एशियाई खेल का इतिहास – कब होता है आयोजित

एशियाई खेलो का इतिहास और आयोजन

एशियाई खेल एशिया की सबसे बड़ी खेल प्रतियोगिता है, एशियाई खेलों को संक्षिप्त रूप में “एशियाड” के नाम से जाना जाता है, यह प्रतियोगिता प्रत्येक चार वर्षों के अंतराल पर आयोजित की जाती है, इसका आयोजन स्थल एशियाई खेल महासंघ के सदस्य देशों के द्वारा बारी-बारी से निर्धारित किया जाता है, यह प्रतियोगिता एशियाई देशों की आपसी समानता और एकता के प्रतीक के रूप में सम्पूर्ण विश्व में जानी जाती है, इस पेज पर एशियाई खेल के इतिहास के विषय में विस्तार से जानकारी प्रदान की जा रही है |

ये भी पढ़े: क्रिकेट में करियर कैसे बनाये

ये भी पढ़े: खेल में करियर कैसे बनाये

 एशियाई खेल

एशियाई खेल का प्रथम आयोजन 1951 में भारत की राजधानी नई दिल्ली में हुआ था, इस प्रतियोगिता के माध्यम से सम्पूर्ण एशिया को एक सूत्र में बाँधने का प्रयास किया जाता है, इसमें केवल एशिया के विभिन्न देशों के खिलाड़ी भाग लेते हैं | एशियाई खेलों का नियामन एशियाई ओलम्पिक परिषद द्वारा अन्तर्राष्ट्रीय ओलम्पिक परिषद के पर्यवेक्षण में किया जाता है |

भारत में एशियाई खेल का आयोजन

इस प्रतियोगिता का आयोजन भारत के द्वारा भी किया जा चुका है, इसका प्रथम आयोजन भारत में ही वर्ष 1951 में भारतीय प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की अध्यक्षता में संपन्न किया गया था, इसके पश्चात इस प्रतियोगिता के नवें संस्करण का आयोजन वर्ष 1982 में भारतीय प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गाँधी की अध्यक्षता में संम्पन्न कराया गया था |

ये भी पढ़े: ओलंपिक में भारत के पदक 2018 – जाने अब तक कितने पदक जीत चुके है

आयोजन स्थल की सूची

क्रमांक वर्ष आयोजनकर्ता देश और नगर
1. 1951 भारत, नई दिल्ली
2. 1954 फिलिपींस, मनिला
3. 1958 जापान, टोक्यो
4. 1962 इण्डोनेशिया, जकार्ता
5. 1966 थाईलैण्ड, बैंकाक
6. 1970 थाईलैण्ड, बैंकाक
7. 1974 ईरान, तेहरान
8. 1978 थाईलैण्ड, बैंकाक
9. 1982 भारत, नई दिल्ली
10. 1986 दक्षिण कोरिया, सियोल
11. 1990 चीन, बीजिंग
12. 1994 जापान, हिरोशिमा
13. 1998 थाईलैण्ड, बैंकाक
14. 2002 दक्षिण कोरिया, बुसान
15. 2006 कतर, दोहा
16. 2010 चीन, गुआंग्झोऊ
17. 2014 दक्षिण कोरिया, इंचियोन
18. 2018 इण्डोनेशिया, जकार्ता तथा पालेमबांग
19. 2022 चीन , हांगझोऊ

ये भी पढ़े: विश्व मे कितने देश है, इनकी राजधानी एवं मुद्रा

एशियाई खेलों में भारत

एशियाई खेल के 18वें संस्करण में भारतीय ओलंपिक संघ नें भारत से 527 सदस्यों के दल को भेजा है, इस दल के ध्वजवाहक के रूप में जेवलिन थ्रोअर “नीरज चोपड़ा” को चुना गया है |

एशियाई खेल के 17 वां संस्करण इंचियोन (दक्षिण कोरिया) में आयोजित किया गया था, इस प्रतियोगिता में भारत नें कुल 57 पदक जीते थे,  जिसमें 11 स्वर्ण, 10 रजत और 36 कांस्य पदक सम्मिलित थे |

यहाँ पर हमनें आपको एशियाई खेल के इतिहास के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करे, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: भारत की राष्ट्रभाषा क्या है ?

ये भी पढ़े: भारत का नक्शा किसने बनाया

ये भी पढ़े: जानें देश के टॉप 10 वैज्ञानिको के बारें में

ये भी पढ़े: कैसे भरे सरकारी नौकरियों के ऑनलाइन फॉर्म