पटवारी कैसे बने, भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे करे

पटवारी कैसे बने 

राजस्व विभाग में पटवारी या लेखपाल पद का सृजन किया गया है, इस पद को कुछ राज्यों में पटवारी, पटेल, कारनाम अधिकारी, शानबोगरु आदि के नाम से जाना जाता है | एक पटवारी को जाति, आय, निवास प्रमाण पत्र मुख्य कार्य होते है इसके अतिरिक्त उसे भूमि की पैमाइश तथा सरकारी निर्देशानुसार कार्य करने पड़ते है | इनकी नियुक्ति तहसील में होती है और इन्हें एक क्षेत्र प्रदान किया जाता है, उस क्षेत्र की भूमि से सम्बंधित सभी समस्या के प्रति लेखपाल या पटवारी जिम्मेदार होते है | इस पेज पर पटवारी बनने के लिए  योग्यता, वेतन, भर्ती परीक्षा की तैयारी के विषय में बताया जा रहा है |

ये भी पढ़े : लेखपाल कैसे बने

पटवारी बने  

राज्य सरकार द्वारा रिक्त पदों के लिए अधिसूचना जारी की जाती है, अधिसूचना में योग्यता, पदों की संख्या तथा परीक्षा के विषय में पूरी जानकारी दी जाती है | आप इसके अनुसार आवेदन कर सकते है, आवेदन करने के बाद परीक्षा का आयोजन किया जाता है, परीक्षा संपन्न होने के बाद परिणाम घोषित किया जाता है, परिणाम के बाद आरोही क्रम में मेरिट का निर्माण किया जाता है, यदि आपको अच्छे अंक प्राप्त होंगे, तो आपको चयन प्रक्रिया में सम्मिलित किया जायेगा | इसके बाद आपको डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए बुलाया जाता है, जिन अभ्यर्थियों के डॉक्यूमेंट सही पाए जाते है, उन्हें नियुक्ति पत्र प्रदान किया जाता है |

ये भी पढ़े: ग्राम विकास अधिकारी कैसे बने

शैक्षिक योग्यता 

पटवारी या लेखपाल के लिए शैक्षिक योग्यता इंटरमीडिएट है, इसके अतिरिक्त निएलिट द्वारा प्रमाणित (कोर्स ऑन कम्‍प्‍यूटर कॉनसेप्‍ट्स) सीसीसी प्रमाण पत्र होना अनिवार्य है |

आयु सीमा

पटवारी पद के लिए न्यूनतम आयु 18 वर्ष तथा अधिकतम 40 वर्ष निर्धारित की गयी है | आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को नियमानुसार छूट प्रदान की गयी है |

ये भी पढ़े: तहसीलदार कैसे बने

पटवारी का वेतन

राज्य सरकार द्वारा पटवारी का वेतन 5200 – 20200 ग्रेड पे 2100 निर्धारित किया गया है, इसके अनुसार कुल वेतन लगभग 25000 रुपये प्रदान किया जाता है |

भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे करे

पटवारी पद के लिए भर्ती का आधार लिखित परीक्षा है, इससे पूर्व लिखित परीक्षा के बाद साक्षात्कार लिया जाता है, परन्तु वर्तमान समय में साक्षात्कार को हटा दिया गया है |

ये भी पढ़े: किसी भी subject को कैसे याद किया जाए

परीक्षा पैटर्न

क्रम स० विषय अंक प्रश्नों की सं०
1. सामान्य हिंदी 25 25
2. गणित 25 25
3. सामान्य ज्ञान 25 25
4. गांव ग्राम समाज और विकास 25 25

ये भी पढ़े: लोक कल्याण मित्र कैसे बनें ?

परीक्षा पाठ्यक्रम

सामान्य हिंदी सामान्य हिंदी के अंतर्गत, अलंकार, विलोम, पर्यायवाची, रस, संधियों, तद्भाव समान, वचन, कारक, काल, लोकोक्तियां, मुहावरे, वाक्यांशों के लिए एक शब्द, अनेकार्थी शब्द वाक्य-संशोधन-वचन, वर्तनी, आदि से सम्बंधित प्रश्न पूछें जाते है |
गणित गणित पाठ्यक्रम के अंतर्गत, आवृत्ति, आवृत्ति वितरण, सारणीकरण, संचयी आवृत्ति। तथ्यों का निर्धारण, बार चार्ट, पाई चार्ट, हिस्टोग्राम, आवृत्ति बहुभुज, केंद्रीय माप: समानांतर मीन, माध्य और मोड और बहुपद, संख्या प्रणाली, प्रतिशत, लाभ हानि, सांख्यिकी, तथ्यों का वर्गीकरण आदि के बारें में पूछा जाता है |

 

बीजगणित

एलसीएम और एचसीएफ के बीच संबंध, एलसीएम और एचसीएफ, समकालीन समीकरण, द्विघात समीकरण, कारक, क्षेत्र प्रमेय आदि के बारें में पूछा जाता है |

 

रेखागणित

आयत, स्क्वायर, ट्रैपेज़ियम, पेरेमिल्रोग्राम के परिधि और क्षेत्र, त्रिभुज और पाइथागोरस प्रमेय परिधि और सर्किल क्षेत्र आदि |

 

सामान्य ज्ञान सामान्य विज्ञान

भारतीय इतिहास, स्वतंत्रता आंदोलन, भारतीय राजनीति और अर्थशास्त्र, विश्व भूगोल और जनसंख्या, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व के वर्तमान मामले, आदि के बारें में पूछा जाता है |

 

भारतीय इतिहास

भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की प्रकृति और विशेषता के बारे में भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के अंतर्गत , राष्ट्रवाद के उदय, वित्तीय, सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक दलों के ज्ञान पर फोकस होगा |

 

विश्व भूगोल

सामान्य ज्ञान का भौतिक / पारिस्थितिकी विज्ञान, आर्थिक, सामाजिक, जनसांख्यिकीय मुद्दों के बारे में पूछा जाता है |

 

ग्राम समाज एवं विकास

 

ग्राम विकास अनुसंधान, ग्राम स्वास्थ्य योजनाओं, ग्राम समाज, ग्राम विकास भारत, ग्राम विकास कार्यक्रम और प्रबंधन विकास, ग्राम विकास आदि है |

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

प्रश्नपत्र से सम्बंधित अत्यंत महत्वपूर्ण जानकारी

पटवारी की परीक्षा के लिए समयावधि 1 घंटे 30 मिनट (90 मिनट) है, इस अवधि में आपको 100 प्रश्नों को हल करना है, सभी प्रश्न वस्तुनिष्ठ प्रकार के होंगे, गलत उत्तर के लिए नकारात्मक अंकन का प्रावधान किया गया है | पटवारी की परीक्षा ऑफ़लाइन मोड से ओ. एम. आर. शीट्स के द्वारा आयोजित की जाएगी |

भर्ती परीक्षा की तैयारी कैसे करे:

पिछले वर्षों के प्रश्न पत्र को हल करना

आपको अच्छे अंक प्राप्त करने के लिए पिछले कुछ वर्षों में आयोजित होने वाले प्रश्न पत्रों का अध्ययन अवश्य करना चाहिए, इससे आप प्रश्नों के स्तर को समझ सकते है, अधिकांशतः पूर्व में पूछे गए प्रश्न दोबारा फिर पूछ लिए जाते है, इससे आप उन प्रश्नों को हल कर सकते है |

ये भी पढ़े: इंटरव्यू की तैयारी कैसे करे

समय सारणी बनाये

परीक्षा की तैयारी के लिए आपको एक समय सारणी बनानी होगी, इसमें आपको सभी विषयों के लिए पर्याप्त समय देना होगा | आप के अनुसार जो विषय कठिन हो उन्हें अधिक समय दे तथा जो सरल विषय हो उन्हें कम समय दे |

इंटरनेट का प्रयोग

अच्छी तैयारी के लिए आपको इंटरनेट का प्रयोग करना होगा आप इसकी सहायता से मॉक टेस्ट में सम्मिलित हो सकते है, यहाँ पर आपको कई वेबसाइट मिलेंगी जो फ्री में मॉक टेस्ट प्रदान करती है तथा कुछ वेबसाइट शुल्क लेकर मॉक टेस्ट प्रदान करती है | आपको प्रति दिन दो मॉक टेस्ट में सम्मिलित होना होगा |

आप इंटरनेट की सहायता से यूट्यूब का प्रयोग भी कर सकते है, यहाँ पर आपको फ्री में ऑनलाइन कोचिंग प्रदान की जाती है, यूट्यूब पर भी कुछ वीडियो फ्री है तथा कुछ पेड होते है | आप अपनी इच्छा के अनुसार चयन कर सकते है | इससे आपकी तैयारी बहुत ही अच्छी हो जाएगी |

ये भी पढ़ें: Income Tax अधिकारी कैसे बने

ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए

यहाँ पर हमनें आपको पटवारी के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: किसी भी subject को कैसे याद किया जाए

ये भी पढ़े: Reasoning को कैसे बनाये आसान

ये भी पढ़े: दिमाग तेज़ कैसे करें – ये सबसे आसान उपाय करे