दुनिया के सबसे अमीर देशों की सूची

दुनिया के सबसे अमीर देशों की सूची

किसी भी देश की प्रति व्यक्ति आय की गणना से उस देश की आर्थिक स्थिति का आकलन किया जा सकता है | प्रति व्यक्ति आय बढ़ने से ही व्यक्ति की क्रय शक्ति में वृद्धि संभव है | विश्व को आर्थिक स्थिति के अनुसार ही दो भागों में विभाजित किया गया है, एक विकसित देश दूसरा विकासशील देश | विकसित देश के लोगों की प्रति व्यक्ति आय अधिक होती है और उनका जीवन स्तर उच्च होता है तथा विकाशील देश के लोगों की प्रति व्यक्ति आय कम होती है | दुनिया के सबसे अमीर देशों की सूची के बारे में जानकारी दे रहे है |

ये भी पढ़े: भारत के सबसे अमीर व्यक्तियों की सूची

ये भी पढ़े: विश्व मे कितने देश है, इनकी राजधानी एवं मुद्रा

दुनिया के सबसे अमीर देश

क्र०सं०देश प्रति व्यक्ति क्रय शक्ति (डॉलर)
1कतर127,523
2लक्समबर्ग105,882
3सिंगापुर87,856
4ब्रुनेई77,441
5संयुक्त अरब अमीरात72,419
6आयरलैंड68,883
7स्विट्जरलैंड62,882
8नॉर्वे59,302
9संयुक्त राज्य अमेरिका57,467
10सऊदी अरब54,431

ये भी पढ़े: विश्व में विख्यात टॉप 10 यूनिवर्सिटी की सूची

कतर

कतर विश्व का सबसे अमीर देश है | यह अरब प्रायद्वीप के उत्तर पूर्वी तट पर स्थित एक छोटा प्रायद्वीप देश है, इसके तीन ओर फारस की खाड़ी है, यह देश एक तेल समृद्ध है | कुवैत में वर्ष 1783 में अल खलीफ वंश ने यहां शासन करना प्रारम्भ किया था | वर्ष 1971 में स्वतंत्रता प्राप्त करने के बाद खलीफा बिन हमद का शासन यहाँ पर प्रारम्भ हुआ |

लक्समबर्ग

यह देश पश्चिमी यूरोप के मध्य में स्थित है, सबसे अधिक यहाँ पर कम्यून आबादी निवास करती है | लक्समबर्ग की सीमाएं पश्चिम में बेल्जियम, फ़्रांस और दक्षिण जर्मनी से लगती है, इसका कुल क्षेत्रफल 2586.04 किमी० है |  यहाँ की मुद्रा यूरों है | यह एक धर्मनिरपेक्ष देश है |

ये भी पढ़े: यूनेस्को द्वारा घोषित भारत के 37 विश्व धरोहर स्थल की सूची

सिंगापुर

सिंगापुर एक लोकतांत्रिक देश है, यहाँ पर ली कुआन यू सबसे प्रभावशाली नेता थे, इन्होंने यहां पर 31 वर्ष तक शासन किया था | इनके शासन काल में सिंगापुर में व्यापार में बहुत ही अधिक प्रगति हुई | यहाँ पर संसद एक सदन वाली है, जिसे कानून बनाने का अधिकार प्राप्त है |

ब्रुनेई

ब्रुनेई एक राजतन्त्र देश है | यह पूर्व में एक समृद्ध मुस्लिम सल्तनत के रूप में जाना जाता था | वर्ष 1888 में ब्रिटिश गवर्नमेंट के अधिकार में था | वर्ष 1941 में जापान ने इस पर अधिकार प्राप्त कर लिया था | वर्ष 1945 में  ब्रिटेन ने पुनः इस पर अधिकार कर लिया | वर्ष 1971 में ब्रुनेई को आंतरिक स्वशासन का अधिकार प्रदान किया गया | वर्ष 1984 में इसे स्वतंत्र राष्ट्र घोषित किया गया |

संयुक्त अरब अमीरात

संयुक्त अरब अमीरात की स्थापना वर्ष 1971 को फारस की खाड़ी के सात शेख राज्यों आबू धाबी, शारजाह, दुबई, उम्म अल कुवैन, अजमान, फुजइराह तथा रस अल खैमा को मिलाकर की गयी थी |

ये भी पढ़े: भारत के पड़ोसी देश और उनकी राजधानी

आयरलैण्ड

आयरलैण्ड को आयरलैण्ड गणराज्य के नाम से भी जाना जाता है | वर्ष 1949 को आधिकारिक रूप से गणतंत्र घोषित किया गया था |

स्विट्जरलैंड

स्विट्जरलैंड मध्य यूरोप का एक देश है, यह एक लोकतन्त्र देश है, प्राकृतिक रूप से यह बहुत ही सुन्दर है |

नॉर्वे

नॉर्वे यूरोप महाद्वीप में स्थित एक देश है, इसकी राजधानी है ओस्लो है | नॉर्वे का राष्ट्रीय दिवस 17 मई को मनाया जाता है |

संयुक्त राज्य अमेरिका

संयुक्त राज्य अमेरिका एक अत्यधिक विकसित देश है, अमेरिका में विश्व की कुल संपत्ति का लगभग 40% भाग स्थित है |

ये भी पढ़े: क्या है भारत चीन सीमा विवाद ?

सउदी अरब

सउदी अरब की स्थापना वर्ष 1750 में  सउद द्वारा की गई थी, यह एक इस्लामी राजतंत्र है | सउदी अरब मध्यपूर्व में स्थित एक सुन्नी मुस्लिम देश है |

यहाँ पर हमनें आपको दुनिया के सबसे अमीर देशों की सूची के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: धारा 370 क्या है

ये भी पढ़े: सर्जिकल स्ट्राइक क्या है और कैसे होता है ?

ये भी पढ़े: भारत के प्रमुख शोध-संस्थान (India’s Major Research Institute)