ऑडियोलॉजी में करियर कैसे बनाएं

ऑडियोलॉजी में करियर कैसे बनाएं

ऑडियोलॉजी दो शब्दों से मिलकर बना हुआ है, ऑडियोलॉजी शब्द  में ‘ऑडियो’ का अर्थ ‘सुनना’ और ‘लॉजी’ का अर्थ ‘अध्ययन’ होता है, ऑडियोलॉजी में कान से सम्बंधित रोगों का उपचार किया जाता है, ऑडियोलॉजी चिकित्सा विज्ञान और तकनीक का सम्मिलित रूप है, इसकी सहायता से लोगों में सुननें की समस्या का निष्कर्ष निकाला जाता है, ऑडियोलॉजी में करियर कैसे बनाएं ? इसके बारे में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहे है |

ये भी पढ़े: साइबर लॉ में करियर कैसे बनाये

योग्यता

इस क्षेत्र में प्रवेश प्राप्त करने के लिए अभ्यर्थी को बारवीं की परीक्षा जीव विज्ञान विषय के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य है, स्नातक स्तर में अभ्यर्थी को तीन वर्ष अध्ययन करना होता है, इस कोर्स में सम्मिलित होनें के लिए कॉलेज द्वारा प्रवेश परीक्षा का आयोजन किया जाता है, इसको उत्तीर्ण करनें के बाद आपके प्राप्त अंको की मेरिट के आधार पर आपका प्रवेश निश्चित होता है |

अभ्यर्थी में व्यक्तिगत गुण

अभ्यर्थी को इसमें विज्ञान के माध्यम से प्रति दिन हो रहे नए सुधार के प्रति आवश्यक जानकारी होनी चाहिए, ऑडियोलॉजी ईएनटी (ईयर, नोज एंड थ्रोट) डिपार्टमेंट का ही एक भाग होता है, इसलिए अभ्यर्थी को एक टीम वर्क में कार्य करना आना चाहिए |

रोजगार के अवसर

इस क्षेत्र में आप सरकारी और प्राइवेट अस्पताल, चाइल्ड डेवलपमेंट सेंटर्स, प्री स्कूल, काउंसिलिंग सेंटर्स, फिजिकल मेडिसिन ऐंड रिहैबिलिटेशन सेंटर्स, एनजीओ इत्यादि में आसानी से जॉब प्राप्त कर सकते है, इसके अतिरिक्त आप ऑडियोलॉजी ऐंड स्पीच थेरेपी से संबंधित कोर्स करने के पश्चात आप स्वयं का क्लीनिक खोल कर अपनी इनकम की शुरुआत कर सकते है, इससे सम्बंधित रोजगार के अवसर विदेशों में भी पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है |

कोर्स

  • बैचलर ऑफ स्पेशल एजुकेशन (हियरिंग इम्पेयरमेंट)
  • बीएससी इन स्पीच ऐंड हियरिंग
  • बीएससी इन ऑडियोलॉजी (स्पीच ऐंड लैंग्वेज)
  • एमएससी (स्पीच पैथोलॉजी ऐंड ऑडियोलॉजी)

सर्टिफिकेट कोर्स

ऑडियोलॉजी ऐंड स्पीच थेरेपी की अवधि तीन वर्ष की होती है, यह डिग्री सफलता पूर्वक करने के बाद आप इसमें परास्नातक कोर्स भी कर सकते है, इसमें डिग्री और डिप्लोमा के अतिरिक्त छ: महीनें का सर्टिफिकेट कोर्स होता है, आप कम समय में इसे भी कर सकते है, इसके अन्तर्गत आपको एनाटोमी, काउसिलिंग, हियरिंग डिसऑर्डर, न्यूरोलॉजी ड न्यूरो साइकोलॉजी, साइकोलॉजी,  स्टैटिस्टिक्स विषयों का अध्ययन कराया जाता है |

ये भी पढ़े: फूड टेक्नोलॉजी में कॅरियर कैसे बनाये

वेतन

इस क्षेत्र में आपको एक फ्रेशर के रूप में 15 हजार रु० आसानी से प्राप्त हो जायेंगे, अनुभव अधिक बढ़ने पर यह वेतन भी अधिक हो सकता है, यह आपके संस्थान के ऊपर भी निर्भर करता है, संस्थान का स्टेटस जितना अच्छा होगा, आपको वेतन उतना अच्छा प्राप्त हो सकता है |

प्रमुख संस्थान

  • ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज, नई दिल्ली
  • आईपी यूनिवर्सिटी,दिल्ली
  • अली यावरजंग नेशनल इंस्टीट्यूट फार द हियरिंग हैंडिकैप्ड, मुंबई
  • ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ स्पीच ऐंड हियरिंग, मैसूर यूनिवर्सिटी, बेंगलुरु
  • पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल एजुकेशन ऐंड रिसर्च, चंडीगढ़
  • जे एम इंस्टीट्यूट ऑफ स्पीच ऐंड हियरिंग, इंद्रपुरी, केशरीनगर, पटना (बिहार)
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ हेल्थ एजुकेशन, पटना
  • इंस्टीट्यूट ऑफ स्पीच ऐंड हियरिंग, बेंगलुरु
  • उस्मानिया यूनिवर्सिटी, हैदराबाद

यहाँ पर हमनें आपको ऑडियोलॉजी में करियर बनानें के विषय में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: सॉफ्टवेयर इंजीनियर कैसे बने