ग्राफिक डिजाइनर कैसे बने

ग्राफिक डिजाइनर की पूरी जानकारी (About Graphic Designer )

वर्तमान समय में किसी भी क्षेत्र में कंप्यूटर एवं इन्टरनेट का सर्वाधिक उपयोग किया जा रहा है, अर्थात हम यह कह सकते है, कि यह कंप्यूटर युग है| इस युग में अपनी बात रखने का या कहने का सबसे प्रभावी तरीका ग्राफिक के माध्यम से संचार का तरीका है| वर्तमान में हर तरह की मार्केटिंग चाहे वह ऑनलाइन मार्केटिंग हो या ऑफलाइन सभी में ग्राफिक का इस्तेमाल किया जाता है| इसके अलावा मौखिक संवाद को छोड़कर हर प्रकार के संचार में ग्राफ़िक का उपयोग किया जाता है, इसलिए लगभग हर कंपनी को ग्राफ़िक डिज़ाइनर की आवश्यकता होती है | आप ग्राफिक डिजाइनर (Graphic Designer) कैसे बन सकते है, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है|

ये भी पढ़े: कम्प्यूटर एक्सपर्ट कैसे बने

ये भी पढ़े: प्रोफेशनल फोटोग्राफर कैसे बने

ग्राफिक डिजाइनिंग क्या है (What is Graphic Designing)

ग्राफिक डिजाईन को कम्युनिकेशन डिजाईन या संचार डिजाईन के रूप में भी जाना जा सकता है| ग्राफिक डिजाइनिंग का उद्देश्य लोगों तक अपनी बात या मेसेज को प्रभावी एवं सहज ढंग से प्रस्तुत करने का होता है | एक ग्राफिक डिजाइनिंग द्वारा ग्राफिक डिजाईन करते समय विभिन्न पाठ्य सामग्री, दृश्य, विचार एवं कला की सहायता ली जाती है | ग्राफिक डिजाईन भौतिक रूप से एवं वर्चुअल तौर पर हो सकते हैं | किसी ग्राफिक डिजाईन में शब्द, दृश्य एवं अन्य ग्राफिक्स शामिल रहते हैं | ग्राफिक डिजाइनिंग किसी भी उद्देश्य के लिए जैसे वाणिज्यिक, शैक्षिक, सांस्कृतिक एवं राजनैतिक इत्यादि के लिए की जा सकती है | आम तौर पर ग्राफिक डिजाईन अपनी बात को लोगों के समक्ष रखने का एक आकर्षक एवं प्रभावी तरीका है जो वर्तमान में इन्टरनेट एवं कंप्यूटर की दुनिया में बेहद प्रचलित है |

ग्राफिक डिज़ाइनर बननें हेतु योग्यता (Eligibility)

ग्राफिक डिज़ाइनर बननें के लिए छात्र को 12वीं पास होना आवश्यक है| ग्रेजुएट और पोस्‍ट ग्रेजुएट के बाद भी कई डिप्लोमा एवं पीजी डिप्लोमा कोर्स कराए जाते हैं|

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

आवश्यक कौशल (Skill Required)

  • विश्लेषणात्मक कौशल
  • कलात्मक क्षमता
  • अच्छी कम्युनिकेशन स्किल
  • कंप्यूटर दक्षता
  • रचनात्मकता कौशल
  • समय प्रबंधन क्षमता
  • प्रौद्योगिकी कौशल

ग्राफिक डिज़ाइनर कैसे बनें (How To Become A Graphic Designer)

ग्राफिक डिज़ाइनर बननें के व्यवसायिक शैक्षणिक संस्थानों द्वारा अनेकों तरह के कोर्स ऑफर किये जाते हैं| इस क्षेत्र में अनेक प्रकार के कोर्स उपलब्ध हैं, इनमें कुछ कोर्स कम अवधि और कुछ लम्बी अवधि के कोर्स हैं | फाउंडेशन स्तर, डिप्लोमा स्तर एवं डिग्री स्तर के कोर्स इस क्षेत्र में उपलब्ध हैं | मुख्य रूप से ग्राफिक डिज़ाइनरबनने के लिए सर्टिफिकेट कोर्स, डिप्लोमा कोर्स एवं डिग्री कोर्स उपलब्ध हैं, आप किसी मान्यता प्राप्त संस्थान से यह कोर्स कर सकते हैं |

ये भी पढ़े: फैशन डिज़ाइनर कैसे बनें

ग्राफिक डिजाइनिंग में कोर्स (Courses In Graphic Designing)

  • बैचलर इन फाइन आर्ट्स
  • पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा इन डिजाइन
  • ग्रेजुएट डिप्लोमा इन डिजाइन
  • विजुअल कम्युनिकेशन डिजाइन
  • एडवरटाइजिंग ऐंडविजुअल कम्‍यूनिकेशन
  • एप्लाइड आर्ट्स ऐंड डिजिटल आर्ट्स
  • प्रिंटिंग ऐंड मीडिया इंजीनियरिंग

ये भी पढ़े: मेडिकल लैब तकनीशियन कैसे बनें (Medical Lab Technician)

ग्राफिक डिजाइनिंग के प्रमुख संस्थान (Top Colleges in India)

  • एनआईडी (राष्ट्रीय संस्थान का डिजाइन), अहमदाबाद
  • आईआईटी बॉम्बे
  • पर्ल अकादमी, दिल्ली
  • एनआईएफटी, दिल्ली
  • एमआईटी इंस्टिट्यूट ऑफ डिज़ाइन, पुणे
  • अमिटी नोएडा
  • एमएएसी दिल्ली
  • एरिना दिल्ली एनसीआर

ये भी पढ़े: पर्यटन क्षेत्र में करियर कैसे बनाये ?

करियर एवं संभावनाएं (Career And Prospects)

  • ग्राफिकडिजाइनर के क्षेत्र में ग्लोबलाइजेशन के दौर पर रोजगार की बेहतर संभावनाएं हैं|
  • सभी छोटे-बड़े संस्थान अपने लिए विजुअल ब्रैंड तैयार करवाते हैं|
  • ग्राफिक डिजाइनर्स को वेबसाइट, एडवरटाइजिंग एजेंसी, किताबें, पत्रिकाएं, पोस्टर्स, कम्प्यूटर गेम्स, प्रोडक्ट पैकिजिंग, कॉर्पोरेट कम्यूनिकेशन, कॉर्पोरेट आइडेंडिटी जैसी जगहों पर अच्छे पैकेज में कार्य मिल जाता है|

ये भी पढ़े: डिजिटल डिटेक्टिव (Digital Detective) कैसे बनें?

ग्राफ़िक्स डिज़ाइनर की सैलरी (Salary)

ग्राफ़िक्स डिज़ाइनर को शुरुआत में 15 से 30 हजार रुपये मिलते हैं, और अनुभव बढनें के साथ-साथ आपकी सैलरी बढ़ती जाती है, जिसकी कोई लिमिट नही है| 

यहाँ पर हमनें ग्राफ़िक्स डिज़ाइनर बननें के बारें में बताया| यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है|

ये भी पढ़े: विज्ञापन के क्षेत्र में करियर कैसे बनाये

ये भी पढ़े: मार्केट रिसर्च के क्षेत्र में बेहतर करियर की संभावनाए

ये भी पढ़े: Interesting Facts & Articles in Hindi (बात काम की)