डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन क्या होता है ये कहा-कहा होता है

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन क्या है 

किसी भी नयी जॉब को प्राप्त करने से पूर्व डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन की प्रक्रिया पूर्ण की जाती है, इससे उस कंपनी या विभाग को आपकी सत्यता के विषय में जानकारी प्राप्त हो जाती है, अधिकांशतः सरकारी नौकरी में लिखित परीक्षा और साक्षात्कार के बाद डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन किया जाता है, इस प्रक्रिया में आपके अंकों तथा सर्टिफिकेट की जाँच की जाती है, जिससे यह पता चलता है, की जिसने आवेदन किया था वहीं व्यक्ति जॉब प्राप्त कर रहा है | डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के बाद नियुक्ति पत्र प्रदान कर दिया जाता है | इस पेज पर डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन कहाँ- कहाँ पर किया जाता है, तथा इसके प्रोसेस के विषय में जानकारी प्रदान की जा रही है |

ये भी पढ़े : (डुप्लीकेट) वोटर आईडी कार्ड (Voter ID Card) ऑनलाइन कैसे डाउनलोड करे

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन क्या होता है ?

किसी भी नौकरी प्रदान करने वाली संस्था के द्वारा नए इम्प्लॉयी के डॉक्यूमेंट की जाँच की जाती है, जिससे उसकी योग्यता के विषय में सही से पता लगाया जाता है | इसमें इम्प्लॉयी के डॉक्यूमेंट इंटरनेट की सहायता से जाँच किये जाते है, कई मामलों यह जाँच सर्टिफिकेट प्रदान करने वाली संस्था के पास जाकर भी किया जाता है | इस प्रकार की जाँच प्रक्रिया को डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन कहा जाता है |

ये भी पढ़े: पैन कार्ड के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करे

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन कहाँ- कहाँ पर किया जाता है ?

डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन सरकारी विभाग में नौकरी प्रदान करने से पूर्व अवश्य किया जाता है, कई बड़ी प्राइवेट संस्थाओं द्वारा भी इस प्रक्रिया को अपनाया जाता है | आप जब भी किसी सरकारी योजना का लाभ प्राप्त करना चाहते है, उस समय योजना में लगने वाले सभी डॉक्यूमेंट की जाँच निर्धारित अधिकारी के द्वारा की जाती है, जब वह अपनी स्वीकृति प्रदान कर देता है, उसी के बाद आप योजना का लाभ प्राप्त कर सकते है |

ये भी पढ़े: अपना आधार कार्ड ऑनलाइन अपडेट कैसे करे

 डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन प्रोसेस

जब आप लिखित परीक्षा और साक्षात्कार में सफल हो जाते है, उसके बाद आपके डॉक्यूमेंट की जाँच की जाती है, डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए एक समिति का गठन किया जाता है | आपको एक निर्धारित तिथि पर इस समिति के समक्ष अपने सभी डॉक्यूमेंट को लेकर उपस्थित होना पड़ता है, इसके बाद आपके सभी डॉक्यूमेंट की जाँच की जाती है, उसी समय आपके सभी डॉक्यूमेंट को इंटरनेट पर डाल कर जाँच भी कर लिया जाता है, सभी डॉक्यूमेंट सही पाए जाने पर आपके सभी डॉक्यूमेंट वापस कर दिए जाते है, यदि आपके किसी डॉक्यूमेंट में संशय होता है, तो वह डॉक्यूमेंट जमा कर लिए जाते है, जिसके बाद उस डॉक्यूमेंट की प्रमाणिकता सम्बंधित संस्था से कराई जाती है | इसके बाद आपके डॉक्यूमेंट को वापस कर दिया जाता है | यदि आपके डॉक्यूमेंट फर्जी पाए जाते है, तो आपके विरुद्ध कानूनी कार्यवाही की  जाती है |

ये भी पढ़े: ऑनलाइन पासपोर्ट अप्लाई कैसे करे

यहाँ पर हमनें आपको डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: ऑनलाइन जानें आपका आधार कार्ड कहां इस्तेमाल हुआ ?

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

ये भी पढ़े: कैसे भरे सरकारी नौकरियों के ऑनलाइन फॉर्म