स्क्रूटनी का मतलब क्या होता है (Scrutiny Meaning in Hindi)

 स्क्रूटनी फॉर्म और रिजल्ट (Scrutiny Form And Result) 

परीक्षाएं समाप्त होने के बाद परीक्षा फल की घोषणा की जाती है, जो अभ्यर्थी परीक्षा में सम्मिलित होते है, वह एक नियत तिथि को बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से अपना परीक्षाफल देख सकते है| परीक्षाफल में कई बच्चें अच्छे नंबरों से उत्तीर्ण हो जाते है और कई बच्चें कम अंक के साथ उत्तीर्ण होते है तथा बहुत से बच्चें अनुत्तीर्ण हो जाते है| यदि आप को लगता है, कि आपने परीक्षा में पूछे गए सभी प्रश्नों का उत्तर सही दिया है, फिर भी आपको कम अंक या अनुत्तीर्ण कर दिया गया है, तो अब आपके पास कौन से विकल्प है ? जिसके माध्यम से आप अधिक अंक या उत्तीर्ण हो सकते है| इस पेज पर स्क्रूटनी का मतलब क्या होता है,  तथा स्क्रूटनी फॉर्म और रिजल्ट के विषय में बताया जा रहा है|

ये भी पढ़ें: शिक्षा का अधिकार अधिनियम (RTE) क्या है

स्क्रूटनी का मतलब क्या होता है (What does Scrutiny mean) ?

स्क्रूटनी का अर्थ संवीक्षा होता है, स्क्रूटनी में परीक्षा की कापियों में न जांचने वाले प्रश्नों को जांचा जाता है और कुल अंकों की गणना की जाती है, यदि गणना में किसी भी प्रकार की त्रुटि पायी जाती है, तो वह सही की जाती है| यहाँ पर यह स्पष्ट कर देना आवश्यक है कि परीक्षा में चेक किये गए प्रश्नों को पुनः चेक नहीं किया जाता है| यदि आपने किसी प्रश्न का उत्तर सही दिया है और वह पांच अंको का है और परीक्षक ने केवल दो अंक ही दिए है तो ऐसे प्रश्नों को दोबारा नहीं जांचा जाता है| स्क्रूटनी में केवल न जांचने वाले प्रश्नों को जांचा जाता है और अंकों के टोटल को सही किया जाता है |.

ये भी पढ़ें: बेसिक शिक्षा अधिकारी (BSA) कैसे बने ?

स्क्रूटनी फॉर्म (Scrutiny Form)

परीक्षा परिणाम घोषित होने के कुछ दिन के बाद बोर्ड अपनी आधिकारिक वेबसाइट पर स्क्रूटनी फॉर्म के लिए आवेदन की मांग करता है, यदि आप इसके लिए आवेदन करते है तो आपको प्रति पेपर के लिए निर्धारित फीस का भुगतान करना होगा|

ये भी पढ़े: विदेश में पढ़ने के लिए जानिये कैसे ले Bank से Education लोन

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

स्क्रूटनी रिजल्ट (Scrutiny Result)

स्क्रूटनी आवेदन करने के बाद बोर्ड के द्वारा कापियों का दोबारा परिक्षण किया जाता है, जिसमे यदि किसी प्रकार की त्रुटि पायी जाती है, तो उसे सही किया जाता है और निर्धारित तिथि को स्क्रूटनी रिजल्ट बोर्ड की वेबसाइट पर घोषित कर दिया जाता है| स्क्रूटनी रिजल्ट में कई छात्रों के अंक बढ़ जाते है और कई छात्रों के अंक नहीं बढ़ते है|

ये भी पढ़े: Career In Law After 12th-Graduation

यहाँ पर हमनें आपको ग्राम पंचायत नई वोटर लिस्ट के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: बीटेक (B.Tech) कैसे करे – योग्यता, फीस

ये भी पढ़े: कंप्यूटर एक्सपर्ट(Computer Expert) कैसे बने

ये भी पढ़े: भारतीय वायु सेना कैसे ज्वाइन करे ?