राष्ट्रीय गान क्या होता है?

राष्ट्रीय गान (National Anthem) के विषय में जानकारी

विश्व में कई देश है, सबकी संस्कृति, भाषा और धरोहर अलग- अलग है | प्रत्येक देश अपने यहाँ की संस्कृति के अनुसार ही अपनी नीतियां तय करता है और संविधान का निर्माण करता है, संविधान में राष्ट्रीय गान, राष्ट्रीय गीत और राष्ट्रीय प्रतीक तथा झंडे का उल्लेख किया जाता है, जिससे उस देश की अलग पहचान होती है | प्रत्येक देश को सम्प्रभुता को प्राप्त करने के लिए यह सभी अत्यंत आवश्यक है | इस पेज पर राष्ट्रीय गान क्या होता है, भारत का राष्ट्रगान, नियम के विषय में जानकारी दी जा रही है |

ये भी पढ़ें: 1947 में भारत कैसे आज़ाद हुआ था ?

ये भी पढ़ें: 26 जनवरी को ही क्यों लागू हुआ संविधान

राष्ट्रीय गान (National Anthem) क्या है?

राष्ट्रीय गान देश के द्वारा संवैधानिक रूप से मान्य होता है | संविधान के द्वारा इसे विशेषाधिकार प्रदान किया जाता है | इसमें देश की उन्नति और समृद्धि और देश भक्ति से सम्बंधित भावनाओं का उल्लेख किया जाता है, इसके सुनने और समझने के बाद राष्ट्र प्रेम अटूट होता है और देश के लिए सबकुछ न्यौछावर करने की भावना का जन्म होता है, यह उत्साह और समर्पण के से भरा होता है |

ये भी पढ़ें: महात्मा गांधी की जीवनी

भारत का राष्ट्रगान (National Anthem of India)

जन-गण-मन अधिनायक जय हे

भारत भाग्य विधाता।

पंजाब-सिंधु-गुजरात-मराठा

द्राविड़-उत्कल-बंग

विंध्य हिमाचल यमुना गंगा

उच्छल जलधि तरंग

तव शुभ नामे जागे, तव शुभ आशीष मांगे

गाहे तव जय-गाथा।

जन-गण-मंगलदायक जय हे भारत भाग्य विधाता।

जय हे, जय हे, जय हे, जय जय जय जय हे |

ये भी पढ़ें: महात्मा गांधी के आंदोलन के नाम

राष्ट्रीय गान के सम्मान के लिए नियम

  • राष्ट्रीय गान गाते समय इसका उच्चारण बिलकुल सही होना चाहिए |
  • राष्ट्रीय गान को 52 सेकेंड की अवधि में ही गाया जाता है |
  • राष्ट्रीय गान गाते समय सदैव सावधान की मुद्रा में खड़े रहना चाहिए |
  • सर्वोच्च न्यायालय के दिशा निर्देश के द्वारा सिनेमा घरों में प्रत्येक शो के पहले राष्ट्रीय गान को अनिवार्य किया गया है |
  • राष्ट्रगान के के लिए “प्रिवेंशन ऑफ इंसल्ट्स टू नेशनल ऑनर एक्ट, 1971” में कई प्रावधान किये गए है, जिसके अनुसार राष्ट्रगान का अपमान करने पर तीन साल तक की कैद या जुर्माना हो सकता है |
  • प्रिवेंशन ऑफ इंसल्ट्स टू नेशनल ऑनर एक्ट में जान-बूझ कर किसी को राष्ट्रगान गाने से रोकने या गा रहे समूह को बाधा पहुंचाने पर तीन साल तक की कैद या जुर्माना या दोनों का प्रावधान किया गया है |
  • राष्ट्रगान के समय किसी भी व्यक्ति को परेशान नहीं किया जा सकता |
  • राष्ट्रगान के समय अशांति, शोर-गुल अथवा अन्य गानों तथा संगीत को नहीं बजाना चाहिए |

ये भी पढ़ें: भारत का नक्शा किसने बनाया

यहाँ पर हमनें राष्ट्रीय गान क्या होता है, भारत का राष्ट्रगान क्या है, नियम के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़ें: भारत के पड़ोसी देश और उनकी राजधानी, मुद्रा

ये भी पढ़ें: क्या है भारत चीन सीमा विवाद ?

ये भी पढ़ें: भारत में कुल कितने राज्य हैं

ये भी पढ़ें: भारतीय संविधान की प्रस्तावना (उद्देशिका) क्या है