अटल भूजल योजना (Atal Bhujal Yojana) क्या है

अटल भूजल योजना की जानकारी ( About Atal Bhujal Yojana)

केंद्र की मोदी सरकार नें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन के अवसर पर पर दो महत्वपूर्ण योजनाओं की शुरुआत की है| यह योजनाएं अटल भूजल और अटल टनल नाम से शुरू की जा रही हैं| केंद्र सरकार ने इसके लिए  6000 करोड़ रुपये इसके लिए आवंटित किए हैं| इस योजना के माध्यम से भूजल का प्रबंधन किया जाएगा और हर घर तक पीने के स्वच्छ पानी को पहुंचाने की योजना पर कार्य किया जायेगा। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन के एक दिन पूर्व ही पीएम मोदी के नेतृत्व में हुई कैबिनेट मीटिंग में इसे स्वीकृति दे दी गई थी। अटल भूजल योजना (Atal Bhujal Yojana) क्या है ? इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है|

ये भी पढ़े: उन्नत भारत अभियान योजना क्या है

ये भी पढ़े: प्रधानमंत्री रोजगार सृजन (पीएमईजीपी) योजना 

अटल भूजल योजना क्या है (Atal Bhujal Yojana Kya Hai)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के जन्मदिन के अवसर पर राजधानी के विज्ञान भवन में आयोजित कार्यक्रम में अटल भूजल योजना (Atal Bhujal Yojana) की शुरुआत की। इस योजना का उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्र में भूजल प्रबंधन को बढ़ावा देना है। कुल मिलाकर 7 राज्यों के 8,350 गांवों को इसका लाभ मिलेगा। इन राज्यों में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, हरियाणा, गुजरात, महाराष्ट्र, राजस्थान और कर्नाटक शामिल हैं। साथ ही इससे किसानों की आमदनी दोगुनी करने में भी मदद करेगी।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावडेकर के मुताबिक पानी की समस्या से निपटने के लिए अटल भूजल योजना शुरू की गई है| इस पर 5 साल में 6000 करोड़ रुपये का खर्च किया जायेगा, जिसमें से 3000 करोड़ रुपये वर्ल्ड बैंक और 3000 करोड़ रुपये सरकार देगी| इसके माध्यम से भूजल का प्रबंधन किया जाएगा और देश के हर घर तक पीने के स्वच्छ पानी को पहुंचाने की योजना पर कार्य किया जायेगा।

ये भी पढ़े: अटल बिहारी बाजपेई का व्यक्तित्व और देश प्रेम

अटल भूजल योजना का उद्देश्य (Purpose Atal Bhujal Yojana)

  • अटल भूजल योजना ऐसे क्षेत्रों में भूजल स्तर को बढ़ाने के उद्देश्य से शुरू की गई है, जहां पानी काफी नीचे चला गया है| योजना का मुख्य उद्देश्य भूजल का स्तर बढ़ाना है| साथ ही यह योजना केंद्र सरकार द्वारा किसानों को लाभ प्रदान करने के लिए शुरू की गयी है|
  • केंद्र सरकार इस योजना के अंतर्गत किसानों के लिए पर्याप्त जल भंडारण सुनिश्चित करना चाहती है| इस योजना के तहत सात राज्यों के 8350 गांव लाभान्वित होंगे| भूजल के संरक्षण हेतु शैक्षणिक और संवाद कार्यक्रमों को संचालित किया जायेगा|
  • अटल भूजल योजना से महाराष्ट्र, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, हरियाणा, राजस्थान और गुजरात इन सात राज्यों के भूजल का उठाने में बहुत सहायता मिलेगी| इन सात राज्यों के 78 जिलों में 8,350 ग्राम पंचायतों में भूजल की स्थिति बहुत ही चिंताजनक है|
  • अटल भूजल योजना में आम लोगों को भी शामिल किया जाएगा| जल सुरक्षा के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर काम किया जाएगा| इस योजना के तहत राज्‍यों में स्‍थायी भूजल प्रबंधन के लिए संस्‍थागत प्रबंधनों को मजबूत बनाया जाएगा| अटल भूजल योजना के तहत साल 2024 तक हर घर में पीने का पानी पहुँचाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है|

ये भी पढ़े: जिला योजना समिति क्या है

अटल भूजल योजना कैसे लागू होगी (Atal Ground Water Scheme Implemented)

  • अटल भूजल योजना को वर्ल्ड बैंक से 12 दिसंबर को स्वकृति प्राप्त हुई । 6,000 करोड़ रुपये की लागत वाली इस परियोजना में 50 फीसदी हिस्सेदारी भारत सरकार की होगी, जबकि आधा हिस्सा वर्ल्ड बैंक की ओर से खर्च किया जाएगा।
  • इस स्कीम को जल संकट से प्रभावित उत्तर प्रदेश, गुजरात, हरियाणा, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, राजस्थान और महाराष्ट्र में लागू किया जाएगा। इन राज्यों का चयन भूजल की कमी, प्रदूषण और अन्य मानकों को ध्यान में रखते हुए किया गया है।
  • सरकार का मानना है कि इस योजना से किसानों की आय दोगुनी करने में मदद मिलेगी, इस योजना से 8,350 गांवों को लाभ मिलेगा। सरकार के मुताबिक पानी की समस्या से निपटने के लिए अटल भूजल योजना पर पांच साल में 6,000 करोड़ रुपये का खर्च होगा।
  • ग्राम पंचायत स्तर पर जल सुरक्षा के लिए काम किया जाएगा। भूजल के संरक्षण के लिए शैक्षणिक और संवाद कार्यक्रमों को संचालित किया जाएगा।
  • इस स्कीम में आम लोगों को भी शामिल किया जाएगा। वाटर यूजर असोसिएशन, मॉनिटरिंग और भूजल की निकासी के डेटा संकलन की मदद से इस स्कीम को आगे बढ़ाया जाएगा।

ये भी पढ़े: सूर्य मित्र योजना क्या है

योजना से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी (Important Information Of Scheme)

  • वर्ष 2016-17 के केंद्रीय बजट में राष्ट्रीय भूजल प्रबंधन सुधार योजना की घोषणा की गई थी।
  • मई 2017 में व्यय वित्त समिति द्वारा इस योजना को बंद कर दिया गया था लेकिन बाद में इस योजना को ‘अटल भूजल योजना’ के रूप में पुनः नामकरण कर फिर से शुरू किया गया है।
  • इस योजना का क्रियान्वयन जल संसाधन, नदी विकास और गंगा संरक्षण मंत्रालय द्वारा किया जा रहा है।
  • अटल भूजल योजना का उद्देश्य देश के प्राथमिकता वाले क्षेत्रों में भूजल प्रबंधन में सुधार करना है।

ये भी पढ़े: आम आदमी बीमा योजना (AABY) क्या है?

यहाँ पर आपको अटल भूजल योजना योजना के विषय में बताया |  यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

ये भी पढ़े: एक देश एक राशन कार्ड योजना क्या है?

ये भी पढ़े: भारत सरकार की समस्त योजनाओं की जानकारी

ये भी पढ़े: sspy-up.gov.in, उत्तर प्रदेश विधवा पेंशन योजना

ये भी पढ़े: उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना, shadianudan.upsdc.gov.in

ये भी पढ़े: प्रधानमंत्री मोदी स्कालरशिप योजना (PM Modi Scholarship Scheme)