ग्राम पंचायत सचिव के कार्य, नियुक्ति

ग्राम पंचायत सचिव के कार्य 

ग्राम पंचायत सम्पूर्ण ग्राम के विकास के प्रति उत्तरदायी होती है, इसलिए ग्राम पंचायत के लिए कई पदों को सृजन किया गया है, इसमें एक प्रमुख पद पंचायत सचिव का है, पंचायत सचिव को पंचायत कार्यालय का प्रभारी कहा जाता है, जो पंचायत कार्यालय संबंधित कार्यों का लेखा- जोखा रखता है | पंचायत सचिव सरकारी योजनाओं के लिए अनुदानित राशि को निर्धारित एकाउंट में ट्रांसफर करने से संबधित सभी जानकारी रखता है, जिसे आडिट होने पर प्रस्तुत किया जाता है | इस पेज पर ग्राम पंचायत सचिव के कार्य और वेतन एवं नियुक्ति के विषय में जानकारी प्रदान की जा रही है |

ये भी पढ़े: ग्राम विकास अधिकारी कैसे बने

ये भी पढ़े: ग्राम विकास अधिकारी सिलेबस (Syllabus)

ग्राम पंचायत सचिव के कार्य

प्रत्येक गावं में ग्राम पंचायत का गठन किया जाता है, ग्राम पंचायत गाँव के विकास के लिए सरकारी योजनाओं को लागू करने और ग्राम में आवश्यक मूल ढांचे के निर्माण के लिए प्रस्ताव का निर्माण करती है, जिसे राज्य सरकार द्वारा स्वीकृति प्रदान की जाती है, यहाँ पर ग्राम पंचायत में होने वाले लिपिकीय कार्य और धन के लेखा- जोखा रखने का कार्य ग्राम पंचायत सचिव के द्वारा किया जाता है |

ये भी पढ़े: खसरा खतौनी व नक्शा ऑनलाइन कैसे देखे

ग्राम पंचायत सचिव नियुक्ति

प्रत्येक ग्राम पंचायत में एक पंचायत सचिव की नियुक्ति सरकारी नियमानुसार पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के द्वारा की जाती है | विभाग रिक्त स्थानों की पूर्ति के लिए विज्ञापन जारी करता है, योग्य उमीदवार निर्धारित तिथि के अंदर आवेदन करके परीक्षा में सफल होकर चयनित हो सकते है |

ये भी पढ़े: BDO Officer कैसे बने

ग्राम पंचायत सचिव की योग्यता

ग्राम पंचायत सचिव बनने के लिए अभ्यर्थी को किसी भी संकाय में स्नातक उत्तीर्ण होना अनिवार्य है |

आयु (Age Limit)

ग्राम पंचायत सचिव के लिए आयु सीमा 18 से 35 वर्ष निर्धारित की गई है | आरक्षित श्रेणी को नियमानुसार छूट प्रदान की गई है |

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

परीक्षा (Exam)

विभाग द्वारा ग्राम पंचायत सचिव के लिए समय- समय पर विज्ञापन जारी किया जाता है, विज्ञापन के पश्चात निर्धारित तिथि को परीक्षा का आयोजन किया जाता है, इसकी परीक्षा में दो पेपर होते है | प्रथम पेपर में 100 प्रश्न पूछे जाते है, इसके लिए 100 अंक निर्धारित रहते है तथा इसके लिए 2 घंटे का समयावधि रहती है | (यह राज्य सरकार के नियमानुसार होता है)

द्वितीय पेपर में भी 100 प्रश्न होते है, जिनके लिए 100 अंक निर्धारित रहते है तथा इसके लिए 2 घंटे का समयावधि रहती है | (यह राज्य सरकार के नियमानुसार होता है )

नोट:-  तेलगांना राज्य में इस पद के लिए दो पेपर का आयोजन किया जाता है |

ये भी पढ़े : सरकारी नौकरी मिलेगी जरूर अगर आपका करेंट अफेयर्स होगा मजबूत

परीक्षा पैटर्न (Exam Pattern)

हरियाणा राज्य सरकार में इसका परीक्षा पैटर्न इस प्रकार है-

विषय प्रश्नों की संख्या समय
सामान्य जागरूकता 100 2 घंटे
हिन्दी
अंग्रेजी
गणित
रीजनिंग

ये भी पढ़े: सफलता के लिए जरुरी है Focus 

 सैलरी (वेतनमान)

ग्राम पंचायत सचिव का वेतन 2400 ग्रेड के साथ 5200-20200 वेतनमान दिया जाता है | इस प्रकार इन्हें नए वेतनमान के अनुसार 35 से 40 हजार रुपये प्रतिमाह प्राप्त होगा |

ये भी पढ़े: Reasoning को कैसे बनाये आसान

यहाँ पर हमनें आपको ग्राम पंचायत सचिव के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए