एबीवीपी (ABVP) का फुल फॉर्म

एबीवीपी एक भारतीय छात्र संगठन है जोकि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) से संबद्ध है | ABVP की स्थापना 9 जुलाई 1949 को हुई थी | आज की तारीख में यह भारत का सबसे बड़ा छात्र संघ है जिसमे करीब 30 लाख जुड़े हुए है | एबीवीपी की ऑफिसियल वेबसाइट जोकि www.abvp.org है, इसके द्वारा आप एबीवीपी के बारे में बड़े विस्तार से जानकारी प्राप्त कर सकते है तथा आप यदि इस छात्र को आप ज्वाइन करना चाहते है , तो इसी वेबपोर्टल के द्वारा कर सकते है जिसकी सम्पूर्ण प्रक्रिया नीचे बड़े विस्तार पूर्वक दी गयी है | आइये आगे हम एबीवीपी से जुडी सारी जानकारी जानेगे जैसे इसका फुल फॉर्म, इतिहास, एबीवीपी के मेम्बर कैसे बने और व्हात्सप्प ग्रुप कैसे ज्वाइन करे |

ये भी पढ़े: अटल बिहारी वाजपेयी का राजनैतिक सफ़र 

ABVP Ka Full Form Kya Hai

ABVP का फुल फॉर्म Akhil Bharatiya Vidyarthi Parishad है जो अपने आप में एक बहुत बड़ा छात्र संघ है | इसकी हिंदी में फुल फॉर्म अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् है | इसका ऑफिसियल स्लोगन या नारा ““ज्ञान, शील, एकता” है यह एक राईट विंग का ग्रुप है जोकि आरएसएस से पुन्रनिर्मित है |

एबीवीपी का इतिहास (History of ABVP)

जैसा कि हम पहले ही बता चुके है कि एबीवीपी भारत का सबसे बड़ा छात्र संगठन है, जिसका निर्माण आरएसएस के बलराज मधोक द्वारा 1949 में हुआ था |  1958 में, बोम्बे यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर जिनका नाम यशवंतराव केलकर था, एबीवीपी का अध्यक्ष बनाया गया था | इसका निर्माण का उद्देश्य भारत में फैली वामपंथी विचारधारा को काटना था, साथ ही यह संघ देश से जुडी अन्य गतिविधियों में शामिल रहता है |

ये भी पढ़े: ए पी जे अब्दुल कलाम के विचार 

How to Join ABVP Online (एबीवीपी की मेम्बरशिप कैसे ले)

सर्वप्रथम एबीवीपी को ज्वाइन करने के लिए आपको उसकी ऑफिसियल वेबसाइट जोकि abvp.org पर अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा |

1: कृपया https://www.abvp.org/join-abvp पर जाए |

2: अब दिए गए फॉर्म में जानकारी भरे और अपना सर्किल ध्यान से चुने |

3: फॉर्म भरने के बाद इसे सबमिट करे

4: सफलतापूर्वक जमा करने के बाद, आपको कॉल या मेल के माध्यम से सदयस्ता का स्टेटस मिल जाएगा |

ये भी पढ़े: भारत की राष्ट्रभाषा क्या है 

ये भी पढ़े: भारत के महान व्यक्तित्व की सूची

ABVP WhatsApp Group कैसे ज्वाइन करे

एबीवीपी की सदस्यता ग्रहण करने के बाद आपको प्रदेश के अनुसार अपने क्षेत्र के cordinator के साथ सम्पर्क करना होगा अथवा आप मेल द्वारा भी व्हात्सप्प ग्रुप की जानकारी मांग सकते है | आपके सर्किल के अनुसार आपको उस क्षेत्र के ग्रुप में जोड़ दिया जायेगा|

हमे उम्मीद है कि आपको दी गयी जानकारी से आपका आत्मविश्वाश बड़ा होगा और हमारा एबीवीपी का कॉलम आपको पसंद आया होगा | कृपया इसे आगे शेयर जरूर करे |

ये भी पढ़ें: Full Form of UPA and NDA in Hindi (राजग और संप्रग क्या है)

ये भी पढ़ें: 26 जनवरी को ही क्यों लागू हुआ संविधान