ऑनलाइन जानें आपका आधार कार्ड कहां इस्तेमाल हुआ ?

जानें अपनें आधार कार्ड का प्रयोग कहां हुआ ?

भारत सरकार सार्वजनिक सेवाओं के लाभ प्राप्त करनें के लिए आधार कार्ड लिंक कराना अनिवार्य कर दिया है, जिसके माध्यम से भ्रष्टाचार के मामलों में कमी आयी हैं, आधार कार्ड को बैंक खाता, मोबाइल नम्बर, छात्रवृति, पासपोर्ट  इत्यादि में प्रयोग किया जा रहा हैं, आधार कार्ड लिंक कराने के  कुछ समय के बाद हम भूल जातें हैं, कि मेरा आधार कहाँ- कहाँ प्रयोग हो रहा हैं, और कोई इसका मिस यूज तो नहीं कर रहा है, इस समस्या से बचनें के लिए यूआईडीएआई नें आधार बायोमेट्रिक डेटा लॉक करनें का विकल्प शुरू किया है |

यदि आप यह जानना चाहते है, कि आप का आधार कार्ड कहाँ- कहाँ प्रयोग हो रहा है, इसके लिए यूआईडीएआई नें नई सुविधा आरंभ की है, जिसका नाम आधार ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री रखा गया है, यदि आप ऑनलाइन अपनें आधार कार्ड के इस्तेमाल की जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

यूआईडीएआई आधार ऑथेंटिकेशन

यूआईडीएआई आधार ऑथेंटिकेशन प्रक्रिया में आपके आधार नंबर पर आपकी बायोमेट्रिक जानकारी सुरक्षित रहती है, जिसको सेंट्रल आइडेंटिफाइड डेटा रिपॉजिट्री (सीआईडीआर) के पास वेरिफिकेशन के लिए जमा कराया जाता है, यह वेरिफिकेशन सीआईडीआर के पास उपलब्ध जानकारी या दस्तावेजों के आधार पर होती है | यूआईडीएआई इसकी जानकारी के लिए ऑनलाइन सुविधा प्रदान कराती है, आधार ऑथेंटिकेशन सुविधा केवल हां या नहीं में उत्तर प्रदान करती है |

सुरक्षा

भारत सरकार नें आधार की सुरक्षा के यह सुविधा प्रदान की इस सुविधा के माध्यम से आधार के गलत प्रयोग पर रोक लगी हैं, इसके माध्यम से भारत सरकार के धन का सही से प्रयोग हो रहा है और केवल जरूरतमंद को ही इसका लाभ प्राप्त हो रहा हैं |

आधार ऑथेंटिकेशन सुविधा का प्रयोग

1.इसके लिए आपको यूआईडीएआई की वेबसाइट https://resident.uidai.gov.in पर जाये |

2.अब आपके सामने जो पेज खुलेगा उसमे आधार सर्विसेज लिखा होगा उस पर क्लिक करे |

3.अब आपके पास एक नया पेज खुलेगा वहां पर Aadhaar Authentication History का विकल्प दिखाई देगा, आप उस पर क्लिक करे |

4.अब आपके सामने फिर से एक नया पेज खुलेगा जिस पर आपको Enter UID/VID (आधार कार्ड नंबर या आधार वेर्चुवल आई डी )Enter Security Code (कैप्चा कोड यह पेज पर लिखा होगा )यह जानकारी अंकित करनी है |

5.अब आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें ऑथेंटिकेशन टाइप सेलेक्ट करें सेलेक्ट डेट रेंज | (इसमें दो तिथि होंगी जिनके बीच की जानकारी ही उपलब्ध की जाएगी) नंबर ऑफ रिकॉर्ड्स ओटीपी (यह आपके रजिस्टर्ड मोबाईल पर आएगा) |

6.अब आपको इंटर की प्रेस करनी है |

7.अब आपके सामने तिथि और समय के अनुसार पूरी जानकारी सामने दिखायी देगी, इसमें आपको आधार को वैरि‍फाई करने के लि‍ए अथॉरि‍टी के पास कितनी बार रि‍क्‍वेस्‍ट आई है, इसकी जानकारी प्रदान की जाएगी, यदि आपको लगता हैं की आपका आधार कोई और प्रयोग कर रहा है तो इसकी शिकायत ऑनलाइन कर सकते है |

ये भी पढ़े: भारत का नक्शा किसने बनाया

आधार ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री के लाभ

1.इस सुविधा से आपको अपने आधार के गलत प्रयोग के विषय में सही जानकारी तुरंत प्राप्त हो जाएगी

2.आधार कार्ड के द्वारा आप सभी सार्वजनिक सुविधा का लाभ उठा सकते हैं, यदि आपको आधार ऑथेंटिकेशन हिस्ट्री की जानकारी होगी, तो कोई अन्य व्यक्ति आपसे धोखेबाजी नहीं कर पायेगा |

3.आप इसका प्रिंट भी प्राप्त कर सकते है और किसी भी कानूनी प्रक्रिया में  इसका प्रयोग कर सकते हैं, यह सब जगह मान्य होगी |

4.आधार के गलत प्रयोग की शिकायत के लिए आपको किसी ऑफिस के चक्कर नहीं लगाने पड़ते है |

5.इसके माध्यम से समय की बचत होती है |

यहाँ पर हमनें आपको ऑनलाइन अपनें आधार कार्ड के इस्तेमाल के विषय में बताया हैं, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: ड्रेसिंग सेंस अच्छा कैसे करे