लेखपाल कैसे बने

लेखपाल कैसे बने

वर्तमान समय में सभी विद्यार्थी अपना करियर बनानें हेतु लक्ष्य निर्धारित करते है,और लक्ष्य की प्राप्ति हेतु अत्यधिक परिश्रम करते है, अनेक विद्यार्थी पुलिस-डिफेन्स में, तथा बहुत से विद्यार्थी अन्य सरकारी नौकरी प्राप्त करना चाहते है, कुछ विद्यार्थी लेखपाल बनना चाहते है, क्योंकि यह पद एक सम्मानित पद है, यदि आप लेखपाल बनना चाहते है, तो इसके लिए आपको लेखपाल सम्बंधित जानकारी प्राप्त करना आवश्यक है, आप लेखपाल कैसे बन सकते है, इसके बारें में आप को इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

यह पद राजस्व विभाग के अंतर्गत आता है, लेखपाल को पूर्व में पटवारी कहा जाता था,  दोनों एक ही पद के नाम हैं, कुछ राज्यों में इसे पटवारी, पटेल, कारनाम अधिकारी, शानबोगरु आदि के नाम से जाना जाता है, लेखपाल के अंतर्गत चकबंदी लेखपाल और राजस्व लेखपाल दो पद आते है, लेखपाल बननें के लिए अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा के साथ-साथ साक्षात्कार देना होता है |

ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए

ये भी पढ़े: ग्राम विकास अधिकारी कैसे बने

लेखपाल बनने हेतु योग्यता

शैक्षिक योग्यता   

लेखपाल बननें हेतु अभ्यर्थी की शैक्षिक योग्यता इंटरमीडिएट है, इसके साथ-साथ कंप्यूटर में ट्रिपल सी (कोर्स ऑन कम्‍प्‍यूटर कॉनसेप्‍ट्स) का प्रमाण पत्र अनिवार्य है |

आयु मापदंड

लेखपाल पद हेतु अभ्यर्थी की आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष के मध्य होना आवश्यक है, तथा आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को नियमानुसार आयु में छूट प्रदान की जाती है ।

लेखपाल का वेतन

लेखपाल पद के लिए अभ्यर्थी को वेतन के रूप में 5200 से 20200 रुपये प्राप्त होते है ।

ऐसे करे परीक्षा की तैयारी

इसकी परीक्षा में आमतौर पर सामान्य ज्ञान, हिंदी, सामान्य गणित और सामाजिक जीवन से जुड़े प्रश्न पूछे जाते हैं। यदि उम्मीदवार लिखित परीक्षा में पास हो जाता है तो उसे इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। लिखित परीक्षा और इंटरव्यू दोनों को मिलाकर मैरिट तैयार की जाती है। उसी आधार पर नियुक्ति के लिए चयन होता है।

ये भी पढ़े: किसी भी subject को कैसे याद किया जाए

लेखपाल परीक्षा सिलेबस

लेखपाल बननें हेतु लिखित परीक्षा 80 अंक को होती है, तथा साक्षात्कार के लिए 20 अंक निर्धारित होते है, अभ्यर्थी द्वारा दोनों परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर संयुक्त मेरिट सूची तैयार की जाती है, इस मेरिट के आधार पर नियुक्तियां की जाती है,  लिखित परीक्षा के बाद परीक्षा में उत्तीर्ण छात्रों के प्रमाणपत्रों का सत्यापन किया जाता है, उत्तर प्रदेश में लेखपाल की नौकरी प्राप्त करनें  के लिए लिखित परीक्षा मुख्य है |

क्रम स० विषय अंक प्रश्नों की सं०
1. सामान्य हिंदी 25 25
2. गणित 25 25
3. सामान्य ज्ञान 25 25
4. गांव ग्राम समाज और विकास 25 25

ये भी पढ़े: Current Affairs की तैयारी कैसे करे

सामान्य हिंदी

सामान्य हिंदी के अंतर्गत, अलंकार, विलोम, पर्यायवाची, रस, संधियों, तद्भाव समान, वचन, कारक, काल, लोकोक्तियां, मुहावरे, वाक्यांशों के लिए एक शब्द, अनेकार्थी शब्द वाक्य-संशोधन-वचन, वर्तनी, आदि से सम्बंधित प्रश्न पूछें जाते है |

गणित 

गणित पाठ्यक्रम के अंतर्गत, आवृत्ति, आवृत्ति वितरण, सारणीकरण, संचयी आवृत्ति। तथ्यों का निर्धारण, बार चार्ट, पाई चार्ट, हिस्टोग्राम, आवृत्ति बहुभुज, केंद्रीय माप: समानांतर मीन, माध्य और मोड और बहुपद, संख्या प्रणाली, प्रतिशत, लाभ हानि, सांख्यिकी, तथ्यों का वर्गीकरण आदि के बारें में पूछा जाता है    ।

i).बीजगणित 

एलसीएम और एचसीएफ के बीच संबंध, एलसीएम और एचसीएफ, समकालीन समीकरण, द्विघात समीकरण, कारक, क्षेत्र प्रमेय आदि के बारें में पूछा जाता है ।

ii).रेखागणित

आयत, स्क्वायर, ट्रैपेज़ियम, पेरेमिल्रोग्राम के परिधि और क्षेत्र, त्रिभुज और पाइथागोरस प्रमेय परिधि और सर्किल क्षेत्र आदि ।

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

सामान्य ज्ञान

सामान्य ज्ञान के प्रश्न पत्र में सम्मिलित विषय इस प्रकार है-

i).सामान्य विज्ञान

भारतीय इतिहास, स्वतंत्रता आंदोलन, भारतीय राजनीति और अर्थशास्त्र, विश्व भूगोल और जनसंख्या, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व के वर्तमान मामले, आदि के बारें में पूछा जाता है |

ii).भारतीय इतिहास

भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन की प्रकृति और विशेषता के बारे में भारतीय स्वतंत्रता आंदोलन के अंतर्गत , राष्ट्रवाद के उदय, वित्तीय, सामाजिक, धार्मिक और राजनीतिक दलों के ज्ञान पर फोकस होगा |

iii).विश्व भूगोल

सामान्य ज्ञान का भौतिक / पारिस्थितिकी विज्ञान, आर्थिक, सामाजिक, जनसांख्यिकीय मुद्दों के बारे में पूछा जाता है ।

iv)ग्राम समाज एवं विकास

ग्राम विकास अनुसंधान, ग्राम स्वास्थ्य योजनाओं, ग्राम समाज, ग्राम विकास भारत, ग्राम विकास कार्यक्रम और प्रबंधन विकास, ग्राम विकास आदि है ।

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी मिलेगी जरूर अगर आपका करेंट अफेयर्स होगा मजबूत

लेखपाल परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी  

  • परीक्षा समय अवधि 1 घंटे 30 मिनट (90 मिनट) है
  • लेखपाल परीक्षा में नकारात्मक अंकन नहीं किया जाता है
  • परीक्षा में 100 प्रश्नों के लिए 100 अंक निर्धारित होंगे
  • लिखित परीक्षा में इंटरमीडिएट स्तर की होती है
  • ओ एम आर शीट्स पर ऑफ़लाइन मोड के अंतर्गत परीक्षा आयोजित की जाएगी

लेखपाल के कार्य

  • कृषक दुर्घटना बीमा, विधवा, वृद्धवस्था, विकलांग पेंशन तथा आय, निवास एवं जाति प्रमाण पत्रों को बनवानें में आवेदक का सहयोग करना
  • भूमि का आबंटन करना तथा कब्ज़ा दिलाना लेखपाल का मुख्य कार्य है
  • कृषि गणना, पशु गणना तथा अन्य आर्थिक सर्वेक्षण में सहयोग देना
  • आपदाओ के दौरान आपदा प्रबंधन अभियानों में सक्रिय रूप से सम्मिलित होना
  • राजस्व अभिलेखों को अपडेट रखना
  • राष्ट्रिय कार्यक्रमों में सहयोग करना

ये भी पढ़े: सफलता के लिए जरुरी है Focus

यहाँ आपको लेखपाल बननें के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

ये भी पढ़े: Reasoning को कैसे बनाये आसान

ये भी पढ़े: दिमाग तेज़ कैसे करें – ये सबसे आसान उपाय करे