विदेश में पढ़ने के लिए जानिये कैसे ले Bank से Education लोन

विदेश में पढाई हेतु Bank से Education लोन

भारत सरकार नें सभी छात्रों के लिए विदेश में उच्च शिक्षा प्राप्त करने के लिए एजुकेशन लोन अर्थात शिक्षा हेतु ऋण की सुविधा प्रदान की है, जिसके माध्यम से आप अपनी आगे की पढ़ाई को सुचारु ढंग से कर सकते है, प्रत्येक वह छात्र जो अपने सपने को पूरा करना चाहता है, आसानी से उच्च शिक्षा प्राप्त कर सकता है, अभिवावकों को भी इससे बहुत ही सहायता प्राप्त होती है, जिससे वह अपने बच्चों की फीस के लिए निश्चित रहते है, यदि आप भी विदेश में पढ़ने के लिए Bank से Education लोन लेना चाहते है, तो इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

ये भी पढ़े: इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) क्या है ?

ये भी पढ़े: Marksheet Loan कैसे मिलता है

बैंक में लोन लेने की पात्रता

1.छात्र की आयु 16 से 35 वर्ष के मध्य होना आवश्यक है |

2.वह भारतीय नागरिक हो |

3.इंस्टिट्यूट या कॉलेज में एडमिशन कन्फर्म हो गया हो |

ये भी पढ़े: बैंक में क्लर्क कैसे बने

लोन में सम्मिलित होने वाले खर्च

लोन के अंतर्गत आपको स्कूल, कॉलेज और हॉस्टल की फीस,इक्विपमेंट, इंस्ट्रूमेंट्स,लाइब्रेरी और लेबोरेट्री की फीस, यूनिफॉर्म खरीदनें के लिए, स्टडी टूर, प्रोजेक्ट वर्क,विदेश में पढ़ाई के लिए यात्रा खर्च, थीसिस आदि खर्च को सम्मिलित किया गया |

ये भी पढ़े: कैंपस प्लेसमेंट की तैयारी कैसे करे

आवश्यक डाक्यूमेंट

1.छात्र का आइडेंटिटी प्रूफ |

2.एज प्रूफ |

3.एकेडमिक रिकॉर्ड और एड्रेस प्रूफ  |

4.लोन लेने वाले छात्र के गार्जियन या पैरेंट्स के साथ उसके रिलेशन उनके इनकम और एड्रेस का प्रूफ को जमा किया जाता है |

5.जिस संस्थान में आप प्रवेश लेना चाहते हैं, वहां के एडमिशन लेटर की कॉपी होना अति आवश्यक है |

6.अब्रॉड स्टडी के लिए जाने वाले छात्र का वीजा अप्रूवल |

7.जीआरई, जीमैट आदि के टेस्ट स्कोर और यात्रा सम्बन्धी दस्तावेज की कॉपी जमा करनी पड़ती है |

8.जिस बैंक से आप  एजुकेशन लोन लेना चाहते है, उस बैंक में आपका बैंक अकाउंट होना आवश्यक है, जिससे आपको लोन लेने में आसानी होती है |

ये भी पढ़े: होम लोन कैसे ले – ब्याज दर, जरूरी कागजात की जानकारी

गारंटर

अधिकतर बैंकों में चार लाख रुपये तक के लोन के लिए गारंटर की आवश्यकता नहीं होती है, परन्तु इससे अधिक के लिए आपको गारंटर की आवश्यकता होती है, आप अपने माता-पिता या रिश्तेदारों को गारंटर बना सकते जिन पर बैंक को विश्वास  हो, अधिकांश बैंक भारत में पढ़ने के लिए 5 से 15 लाख रुपये और विदेश में पढ़ाई करने के लिए 20 से 25 लाख रुपये तक का लोन देते हैं, गारंटर की सहायता से 4 से 7.5 लाख रुपये तक लोन आसानी से मिल जाता है, परन्तु इससे अधिक लोन के लिए बैंक आपकी प्रॉपर्टी के पेपर्स को जमानत के रूप में जमा कराती है |

ये भी पढ़े: मंथली एवरेज बैलेंस (Monthly Average Balance) क्या है

ब्याज दर

1.सभी बैंको की ब्याज दर अलग-अलग होती है, एजुकेशल लोन पर ब्याज दर अधिकांश 11 से 14 प्रतिशत होती है, परन्तु कुछ बैंक इससे अधिक भी ब्याज लेते हैं, इसके अतिरिक्त कई बैंक छात्राओं के लिए ब्याज दर छूट प्रदान करते है |

2.कई बैंक लोन की राशि पर दो प्रतिशत तक प्रोसेसिंग फीस भी लेते हैं |

3.सभी तरह के स्टूडेन्ट लोन के ब्याज भुगतान पर इन्कम टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 80-ई के अंतर्गत टैक्स में छूट प्रदान की जाती है |

ये भी पढ़े: कैसे भरे सरकारी नौकरियों के ऑनलाइन फॉर्म

यहाँ पर हमनें आपको विदेश में पढ़ने के लिए Bank से Education लोन प्राप्त करनें के विषय में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: भारत के टॉप 10 लॉ कॉलेज 

ये भी पढ़े: विश्व मे कितने देश है, इनकी राजधानी एवं मुद्रा

ये भी पढ़े: मेडिकल-इंजीनियरिंग के अलावा ये कोर्स दे सकते है रोज़गार