One Nation One Exam- क्या है ?

जानें One Nation One Exam क्या है ?

भारत सरकार नें 14 मार्च 2018 को राज्य सभा में एक विधेयक पेश किया जिसके अंतर्गत समूह बी की विभिन्न रिक्तियों के लिए अभ्यर्थियों को आम पात्रता परीक्षा अर्थात सीईटी को उत्तीर्ण करना अनिवार्य करने का प्रस्ताव पारित किया गया है, इसके माध्यम से प्रतियोगी परीक्षाओं को अत्यधिक पारदर्शी बनानें का प्रयास किया गया है, इस परीक्षा का आयोजन स्नातक स्तर पर वर्ष 2019 में फरवरी महीनें में आयोजित किये जाने की संभावना है, One Nation One Exam- क्या है ? इसके बारे में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है

ये भी पढ़े: Last Minute Tips प्रतियोगी परीक्षा के लिए जानें विस्तार से

One Nation One Exam- क्या है ?

ADVERTISING

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

सेंट्रल एलिजिब्लिटी टेस्ट (सीईटी )

सम्पूर्ण देश में सेंट्रल एलिजिब्लिटी टेस्ट (सीईटी ) आगामी वर्ष से लागू होनें की संभावना है, भारत सरकार सभी अभ्यर्थियों के लिए एक आम पात्रता परीक्षा (सीईटी) का आयोजन करने जा रही है, यह परीक्षा तीन स्तरों में विभाजित होगी |

1.हाईस्कूल स्तर  |

2.इंटर स्तर |

3.स्नातक स्तर |

भारत सरकार की अधिसूचना के अनुसार वर्ष 2019 के फरवरी महीनें में स्नातक स्तर की परीक्षा का आयोजन किया जायेगा, इस परीक्षा में समूह ख के पदों के लिए आवेदन किया जा सकता है, यदि यह परीक्षा सफल होती है, तो भविष्य में हाईस्कूल स्तर, इंटर स्तर की परीक्षा का आयोजन किया जायेगा |

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

सीईटी पंजीकरण

अभ्यर्थी को राष्ट्रीय कैरियर सेवाएं और श्रम और रोजगार मंत्रालय की वेबसाइट  पर पंजीकरण करना अनिवार्य हैं , पंजीकरण करनें के पश्चात आपको एक यूनिक आईडी प्राप्त होगी |

सेंट्रल एलिजिब्लिटी टेस्ट (सीईटी ) सर्टिफिकेट की वैधता

केंद्र सरकार दवारा यह सर्टिफिकेट प्रदान किया जायेगा, यह सर्टिफिकेट दो वर्षों के लिये मान्य होगा, इसके प्राप्त अंको के आधार पर आप किसी भी सार्वजनिक पद और प्राइवेट क्षेत्र के पदों के लिए आवेदन कर सकते है |

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

सेंट्रल एलिजिब्लिटी टेस्ट के लाभ

1.इस परीक्षा के द्वारा छात्रों को एसएससी, रेलवे, बैंक इत्यादि के लिए प्रारंभिक परिक्षाएं नहीं देनी पड़ेंगी , इससे प्रारम्भिक परीक्षा पर खर्च होनें वाले धन को बचाया जा सकता है और एक परीक्षा के द्वारा ही आप सभी विभागों की मुख्य परीक्षा में भाग लेनें की अहर्ता को प्राप्त कर लेंगे, इस परीक्षा में आपको अच्छे अंक प्राप्त करने की आवश्यकता है|

2.छात्रों द्वारा प्राप्त अंको के आधार पर सार्वजनिक क्षेत्रों के साथ-साथ प्राइवेट कंपनियों में भी रोजगार प्राप्त किया जा सकता है |

ये भी पढ़े: परीक्षा के लिए Preparation नोट्स कैसे बनाए

सेंट्रल एलिजिब्लिटी टेस्ट से हानि

1.यदि किसी कारणवश छात्र इस परीक्षा में सम्मिलित नहीं हो पता है, तो छात्र को अगली परीक्षा के लिए इंतजार करना पड़ेगा, अभी तक यह परीक्षा वर्ष में कितनें बार आयोजित की जाएगी, इसका निर्णय नहीं हो पाया है |

2.इस परीक्षा का आयोजन केवल अंग्रेजी और हिंदी भाषा में किया जायेगा, इसमें क्षेत्रीय भाषाओं को सम्मिलित नहीं किया गया है, जिससे क्षेत्रीय भाषा के अभ्यर्थियों को बहुत ही कठिनाइयों का सामना करना पड़ सकता है |

3.सम्पूर्ण देश में अच्छी रैंक लाना अत्यंत कठिन कार्य है, इसके लिए छात्र को बहुत ही परिश्रम करने की आवश्यकता होगी |

4.राज्य विशेष के लिए होनें वाली भर्तियों पर इसका प्रभाव पड़ेगा, जिससे अन्य राज्य के अभ्यर्थी दूसरे राज्य में आसानी से जॉब प्राप्त कर पाएंगे |

ये भी पढ़े: रेलवे परीक्षा की तैयारी कैसे करे ?

5.एक साथ इतनी बड़ी परीक्षा का आयोजन करना बहुत ही खर्चीला साबित हो सकता है |

यहाँ पर हमनें आपको One Nation One Exam के विषय में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: CLAT परीक्षा क्या है 

ये भी पढ़े: SSC परीक्षा क्या है

ये भी पढ़े: विदेश में पढ़ने के लिए जानिये कैसे ले Bank से Education लोन

ADVERTISING