जनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रेफरेंसेज (जीएसपी) क्या है?

जीएसपी से सम्बंधित जानकारी (Information About GSP) 

विकसित देशों के द्वारा विकासशील देशों की सहायता के लिए कुछ वस्तुओं पर ड्यूटी-फ्री इम्पोर्ट की अनुमति दी जाती है, जिससे विकासशील देशों की आर्थिक स्थिति में सुधार हो सके | इनमें उन वस्तुओं को शामिल किया जाता है, जो की प्राथमिक स्तर की होती है, जिससे विकसित देश के अंदर किसी भी प्रकार की आर्थिक हानि न होनें पाए | ड्यूटी फ्री होने के कारण विकसित देश को लाभ भी नहीं होता है| इसका मुख्य उद्देश्य विकासशील देशों में आर्थिक वृद्धि बढ़ाना है | इस पेज पर Generalized System of Preferences (GSP), जनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रेफरेंसेज (जीएसपी) के विषय में बताया जा रहा है |

ये भी पढ़ें: Tally (टैली) क्या है ?

ADVERTISEMENT विज्ञापन

जनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रेफरेंसेज (जीएसपी) क्या है (Generalized System of Preferences )

अमेरिका ने ट्रेड एक्ट 1974 के अंतर्गत 1 जनवरी 1976 को जीएसपी का गठन किया था | इस एक्ट के अंतर्गत 129 देशों को शामिल किया गया था | इसका मुख्य उद्देश्य विकासशील देशों में आर्थिक वृद्धि को बढ़ावा देना | इस एक्ट के अंतर्गत अमेरिका अपने देश के अंदर बिना टैक्स के वस्तुओं को आयात करने की अनुमति देता है, इसमें 4800 वस्तुओं को शामिल किया गया है | अमेरिका की इस लिस्ट में वस्तुओं को शामिल करने और हटाने का अधिकार अमेरिका के राष्ट्रपति के पास सुरक्षित है |

ये भी पढ़ें: बजट क्या है (Budget Kya Hai)

ADVERTISEMENT विज्ञापन

अमेरिकी नियमों के अनुसार जनरलाइज्ड सिस्टम ऑफ प्रेफरेंसेज (जीएसपी) की पात्रता के लिए 15 मानकों को पूरा करना अनिवार्य है | इसमें प्रमुख बाल श्रम के खिलाफ लड़ाई, अंतरराष्ट्रीय मान्यता प्राप्त श्रमिक अधिकारों का पालन और इन्टलेक्चुअल प्रॉपर्टी के लिए पर्याप्त सुरक्षा उपलब्ध कराना है | यदि कोई देश अपने यहाँ पर जीएसपी की सुविधा देने से इंकार करता है, तो इस मुद्दे को विश्व व्यापार संगठन (WTO) में लाया जा सकता है, यहाँ पर उस देश के विरुद्ध सुनवाई की जाएगी |

ये भी पढ़ें: अकाउंटिंग और ऑडिटिंग फील्ड में करियर कैसे बनाये

अमेरिका विश्व का सबसे पुराना लोकतंत्र देश है और भारत विश्व का सबसे बड़ा लोकतंत्र देश है | इन दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय कारोबार वित्त वर्ष 2019 में 65.1 अरब डॉलर का था | इसमें GSP का लाभ 19 करोड़ डॉलर था  | अमेरिका ने भारतीय निर्यात को 6 अरब डॉलर तक ड्यूटी फ्री निर्धारित किया है |

ADVERTISEMENT विज्ञापन

ये भी पढ़ें: चार्टर्ड एकाउंटेंट कैसे बने

ये भी पढ़ें: विभिन्न क्षेत्रों में करियर की संभावनाएं

यहाँ, हमने सामान्यकृत पसंदीदा प्रणाली (जीएसपी) के बारे में विवरण प्रस्तुत किया है। इस जानकारी से संबंधित कोई प्रश्न हो या आप अतिरिक्त संबंधित विवरण चाहते हों, तो कृपया टिप्पणी बॉक्स के माध्यम से पूछें। हम आपकी प्रतिक्रिया और किसी भी सुझाव का उत्साहपूर्वक इंतजार करते हैं।

ये भी पढ़ें: मार्केट रिसर्च के क्षेत्र में बेहतर करियर की संभावनाए

ये भी पढ़ें: डिग्री और डिप्लोमा में क्या अंतर है

ये भी पढ़ें: Bullet Train (बुलेट ट्रेन) क्या है?

ये भी पढ़ें: ड्रोन कैमरा (Drone Camera) क्या है?