भैया दूज कब है

भैया दूज दीपावली पर्व के अंतिम दिन मनाया जाता है, यह भाई -बहन के प्रेम का त्यौहार है, इसे सम्पूर्ण भारत में मनाया जाता है, इस दिन बहन अपने भाई को तिलक लगाकर भाई के उज्जवल भविष्य और लम्बी आयु की कामना करती है | जिसके बाद भाई अपनी बहन को उपहार देता है | भैया दूज कार्तिक मास के शुक्ल पक्ष की द्वितीय तिथि को मनाया जाता है | हिंदू धर्म में भाई-बहन के स्नेह को प्रतीक के रूप में इसे माना जाता है | भैया दूज क्या है, इसे कैसे मानते है ? इससे सम्बंधित सम्पूर्ण जानकारी आपको इस पेज पर विस्तार से दे रहे है |

ये भी पढ़े: दीपावली कब है 2019 में, दीपावली शुभकामना सन्देश

ये भी पढ़े: दिवाली (दीपावली) का त्यौहार कैसे मनाया जाता है

भैया दूज कब है ?

इस वर्ष भैया दूज 9 नवंबर 2018 को है, यह दीपावली पर्व के अंतिम दिन मनाया जाता है | इस वर्ष दीपावली 7 नवंबर 2018 को है, इसके दूसरे दिन गोवर्धन पर्व है, गोवर्धन पर्व के दूसरे दिन भैया दूज है |

25 अक्टूबर 2019 धनतेरस
26 अक्टूबर 2019 छोटी दिवाली
27 अक्टूबर 2019 दिवाली
28 अक्टूबर 2019 गोवर्धन पूजा
29 अक्टूबर 2019 भैया दूज

ये भी पढ़े: छठ पूजा कब है

भाई दूज कैसे मनाते है ?

भाई दूज

ये भी पढ़े:  धनतेरस पर क्या खरीदना चाहिए

भाई दूज का त्यौहार, भाई-बहन के अटूट प्रेम और रिश्ते का त्यौहार है, हिन्दू शास्त्र के अनुसार इस दिन स्नान करने के पश्चात भगवान विष्णु और श्री गणेश जी की पूजा करनी चाहिए | इस पूजा का इस दिन विशेष महत्व है | पूजा करने के बाद बहन को अपने भाई को तिलक लगाना चाहिए | जब तक भाई का तिलक न हो तब तक बहन को व्रत रखना चाहिए |

हिन्दू धर्म में स्कंदपुराण के अनुसार इस दिन भाई को बहन के घर जाकर भोजन करना चाहिए, क्योंकि  यह अत्यंत शुभ माना जाता है | यदि बहन का विवाह नहीं हुआ है, तो इस दिन भाई को उसके हाथो से बना हुआ भोजन करना चाहिए | यदि भाई के कोई बहन नहीं है, तो वह अपने चाचा, मामा की पुत्री से तिलक लगवा कर भोजन कर सकते है

भोजन करने के पश्चात भाई बहन को उपहार देता है, उपहार में वह गहने, वस्त्र, इत्यादि दे सकता है | इस दिन यमुना जी के तट पर स्नान करने का विशेष महत्व है | अगर आप यमुना तट पर भोजन भी करते है, तो इसे बहुत ही शुभ माना जाता है |

इस दिन के लिए पुराणों में कहा गया है, कि कार्तिक माह के शुक्लपक्ष की द्वितीय को जो भाई अपनी बहन का आतिथ्य स्वीकार करता है उसे यमराज का भय नहीं रहता है | उस भाई की आयु लम्बी रहती है |

 सम्बंधित जानकारी (Related Links)

भाई दूज का शुभ मुहूर्त

भाई दूज के दिन टीका करने का मुहूर्त 01:11 से 03:23
मुहूर्त की अवधि 02 घंटे 12 मिनट
द्वितीय तिथि का आरंभ 29 अक्टूबर 2019 , मंगलवार  को 6.13 से होगा, इसका समापन 30 अक्टूबर 2019, बुधवार को 03:48 पर होगा |

ये भी पढ़े: दीपावली में फ्लिपकार्ट से शापिंग कैसे करे 

यहाँ पर हमनें आपको भैया दूज मानाने और शुभ मुहूर्त के विषय में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: दीपावली शुभकामना सन्देश 

ये भी पढ़े: भारत की राष्ट्रभाषा क्या है ?

ये भी पढ़े: विश्व मे कितने देश है