सर्जिकल स्ट्राइक क्या है और कैसे होता है ?

सर्जिकल स्ट्राइक से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी 

सर्जिकल स्ट्राइक सेना द्वारा किया गया एक गुप्त मिशन है, जिसमें  वह रात्रि में अपने निर्धारित लक्ष्य को पूरी तरह से नष्ट करते है, इसके लिए सेना पूरी तरह से तैयारी करती है, और इस मिशन के लिए निर्धारित किये गए कमांडो को विशेष ट्रैनिंग प्रदान करती है, निर्धारित समय पर सेना द्वारा अपने कमांडो को उस स्थान पर पहुंचाया जाता है, वह कमांडो उस स्थान पर जाकर कार्य को अंजाम देते है, और सुरक्षित रूप से वापस आने का प्रयास करते है, इस प्रकार के ऑपरेशन को सर्जिकल स्ट्राइक कहते है, सर्जिकल स्ट्राइक क्या है, और कैसे होती है ? इसके विषय में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

ये भी पढ़े: विश्व मे कितने देश है, इनकी राजधानी एवं मुद्रा

 सर्जिकल स्ट्राइक क्या होता है ?

सर्जिकल स्ट्राइक एक सुनियोजित सैन्य कारवाई होती है, इसका मुख्य उद्देश्य किसी निश्चित लक्ष्य पर पूरी शक्ति के साथ हमला करना है, जब तक वह पूरी तरह से समाप्त न हो जाये, इस कार्यवाही में इस बात का ध्यान रखा जाता है, कि आस-पास के लोगों या उनकी किसी भी प्रकार की सम्पति का कोई नुकसान न होने पाए, इस प्रकार के ऑपरेशन को सफल बनानें के लिए सरकार, खुफिया एजेंसियों और सेना के बीच संतुलन बना रहता है, यह एक बहुत जल्दी और प्रभावपूर्ण कार्यवाही होती है, इस कार्यवाही के बाद किसी भी अप्रिय घटना के लिए अतिरिक्त सैन्य बल तैयार रहता है, जिसको मात्र निर्देश प्राप्त होने की आवश्यकता होती है |

सर्जिकल स्ट्राइक की घटना को अंजाम देना

सर्जिकल स्ट्राइक के अंतर्गत जिस स्थान पर हमला करना होता है, उस स्थान की सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त कर ली जाती है, और उसी के अनुसार योजना बनायीं जाती है, इसके विशेष कमांडो की एक टुकड़ी या दस्ता को तैयार किया जाता है, और उनको गोपनीय तरीके से विशेष ट्रेनिंग दी जाती है, ट्रेनिंग में उनको उस स्थान की पूरी जानकारी दे दी जाती है, फिर उनको गुप-चुप तरीके से अपने लक्ष्य तक पहुंचाया जाता है, इसके बाद अपने दुश्मनों को संभलनें का मौका दिए बगैर उन पर चारों तरफ से हमला कर दिया जाता है और उनको पूरी तरह से नष्ट कर दिया जाता है, इस प्रकार की सर्जिकल स्ट्राइक अधिकांश देर रात को की जाती है |

ये भी पढ़े: यूनेस्को द्वारा घोषित भारत के 37 विश्व धरोहर स्थल की सूची

उदाहरण के रूप में म्यांमार में किया गया गुप्त ऑपरेशन है, यह ऑपरेशन आतंकवादियों द्वारा मणिपुर के चंदेल जिले में सेना के एक काफिले पर घात लगाकर किये गए हमले का जवाब था, जिसमें हमारे 18 सैनिक शहीद हो गए थे, यह हमला आतंकवादियों द्वारा किया गया पिछले दो दशकों में सबसे बड़ा हमला था |

पिछले वर्ष भारत नें आतंकवाद के विरुद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति का उदाहरण दिया है, जिसमें सेना नें नियंत्रण रेखा को पार करते हुए आतंकवादियों के ठिकानों को लक्ष्य बना कर सर्जिकल स्ट्राइक की घटना को अंजाम दिया गया |

यहाँ पर हमनें आपको सर्जिकल स्ट्राइक क्या है और यह किस प्रकार होती है के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी हैं, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: धारा 370 क्या है