एन्क्रिप्शन (Encryption) और डिक्रिप्शन (Decryption) क्या होता है ?

एन्क्रिप्शन और डिक्रिप्शन क्या है ?

एन्क्रिप्शन (Encryption) और डिक्रिप्शन (Decryption) शब्द का प्रयोग इंटरनेट के क्षेत्र में किया जाता है, इंटरनेट में यदि सुरक्षा उपायों को न अपनाया जाये तो, कुछ भी सुरक्षित नहीं है, हैकिंग सीखने में इसका अधिक प्रयोग किया जाता है, इंटरनेट पर अपना डाटा सुरक्षित रखने के लिए एन्क्रिप्शन (Encryption) का प्रयोग किया जाता है, इससे यदि किसी भी प्रकार से आपका डाटा हैक हो जाता है, तो उसका उपयोग नहीं किया जा सकता है, इस पेज पर एन्क्रिप्शन (Encryption) और डिक्रिप्शन (Decryption) के विषय में विस्तार से जानकारी प्रदान की जा रही है |

ये भी पढ़े: कंप्यूटर एक्सपर्ट(Computer Expert) कैसे बने

एन्क्रिप्शन (Encryption) क्या है ?

एन्क्रिप्शन एक प्रोसेस है, जिसमे आपका डाटा कन्वर्ट करके ऐसे रूप में रखा जाता है, जिसे पढ़ना या समझना साधारण व्यक्ति के लिए संभव नहीं है, एक हैकर भी एन्क्रिप्शन की हुई फाइल को आसानी से नहीं पढ़ सकता है, जब तक वह उसका पासवर्ड या कीज की जानकारी वह न रखता हो | यदि आपका डाटा पूरी तरह एन्क्रिप्ट(Encrypt) हो जाता है, तो वह पूरी तरह से सिक्योर हो जाता है, इसी प्रोसेस को एन्क्रिप्शन (Encryption) कहा जाता है |

डिक्रिप्शन (Decryption) क्या है ?

डिक्रिप्शन वह प्रोसेस है, जिसमे अनरीडेबल टेक्स्ट या फिर कोड को ऐसे टेक्स्ट में कन्वर्ट कर दिया जाता है, जिससे वह समझ में आने लगे और साधारण व्यक्ति भी उसको आसानी से पढ़ सके | किसी भी फाइल को डिक्रिप्शन करने के लिए आपके पास उसका डिक्रिप्शन की(Key) या फिर पासवर्ड होना चाहिए, तभी आप उस फाइल को डिक्रिप्शन कर सकते है और उसे पढ़ या फिर समझ सकते है |

एन्क्रिप्शन (Encryption) से लाभ

1.एन्क्रिप्शन करने के बाद आपका डाटा पूरी तरह से सुरक्षित हो जाता है |

2.एन्क्रिप्शन करने के बाद डाटा हैक या चोरी होने पर भी एक्सेस या पढ़ा नहीं जा सकता है |

3.एन्क्रिप्शन किया डाटा केवल वही एक्सेस कर सकता है, जिसके पास इसका पासवर्ड होगा |

ये भी पढ़े: हैकर कैसे बने – जाने एथिकल हैकिंग के कोर्स

एन्क्रिप्शन (Encryption) से हानि

एन्क्रिप्शन की सबसे बड़ी हानि यही है, कि यदि आप अपना पासवर्ड भूल जाते है, तो आप वह फाइल एक्सेस या पढ़ नहीं पाएंगे अथार्त आप अपने डाटा को कभी भी प्रयोग नहीं कर पाएंगे |

यहाँ पर हमनें आपको एन्क्रिप्शन (Encryption) और डिक्रिप्शन (Decryption) के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करे, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने