Moratorium क्या है

Moratorium से सम्बंधित जानकारी

लोगों को दैनिक जीवन यापन करने के लिए कभी कभी हमारी इनकम जरूरतों के मुताबिक कम पड़ जाती है, और हम अपने काम या जरूरत को पूरा करने के लिए धन की व्यवस्था करते है | कभी हमारी जरूरत घर बनाने के लिए या फिर पढ़ाई करने के लिए इसके अलावा अन्य किसी बिजनेस करने के लिए ज्यादा पैसे लेने के लिए बैंक के पास लोन लेने हेतु जाते है, और इसके लिए बैंक द्वारा कुछ दस्तावेज मांगे जाते है, और बैंक लोन के समय कुछ शर्ते भी रखी जाती है, जिसमे ब्याज सम्बन्धित शर्ते, समय सम्बन्धी शर्त और इन्हीं में से एक नियम मोरटोरियम (Moratorium) का भी होता है | यदि आप भी Moratorium क्या है, बैंकिंग में मोरटोरियम का क्या मतलब है, इसके बारे में जानना चाहते है तो यहां पर इसकी विस्तृत जानकारी प्रदान की जा रही है |

ADVERTISING

Moratorium क्या है

Marksheet Loan कैसे मिलता है

Moratorium क्या होता है |

Moratorium एक ऐसा शब्द है जिसका प्रयोग मॉरटॉरीअम पीरियड (ऋण स्थगन), जो फाइनेंस और लोन इंडस्ट्री में बहुत अधिक प्रयोग किया जाता है। परन्तु इसकी जानकारी उन्हें ही होती है, जिसे इसके नियमों के के बारे में पता होता हैं। अगर इसकी बात करे तो मॉरटॉरीअम पीरियड की सबसे अच्छी परिभाषा ‘ईएमआई हॉलिडे’ कह सकते है। जिसकी अवधि में ही खरीददार को बैंक की कोई भी मासिक किस्त नहीं चुकानी पड़ती है। 

ADVERTISING

बैंकिंग में मोरटोरियम का क्या मतलब है

बैंकिंग सेक्टर में लोन के लेन देनों के लिए मोरटोरियम शब्द सबसे अधिक प्रयोग में आता है | अगर हम पढ़ाई के दौरान एजुकेशन लोन लेते है, तो उसकी अदायगी जल्द नहीं करनी होती, इस लोन को पढ़ाई पूरी होने के बाद, फिर नौकरी तलाशने का बैंक 4 से 12  महीने तक का समय भी देती हैं | यदि मोरटोरियम (Moratorium) पीरियड समाप्त होने के बावजूद भी नौकरी नहीं मिलती तब ऐसी स्थिति में बैंक लोन की अदायगी की समयावधि यानी 6 से 12 महीने में लोन नहीं चुका पाते है तो फिर आपको यह लोन की निर्धारित किस्त के अनुसार चुकाना पड़ेगा, यानी कि कोर्स पूरा होने, और तुरंत नौकरी मिलने के 6 महीने के बाद से लोन की वसूली प्रक्रिया आरम्भ हो जाती है | बिजनेस और होम लोन के लिए इसमें अलग – अलग नियम बनाये गए है | इसे ही बैंकिंग सेक्टर में मोरटोरियम पीरियड कहते हैं |

इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (IPPB) क्या है ?

मोरटोरियम (Moratorium) पीरियड की समयावधि

एजुकेशन लोन के दौरान कोर्स पूरा होने के बाद से 1 साल से, लोन 5 साल के समय में नियमानुसार किस्ते देनी होंगी | कई बैंकों में यह समयावधि मोरटोरियम पीरियड सहित 7 साल तक की निर्धारित होती है तो कुछ बैंकों में इसकी समय सीमा 12 वर्ष तक भी होती है| इस समय सीमा में भी यदि ऐसा नहीं होता है तो बैंक द्वारा लोन की वसूली करने के लिए आगे की काररवाई की जाती है|  इसके अलावा यदि आप होम लोन या फिर बिजनेस लोन लेते है तो ऐसे ही नियम बनाये गए है | उसके लिए अलग समयवधि निर्धारित की गई है |

मंथली एवरेज बैलेंस (Monthly Average Balance) क्या है

Moratorium/ मॉरटॉरीअम से सम्बंधित अन्य शब्द

  • Pause
  • Hold
  • Discontinuance
  • Blin
  • Legislation
  • Suspending
  • Delay
  • Desist
  • Prohibition
  • Intermit

प्लाट या जमीन खरीदने के लिए लोन (Loan) कैसे ले

यहाँ पर आपको मोरटोरियम (Moratorium) के विषय में सम्पूर्ण जानकारी उपलब्ध कराई है | यदि इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है | अधिक जानकारी के लिए kaiseinhindi.com पोर्टल पर विजिट करे |

गोल्ड लोन (Gold Loan) कैसे लिया जाता है

ADVERTISING