SDM Officer कैसे बने

SDM Officer कैसे बनते है 

वर्तमान समय में प्रतिस्पर्धा युग है और सभी क्षेत्रों में प्रतिस्पर्धा बढती जा रही है, जिसके लिए छात्र पूर्व से अपने लक्ष्य को निर्धारित कर अपने लक्ष्य के प्रति परिश्रम करते है, प्रत्येक छात्र की रूचि अलग-अलग क्षेत्रो में देखने को मिलती है, जैसे कोई डाक्टर, इंजिनियर, आईएएस पीसीएस, एस डी एम आदि बनना चाहते है, परन्तु किसी भी क्षेत्र में सफलता प्राप्त करनें के लिए कठिन परिश्रम और उससे सम्बंधित जानकारी प्राप्त करना आवश्यक है, क्योंकि सही जानकारी के माध्यम से सफलता आसानी से प्राप्त की जा सकती है, आप SDM Officer कैसे बन सकते है ?  इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

ये भी पढ़े: PCS परीक्षा कैसे Qualify करे

ये भी पढ़े: IRS (Indian Revenue Service) Officer कैसे बने

एसडीएम बननें हेतु शैक्षिक योग्यता

इस प्रशासनिक पद पर आवेदन के लिए अभ्यर्थी को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक उत्तीर्ण होना आवश्यक है, स्नातक के अंतिम वर्ष के छात्र भी इस पद के लिए आवेदन कर सकते है |

आयु सीमा

सभी अभ्यार्थियों की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु सामान्य वर्ग के लिए 40 वर्ष, एससी/एस टी/ओबीसी के लिए 45 वर्ष और  पीडब्लूडी के लिए 55 वर्ष निर्धारित की गयी है |

ये भी पढ़े:  सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

परीक्षा में सम्मिलित होने के अवसर

अभ्यर्थियों को इस परीक्षा में सम्मिलित होनें के लिए कोई प्रतिबन्ध नहीं है, अर्थात अभ्यर्थी अपनी इच्छानुसार परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है |

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

एसडीएम आफिसर बननें हेतु परीक्षा 

एसडीएम को उप प्रभागीय न्यायाधीश कहते है, सभी जिलो में एक एसडीएम अधिकारी नियुक्त होता है, अभ्यर्थियों को एसडीएम बननें हेतु दो विकल्प उपलब्ध है, पहला विकल्प राज्य स्तर सिविल सेवा परीक्षा और दूसरा विकल्प राज्य लोक सेवा आयोग के माध्यम से इस पद पर नियुक्ति प्राप्त कर सकते है, इन विकल्पों के अंतर्गत अभ्यार्थीयों को तीन प्रक्रियाओं में सम्मिलित होना होता है |

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

  • प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary examination)
  • मुख्य परीक्षा (Main examination)
  • इंटरव्यू (Interview)

 1.प्रारंभिक परीक्षा

एसडीएम बननें का यह पहला चरण है, इस परीक्षा में सामान्य ज्ञान से सम्बंधित दो प्रश्न पत्र होते है, इसके लिए 200 अंक निर्धारित होते है,प्रारंभिक परीक्षा में सामान्य ज्ञान से सम्बंधित द्वितीय प्रश्नपत्र क्वालीफाईग अंको का होता है, इसमें अभ्यर्थी को 33 प्रतिशत अंक प्राप्त करना अनिवार्य होता है, परन्तु इस प्रश्न पत्र के अंक रैंकिंग में नहीं जोड़े जाते , सिर्फ प्रथम प्रश्न पत्र के अंक जोड़े जाते है |

ये भी पढ़े: तहसीलदार कैसे बने

प्रारंभिक परीक्षा में अंको का निर्धारण

प्रश्न पत्र अंक
सामान्य ज्ञान-1 200
सामान्य ज्ञान- 2 200

2.मुख्य परीक्षा

प्रारंभिक परीक्षा में उत्तीर्ण छात्रों को मुख्य परीक्षा में सम्मिलित किया जाता है,मुख्य परीक्षा में कुल आठ प्रश्न पत्र होते है, जिसमें करंट अफेयर्स, इतिहास, भूगोल, इंडियन पोलायटी,जनरल साइंस, और सामान्य ज्ञान से सम्बंधित प्रश्न पूछें जाते है, यह परीक्षा काफी कठिन होती है, इस परीक्षा में उत्तीर्ण छात्र को साक्षात्कार हेतु बुलाया जाता है |

ये भी पढ़े: BDO Officer कैसे बने

मुख्य परीक्षा में अंको का निर्धारण              

प्रश्नपत्र   अंक
हिंदी 150 अंक
निबंध 150 अंक
सामान्य अध्ययन 1 200 अंक
सामान्य अध्ययन 2 200 अंक
सामान्य अध्ययन 3 200 अंक
सामान्य अध्ययन 4 200 अंक
वैकल्पिक विषय पेपर 1 200 अंक
वैकल्पिक विषय पेपर 2 200 अंक

ये भी पढ़े: Current Affairs की तैयारी कैसे करे

3.इंटरव्यू

इंटरव्यू अर्थात साक्षात्कार में आवेदक की योग्यता का आकलन किया जाता है, साक्षात्कार के दौरान आपका इंटरव्यू लेने वाले पैनल को यह विश्वास दिलाना होगा, कि आप इस पद के लिए उपयुक्त हैं, और आप यह कार्य जिम्मेदारी से कर सकते है, साक्षात्कार कुल 200 का होता है |

ये भी पढ़े: इंटरव्यू की तैयारी कैसे करे

एसडीएम अधिकारी का वेतन

एसडीएम अधिकारी को वेतन ग्रेड पे के अनुसार, न्यूनतम वेतन  53,100 रुपए और 67,700 रुपये तथा अधिकतम 1,03,314 रुपये प्राप्त होता है ।

एसडीएम के कार्य

अपनें जिले की भूमि का लेखा-जोखा एसडीएम के देखरेख में होता है, एसडीएम के उपखंड के सभी तहसीलदारों पर  प्रत्यक्ष नियंत्रण होता है, इसके अतिरिक्त विवाह रजिस्ट्रेशन, विभिन्न प्रकार के पंजीकरण, अनेक प्रकार के लाइसेंस जारी करवाना, नवीकरण करवाना, प्राकृतिक/दैवीय आपदा (बाढ़, अग्निकांड, भूकंप, भूस्खलन, शीतलहरों, बादल फटने, ओलावृष्टि, अतिवृष्टि, विद्युत प्रभाव, लू-प्रकोप, हिम स्खलन, कीट आकृमण) आदि से प्रभावित व्यक्तियों को सहायता उपलब्ध करवाना आदि प्रमुख कार्य है, एक एसडीएम आपराधिक प्रक्रिया संहिता 1973 और कई अन्य नाबालिग कृत्यों के अंतर्गत विभिन्न मजिस्ट्रेट का कार्य करते है ।

ये भी पढ़े: वैज्ञानिक कैसे बनें ? 

यहाँ आपको हमनें एसडीएम बननें के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: Income Tax अधिकारी कैसे बने

ये भी पढ़े:  सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

ये भी पढ़े: शादीशुदा अभ्यर्थी सरकारी नौकरी की तैयारी कैसे कर सकते है ?