

प्राकृतिक भूगोल

मानवीय भूगोल

आर्थिक भूगोल

भारतीय राज्यतंत्र और शासन भरतीय संविधान

राजनैतिक प्रणाली

पंचायती राज

लोक नीति

अधिकारों सम्बंधी मुद्दे आदि

अर्थव्यवस्था

आर्थिक एंव सामाजिक विकास

सतत् विकास

गरीबी समावेशन

जंसंख्यिकी

सामाजिक क्षेत्र में की गई पहल आदि

पर्यावरण और पारिस्थितिकीय

पर्यावरण और पारिस्थितिकी के सिद्धांत

जैव-विविधता और मौसम परिवर्तन

सामान्य सिद्धांत सम्बंधी सामान्य मुद्दे

विभिन्न शिखर सम्मेलन

सामान्य विज्ञान

भौतिक विज्ञान, रसायन विज्ञान, जीव विज्ञान और प्रौद्योगिकी

सामान्य सिद्धांत

प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में नवीनतम विकास

सामयिक घटनाएं

इस में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय महत्व के सभी घटनाएं शामिल हैं

सामयिकी

करंट अफेयर्स विश्लेषण

सभी आयामों के साथ करंट अफेयर्स

सिविल सेवा परीक्षा में कोचिंग की आवश्यकता कब नहीं होती है?

  • जब आपको स्वयं पर पूरा विश्वास हो जाये, कि आप अपनी मेहनत और सूझबूझ से इस परीक्षा को क्रैक कर सकते हैं |
  • आप यूपीएससी के पैटर्न को सही से समझ ले और उसके बाद परीक्षा की रणनीति बनाये एक बार सही रणनीति बनने के बाद आपको कोचिंग संस्थानों की आवश्यकता नहीं पड़ेगी |
  • आपको आईएएस (IAS) परीक्षा के लिए आवश्यक पुस्तकों और वेबसाइट के विषय में सही से जानकारी होनी चाहिए, जिससे आप प्रत्येक न्यूज़ से अपडेट रहें |
  • आप स्वयं को मोटीवेट करते रहे जिससे आप के अंदर उत्साह सदैव बना रहे जब भी आपको इसमें कमी लगे तो आप कोई मोटिवेटेड विडिओ यह पुस्तक को पढ़ सकते है |
  • आपको पहले बन चुके आईएएस (IAS) के इंटरव्यू को देखना चाहिए जिससे आपको प्रेरणा प्राप्त होगी |

यहाँ पर हमनें आपको बिना कोचिंग के आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: आईपीएस (IPS) कैसे बने

ये भी पढ़े: IRS (Indian Revenue Service) Officer कैसे बने

ये भी पढ़े: UPPSC सिलेबस की सम्पूर्ण जानकारी