भारत की समुद्री सीमा कितनी है | भारत के समुद्र तटीय राज्य

भारत की समुद्री सीमा और समुद्र तटीय राज्य के विषय में जानकारी

भारत एक प्रायद्वीपीय देश है, प्रायद्वीपीय भाग में तीन ओर से अंतर्राष्ट्रीय जल सीमा का निर्माण होता है | भारत का अधिकांश व्यापार जल मार्ग से ही किया जाता है | जल मार्ग से वस्तुओं की लागत कम आती है, जिससे महंगाई पर नियंत्रण किया जा सकता है | भारत के कई राज्य अंतर्राष्ट्रीय जल सीमा से जुड़े हुए है | भारत की कुल तटीय सीमा लगभग 7516.6 किलोमीटर है, जो नौ तटीय राज्यों और चार केंद्र शासित प्रदेशों से मिलती है | इस पेज पर भारत की समुद्री सीमा और समुद्र तटीय राज्य के विषय में जानकारी दी जा रही है |

ये भी पढ़ें: भारत का नक्शा किसने बनाया

भारत की समुद्री सीमा कितनी है | भारत के समुद्र तटीय राज्य

ADVERTISING

ये भी पढ़ें: भारत में कुल कितने राज्य हैं

समुद्री सीमा (Sea Border) क्या होती है?

किसी भी देश का भू- भाग निश्चित होता है, इस भू- भाग के चारों ओर पड़ने वाले स्थल और जल उसकी अंतर्राष्ट्रीय सीमा का निर्माण करते है | अंतर्राष्ट्रीय सीमा दो प्रकार की होती प्राकृतिक सीमा रेखा और अप्राकृतिक सीमा रेखा |

  • प्राकृतिक सीमा रेखा का तात्पर्य वह सीमा रेखा है जो पहाड़ और जल के द्वारा बनायीं जाती है | भारत में हिमालय और समुद्र प्राकृतिक सीमा रेखा का निर्माण करते है |
  • अप्राकृतिक सीमा रेखा का तात्पर्य वह सीमा रेखा है जो उस देश के द्वारा स्वयं बनायीं जाती है, इसका कारण युद्ध व देश का विभाजन हो सकता है | भारत और पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय सीमा अप्राकृतिक सीमा रेखा है |

ये भी पढ़ें: भारत के पड़ोसी देश और उनकी राजधानी, मुद्रा

ये भी पढ़ें: विश्व मे कितने देश है

भारत के समुद्र तटीय राज्य (Seaside State)

भारत के समुद्र तटीय राज्य इस प्रकार है-

  • भारत की समुद्र तटीय सीमा रेखा 6 किलोमीटर है, इसमें मुख्य तटीय रेखा 5422.6 किलोमीटर है और द्वीप प्रदेशों की तटीय रेखा 2094 किलोमीटर है |
  • भारत के समुद्र तटीय राज्य और केंद्र शासित प्रदेश गुजरात, महाराष्ट्र, गोवा, दमन और दीव, कर्नाटक, केरल, तमिलनाडु, पुडुचेरी, आंध्र प्रदेश, ओडिशा और पश्चिम बंगाल हैं |
  • द्वीप प्रदेश – अंडमान निकोबार द्वीप समूह, लक्षद्वीप द्वीप समूह |

भारतीय राज्यों की समुद्र तटीय सीमा रेखा (Seaside Border)

  • गुजरात-1214.7 किमी
  • महाराष्ट्र – 720 किमी
  • गोवा – 101 किमी
  • दमन और दीव -5 किमी
  • कर्नाटक – 280 किमी
  • केरल – 569.7 किमी
  • तमिलनाडु – 906.9 किमी
  • आंध्र प्रदेश – 973.7 किमी
  • ओडिशा- 476.4 किमी
  • पश्चिम बंगाल-157.5 किमी

ये भी पढ़े: क्या है भारत चीन सीमा विवाद ? 

यहाँ पर हमनें भारत की समुद्री सीमा और समुद्र तटीय राज्य के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है|

ये भी पढ़े: यूनेस्को द्वारा घोषित भारत के 37 विश्व धरोहर स्थल की सूची

ये भी पढ़े: भारत के प्रमुख शोध-संस्थान (India’s Major Research Institute)

ये भी पढ़ें: पीओके (POK) क्या है?

ये भी पढ़ें: ICJ (अंतर्राष्ट्रीय न्यायालय) क्या है?

ADVERTISING