आईएएस (IAS), आईपीएस (IPS) फ्री कोचिंग कैसे पाए, ऑनलाइन फॉर्म

आईएएस (IAS), आईपीएस (IPS) फ्री कोचिंग कैसे पाए 

आईएएस (IAS) और आईपीएस (IPS) भारत के प्रतिष्ठित पदों में से एक है, इन पदों पर चयनित व्यक्तियों को विशेष प्रशासनिक शक्तियां प्रदान की गयी है | यह भारत के सबसे आकर्षित करने वाले पद है, जिन्हें अधिकतर लोग प्राप्त करना चाहते है,  इन पदों के लिए निर्धारित वेतन और शक्तियां इसके आकर्षण का मुख्य कारण है, इन पदों की परीक्षा अत्यंत कठिन है, इसलिए इसकी तैयारी करने के लिए प्राइवेट क्षेत्र में कोचिंग संस्थानों द्वारा मोटी फीस ली जाती है, भारत सरकार इस समस्या का निवारण करने के लिए फ्री कोचिंग प्रदान करती है, जिससे गरीब छात्र भी इस पद तक आसानी से पहुँच सके | इस पेज पर आईएएस (IAS) और आईपीएस (IPS) की फ्री कोचिंग के लिए ऑनलाइन फॉर्म तथा रजिस्ट्रेशन के विषय में बताया जा रहा है |

ये भी पढ़े : आईएएस कैसे बने ?

ये भी पढ़े: PCS कैसे बने

आईएएस (IAS) और आईपीएस (IPS) फ्री कोचिंग

उत्तर प्रदेश राज्य सरकार ने प्रदेश के मेधावी छात्रों को आईएएस और पीसीएस की तैयारी के लिए फ्री कोचिंग की व्यवस्था प्रदान की है | इस फ्री कोचिंग में वह छात्र ही भाग ले सकते है, जो आर्थिक रूप से पिछड़े होते है, उत्तर प्रदेश समाज कल्याण विभाग द्वारा फ्री कोचिंग में प्रवेश हेतु संयुक्त प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है, इसमें अच्छे अंक प्राप्त करने वाले छात्र को प्रवेश प्रदान किया जाता है, सरकार द्वारा संचालित इस योजना में केवल SC, ST, OBC छात्र ही भाग ले सकते है |

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए

शिक्षण संस्थाओं में निर्धारित सीट

छत्रपति शाहूजी महाराज सोम शिक्षा संस्थान 200 सीटें
आदर्श पूर्व शिक्षा केंद्र केवल महिलाओं के लिए 150 सीटें
आईएएस पीसीएस कोचिंग सेंटर हापुड़ गाजियाबाद 120 पुरूष, 80महिलाएं
संत रविदास IAS PCS कोचिंग सेंटर वाराणसी 200 सीटें
डॉक्टर बी आर अंबेडकर आईएएस पीसीएस परीक्षा प्रशिक्षण केंद्र आगरा 200 सीटें
डॉ बी आर अंबेडकर आईएएस पीसीएस परीक्षा पूर्व प्रशिक्षण केंद्र अलीगढ़ 200 सीटें
न्यायिक सेवा प्रशिक्षण केंद्र इलाहाबाद 50 सीटें

ये भी पढ़े: अपने अंदर के Talent को कैसे पहचाने

ये भी पढ़े: सफलता के लिए जरुरी है Focus

पात्रता

  • इस योजना में केवल अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति और ओबीसी श्रेणी के अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं |
  • इस योजना में महिला और पुरुष दोनों अभ्यर्थी आवेदन कर सकते हैं |
  • आवेदन करते समय अभ्यर्थी स्नातक उत्तीर्ण हो चुका हो |
  • अभ्यर्थी उत्तर प्रदेश का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है |
  • आवेदन करते समय अभ्यर्थी की आयु 21 वर्ष पूर्ण हो जानी चाहिए, आयु की गणना प्रतिवर्ष 1 जुलाई से की जाती है |
  • आवेदन करने वाले अभ्यर्थी या उसके माता- पिता की वार्षिक आय 6 लाख से कम होनी चाहिए |
  • आवेदन करते समय अभ्यर्थी किसी निजी या सरकारी कर्मचारी के रूप में कार्यरत ना हो |
  • अभ्यर्थी किसी स्कूल या कॉलेज में अध्ययन न करता हो |

ये भी पढ़े: किसी भी subject को कैसे याद किया जाए

ये भी पढ़े: आईपीएस (IPS) कैसे बने

लाभ

  • इस योजना के अंतर्गत अभ्यर्थियों को निशुल्क कोचिंग, फ्री हास्टल, फ्री लाइब्रेरी और फ्री बुक प्रदान की जाती है |
  • इस कोचिंग का आयोजन परीक्षा से 5 माह पूर्व किया जाता है, कोचिंग के समय अभ्यर्थी को होस्टल में ही रहना अनिवार्य है |

ये भी पढ़े: IRS (Indian Revenue Service) Officer कैसे बने

आवेदन कैसे करें

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आपको इसकी आधिकारिक वेबसाइट http://socialwelfareup.upsdc.gov.in/ पर जाना होगा |

ये भी पढ़े: UPPSC सिलेबस की सम्पूर्ण जानकारी

रजिस्ट्रेशन

  • सरकार द्वारा संचालित फ्री कोचिंग के लिए आपको सर्वप्रथम रजिस्ट्रेशन करना होगा यह रजिस्ट्रेशन आप http://socialwelfareup.upsdc.gov.in/ इस वेबसाइट पर जाकर कर सकते है | रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया अत्यंत सरल है |
  • रजिस्ट्रेशन करने के लिए आपको इस वेबसाइट http://socialwelfareup.upsdc.gov.in/ पर पंजीकरण करने का लिंक प्राप्त होगा, आपको यहाँ पर क्लिक करना होगा |
  • आप जैसे ही इस पर क्लिक करेंगे आपके समक्ष आवेदन फॉर्म आ जायेगा |
  • यहाँ पर आवेदन में मांगी गयी सभी सूचना को सही- सही भरना होगा, इसके पश्चात आपको यहां पर आवश्यक सभी दस्तावेजों की स्कैन कॉपी अपलोड करना होगा |
  • आवेदन पूर्ण होने के पश्चात आप इसका प्रिंट आउट प्राप्त कर सकते है |

ये भी पढ़े: बिना कोचिंग के आईएएस (IAS) परीक्षा की तैयारी

ये भी पढ़े: Reasoning को कैसे बनाये आसान

चयन प्रक्रिया

आवेदन पूर्ण होने के बाद परीक्षा का आयोजन किया जाता है, इसके बाद मेरिट का निर्धारण किया जाता है, प्राप्त अंकों के आरोही क्रम के अनुसार अभ्यर्थियों को कॉउंसलिंग के लिए बुलाया जाता है, कॉउंसलिंग के बाद निर्धारित सीटों पर अभ्यर्थियों का चयन कर लिया जाता है |

ये भी पढ़े: विभिन्न स्तर की परीक्षाओं की तैयारी कैसे करे

कॉउंसलिंग के लिए आवश्यक डॉक्यूमेंट

कॉउंसलिंग में शैक्षिक अंक तालिकाएं / प्रमाण पत्र, आय प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, निवास प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, सरकारी चिकित्सक का स्वास्थ्य प्रमाण पत्र, राजपत्रित अधिकारी अथवा अंतिम विद्यालय / शिक्षण संस्थान, जहाँ से शिक्षा प्राप्त की हो वहां के प्रधानाचार्य द्वारा जारी नवीनतम चरित्र प्रमाण पत्र सभी मूल रूप में तथा ऑनलाइन आवेदन की प्रति साथ लाना अनिवार्य होगा |

ये भी पढ़े: शादीशुदा अभ्यर्थी सरकारी नौकरी की तैयारी कैसे कर सकते है ?

ऑनलाइन फॉर्म

आईएएस और आईपीएस फ्री कोचिंग के लिए आपको http://socialwelfareup.upsdc.gov.in/ पर जाना है, इस वेबसाइट पर आप ऑनलाइन फॉर्म भर सकते है | जब कोचिंग की अवधि समाप्त हो जाती है, तो उससे सम्बंधित लिंक वेबसाइट से हटा दिया जाता है | आप इस लिंक के माध्यम से ऑनलाइन फॉर्म देख सकते है |

एडमिट कार्ड

रजिस्ट्रेशन के बाद इस परीक्षा से 10 से 15 दिन पूर्व एडमिट कार्ड जारी किया जाता है, आप वेबसाइट पर अपने रजिस्ट्रेशन को डाल कर अपने एडमिट कार्ड को प्राप्त कर सकते है |

रिजल्ट

परीक्षा आयोजित होने के बाद एक से दो महीने के अंदर आपका परिणाम घोषित कर दिया जाता है, यह परिणाम आप इसकी आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर प्राप्त कर सकते है | परिणाम देखने के लिए आपको रजिस्ट्रेशन नंबर या अनुक्रमांक की आवश्यकता होगी इसकी सहायता से आप तुरंत अपना रिजल्ट देख सकते है |

ये भी पढ़े: विभिन्न क्षेत्रों में करियर की संभावनाएं

ये भी पढ़े: दिमाग तेज़ कैसे करें – ये सबसे आसान उपाय करे

यहाँ पर हमनें आपको आईएएस (IAS), आईपीएस (IPS) फ्री कोचिंग के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: डीएसपी (DSP) Kaise Bane, योग्यता, सैलरी, तैयारी

ये भी पढ़े: अपने अंदर के Talent को कैसे पहचाने

ये भी पढ़े: सफलता के लिए जरुरी है Focus

ये भी पढ़े: किसी भी subject को कैसे याद किया जाए