क्या कोई ऐसा व्यक्ति जो अधिवक्ता नहीं है, न्यायालय में किसी केस की पैरवी कर सकता है? 

Can a non-lawyer appear in a court of law to plead a case? Or can a case require someone who is not an advocate to represent it in court? Detailed information on these topics is being given in this article. rule of law Section 30 of the Advocates Act states that any advocate whose name … Read More

निर्णय, डिक्री और आदेश में अंतर क्या है

तीन शब्द साधारण भाषा में एक जैसे प्रतीत होते हैं जैसे निर्णय, आदेश और डिक्री, परंतु इन शब्दों में बहुत अंतर है । इन  तीनों शब्दों में अंतर का उल्लेख हमें सिविल प्रक्रिया अधिनियम 1908 में  देखने को मिलता है ।  इन 3 शब्दों में बहुत से लोग कन्फ्यूज्ड होते हैं, क्योंकि प्रकृति से यह … Read More

मानहानि का दावा क्या होता है

हमारे समाज में मानव को दिए गए अधिकारों में मान, सम्मान और यश को भी अधिकार माना जाता है । जहां पर एक तरफ भारतीय अधिनियम में अनुच्छेद 19 के तहत वाक्य स्वतंत्रता दिया गया  है, वहीं पर कुछ और निर्बंधन भी लगाए जा चुके है ।  व्यक्ति और राज्य की मानहानि करने से रोकने … Read More

भारतीय साक्ष्य अधिनियम क्या है

मृत्युकालिक कथन (Dying declaration) का अत्यधिक महत्व है यह भारतीय साक्ष्य अधिनियम में बताया गया है | मृत्युकालिक कथन का मतलब होता है यानि कि मरने के समय दिया गया बयान । साक्ष्य (प्रमाण) अधिनियम की धारा 32(1) के तहत मृत्युकालिक कथन का उल्लेख किया गया है तथा मरने के समय के कथन को प्रमाण … Read More

आजीवन कारावास क्या होता है

किसी भी आपराधिक प्रणाली में शासन द्वारा दंड का प्रावधान बनाया गया है, जिससे कोई भी व्यक्ति इस तरह का अपराध न करें और भयभीत रहे तथा समाज में शांति व्यवस्था बनी रहे और अपराध समाज में न हो । भारत के दंड संविधान में भी दंड का वर्णन किया गया है, भारतीय दंड संविधान … Read More