डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बनें

डाटा एंट्री ऑपरेटर की जानकारी (Data Entry Operator)

वर्तमान समय में सरकारी अथवा निजी क्षेत्र में लगभग कार्य कंप्यूटर द्वारा सम्पादित किये जा रहे है, जिसके कारण विभिन्न क्षेत्रो में रोजगार के अवसर उत्पन्न हुए है, जिनकी मांग निरंतर बढती जा रही है| यह सभी जॉब्स कम्प्यूटर के नए युग की देन है, जिसमें आज-कल डाटा इन्ट्री ऑपरेटर की सबसे अधिक मांग है और लोगो की रूचि भी अधिक है, क्योंकि यह कार्य पार्ट टाइम अथवा फुल टाइम कर सकते है| यदि आपकी रूचि कम्प्यूटर में है, और आपकी टाइपिंग स्पीड बढ़िया है और साथ ही आपको कम्प्यूटर की बेसिक जानकारी और समझ है, तो डाटा इन्ट्री ऑपरेटर की जॉब आप बहुत आसानी से हासिल कर सकते हैं| डाटा एंट्री ऑपरेटर कैसे बनें ? इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है|

ये भी पढ़े: आयुष्मान भारत मित्र कैसे बनें

ये भी पढ़े: डिजिटल डिटेक्टिव (Digital Detective) कैसे बनें?

डाटा एंट्री क्या है (Data Entry Kya Hai)    

डाटा एंट्री एक ऐसा कार्य है, जिसमे हम कागजों पर लिखी जानकारी को कंप्यूटर के सॉफ्टवेयर में लिख कर डाटा के रूप में एकत्र करते है| डाटा एंट्री करने के लिए हम कंप्यूटर में कई सॉफ्टवेर का उपयोग करते है| डाटा एंट्री के लिए बाजार में कई प्रकार के सॉफ्टवेर आते है, जिनका उपयोग करके आप डाटा एंट्री कर सकते है|

डाटा एंट्री ऑपरेटर किसे कहते है (Data Entry Operator Kaise Bane)

डाटा एंट्री ऑपरेटर एक ऐसे व्यक्ति को कहा जाता है, जो किसी जानकारी को कंप्यूटर सॉफ्टवेयर के माध्यम से लिखने का कार्य करता है| यहाँ डाटा एंट्री ऑपरेटर सबसे ज्यादा एक कंप्यूटर ऑपरेटर के लिए उपयोग किया जाता है| जहाँ एक व्यक्ति कंप्यूटर पर किसी सॉफ्टवेयर में डाटा को लिखने का कार्य करता है, जिसके कारण हम इसे डाटा एंट्री ऑपरेटर कहते है| वर्तमान समय में डाटा एंट्री का कार्य में कंप्यूटर पर सबसे अधिक किया जाता है, और डाटा एंट्री ऑपरेटर वह व्यक्ति होता है जो डाटा एंट्री करने का कार्य कर करता है|

ये भी पढ़े: व्हीकल इंश्योरेंस एजेंट कैसे बने?

शैक्षणिक योग्यता (Educational Qualification)

डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिये न्‍यूनतम शैक्षिक योग्‍यता इंटरमीडीएट, लेकिन कुछ जगह पर स्‍नातक भी अनिवार्य होता है| यह उस विभाग पे निर्भर करता है, जिस विभाग में डाटा एंट्री ऑपरेटर के पद पर आवेदन कर रहे हैं।

आयु सीमा (Age)   

डाटा एंट्री ऑपरेटर पद के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम उम्र 18 और अधिकतम 27 वर्ष निर्धारित है। आरक्षित वर्ग के अंतर्गत आने वालेअभ्यार्थियों को सरकारी नियमानुसार उम्र सीमा में छूट का प्रावधान है।

ये भी पढ़े: O, A, B, C Level कंप्यूटर कोर्स क्या है

डाटा एंट्री ऑपरेटर हेतु आवश्यक कौशल

भाषा का ज्ञान 

डाटा एंट्री ऑपरेटर के लिए आपको हिंदी और अंग्रेजी दोनों भाषाओ का ज्ञान होना अनिवार्य है, क्योंकि डाटा एंट्री करनें के दौरान कई सारी चीजें ऑपरेटर को ट्रांसलेट भी करनी होती है, अर्थात एक भाषा से दूसरी भाषा में ट्रांसलेशन के क्रम में भाषा या स्पेलिंग की अशुद्धि नही होनी चाहिए|

टाइपिंग स्‍पीड 

डाटा इन्ट्री ऑपरेटर का कार्य टाइपिंग से हीं शुरू होता है, इसलिए अभ्यर्थी को टाइपिंग में निपुण होना आवश्यक है| इसके लिए किसी व्यावसायिक टाइपिंग सेंटर में कुछ दिनों का कोर्स कर सकते है, जहाँ प्रोफेशनल्स के द्वारा कम्प्यूटर कीबोर्ड के शोर्टकट्स सिखाये जाते हैं| डाटा एंट्री ऑपरेटर के पद के लिये आपकी हिंदी या अंग्रेजी टाइपिंग स्‍पीड बहुत अच्‍छी होनी चाहिये, यदि दोनों भाषाओं की अच्‍छी टाइपिंग कर लेते हैं, तो आपको वरियता भी मिल सकती है| टाइपिंग में आपकी स्पीड 35 शब्द प्रति मिनट से ऊपर होनी चाहिए|

ये भी पढ़े: पीजीडीसीए (PGDCA) कैसे करे?

कंप्‍यूटर ज्ञान 

डाटा एंट्री ऑपरेटर बननें के लिए आपको कंप्‍यूटर ज्ञान होना आवश्‍यक है, जिसमें आपको टाइपिंग के साथ स्‍कैन करना, ईमेल भेजना, त्‍यादि की जानकारी भी होना आवश्‍यक है साथ ही आपको एमएस वर्ड और एक्‍सल का ज्ञान भी होना जरूरी है|

डाटा एंट्री कोर्स (Data Entry Courses)

डाटा एंट्री ऑपरेटर बनने के लिये आपको कोई विशेष कोर्स करने की आवश्‍यकता नहीं है, परन्तु किसी सरकारी विभाग में अवेदन करनें के लिए आपको आई टी आई, स्टेनोग्राफर या डाटा इन्ट्री ऑपरेटर का कोर्स करना आवश्यक हैं|

डाटा एंट्री ऑपरेटर सैलरी (Salary)

डाटा इन्ट्री ऑपरेटर के लिए अलग अलग सेक्टरों में अलग अलग सैलरी दी जाती है| गवर्नमेंट सेक्टरों में भी इस जॉब के लिए अलग अलग सैलरी प्रोवाईड की जाती है| यह सैलरी व्यक्ति की योग्यता, अनुभव और ओर्गेनाईजेशन पर निर्भर करता है| सरकारी विभाग में प्रतिमाह लगभग 10,000 से 20, 000 रुपये तथा प्राइवेट सेक्टर में अनुभवी व्यक्ति को 10 से 15 हजार रुपये प्रतिमाह प्राप्त होते है|

ये भी पढ़े: कम्प्यूटर एक्सपर्ट(Computer Expert) कैसे बने

यहाँ पर हमनें डाटा इन्ट्री ऑपरेटर बननें के बारें में बताया| यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है|

ये भी पढ़े: प्रोग्रामिंग (Programming) कैसे सीखे?

ये भी पढ़े: एल आई सी (LIC) एजेंट कैसे बने

ये भी पढ़े: 12th Arts के‌ बाद किसी भी क्षेत्र में करियर