समीक्षा अधिकारी की तैयारी कैसे करे

समीक्षा अधिकारी कैसे बनें  

समीक्षा अधिकारी बननें के लिए अभ्यर्थी को उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (यू.पी.पी.एस.सी.) द्वारा आयोजित उत्तर प्रदेश समीक्षा अधिकारी/ सहायक समीक्षा अधिकारी परीक्षा में सम्मिलित होना होता है, इस परीक्षा में चयनित अभ्यर्थियों को सामान्यत: सचिवालय भवन, लखनऊ एवं उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग भवन, इलाहाबाद आदि में नियुक्त किया जाता  है, यह एक महत्वपूर्ण पद होता है, इस पद को प्राप्त करनें के लिए अभ्यर्थी को अत्यधिक परिश्रम करना पड़ता है, परन्तु परिश्रम के साथ-साथ अभ्यर्थी को परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण जानकारी होना आवश्यक है, आप समीक्षा अधिकारी कैसे बन सकते है, इसके बारें में आपको इस पेज पर विस्तार से बता रहें है |

ये भी पढ़े: सीबीआई ऑफिसर कैसे बने  

समीक्षा अधिकारी बननें हेतु शैक्षिक योग्यता

इस परीक्षा से सम्मिलित होने वाले अभ्यर्थियों को किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातक होना आवश्यक है |

समीक्षा अधिकारी बननें हेतु आयु मापदंड

इस परीक्षा में शम्मिलित होनें के लिए अभ्यर्थी की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 42 वर्ष के मध्य होना आवश्यक है, आरक्षित वर्ग के अभ्यर्थियों को नियमानुसार आयु सीमा में छूट प्राप्त होगी |

आर ओ / ए आर ओ बननें हेतु चयन प्रक्रिया

समीक्षा अधिकारी बननें हेतु अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा में सम्मिलित होना होता है, इस परीक्षा में साक्षात्कार नहीं होता है, अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा के अंतर्गत प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा देनी होती है, प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत दो पेपर देने होते है |

ये भी पढ़े: आईपीएस (IPS) कैसे बने

1.प्रारंभिक परीक्षा

प्रारंभिक परीक्षा के अंतर्गत सामान्य अध्ययन में 140 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछें जाते है, और हिंदी से सम्बंधित परीक्षा में 60 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछें जाते है, प्रत्येक प्रश्न के लिए एक अंक निर्धारित होता है, अर्थात परीक्षा का पूर्णांक 200 अंको का होता है, इस परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिये दोनों प्रश्नपत्रों को मिलाकर सामान्यत: 60 से 65 प्रतिशत अंक प्राप्त करना आवश्यक होता है |

विषय प्रश्न स०  अंक
सामान्य अध्ययन 140 140
हिंदी 60 60

ये भी पढ़े: PCS कैसे बने

सामान्य अध्ययन की परीक्षा से सम्बंधित जानकारी

सामान्य अध्ययन से सम्बंधित पाठ्यक्रम के अंतर्गत निम्न पुस्तकों की सहायता ले सकते है |

1.इतिहास

भारतीय इतिहास के बारें में जानकारी प्राप्त करनें हेतु यूनिक या स्पेक्ट्रम की पुस्तक का अध्ययन कर सकते है, विशेष रूप  से भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन के प्रश्नो के लिए किरण कॉम्पटीशन और घटनाचक्र पूर्वावलोकन, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन से सम्बंधित पूछें जानें  वाले प्रश्नों की संख्या अधिक होती है ।

2.विश्व भूगोल

महेश बर्णवाल और घटनाचक्र पूर्वावलोकन के अध्ययन कर सकते है |

ये भी पढ़े : Income Tax अधिकारी कैसे बने

3.भारतीय अर्थव्यवस्था

प्रतियोगिता दर्पण और तथा भारतीय अर्थव्यवस्था से सम्बंधित जानकारी के लिए परीक्षावाणी की भारतीय अर्थव्यवस्था पुस्तक से प्रारंभ करें,  इस पुस्तक की सहायता से राष्ट्रीय  आय, कृषि आर्थिकी, बैंकिंग और पूँजी बाजार, विदेश व्यापार और अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक संगठनों के बारें में जानकारी प्राप्त की जा सकती है ।

4.संविधान के बारें में विस्तृत जानकारी प्राप्त करनें हेतु परीक्षावाणी की भारतीय राजव्यवस्था और घटनाचक्र पूर्वावलोकन पुस्तक से  सहायता प्राप्त कर सकते है |

5.कृषि के लिये घटनाचक्र की किताब ‘कृषि प्रौद्योगिकी’ और घटनाचक्र पूर्वावलोकन ।

6.भारतीय भूगोल |

7.साइंस के लिए एनसीईआरटी और घटनाचक्र पूर्वावलोकन और घटनाचक्र समसामयिक वार्षिकी के विज्ञान प्रौद्योगिकी ।

8.जनसंख्या और नगरीकरण के लिए परीक्षावाणी की पुस्तक का अध्ययन करना चाहियें ।

9.उत्तर प्रदेश विशेष के बारें में विस्तृत रूप से जाननें  के लिए परीक्षावाणी की पुस्तक अथवा अन्य पुस्तकों का प्रयोग कर सकते है |

10.समसामयिकी हेतु डेली न्यूज़ पेपर तथा हमारे इस पोर्टल पर करंट अफेयर्स के सेक्शन से आप डेली करंट न्यूज़ आसानी से पढ़ सकते है |

ये भी पढ़े : समीक्षा अधिकारी सिलेबस पैटर्न हिंदी पीडीएफ

द्वितीय प्रश्न पत्र – हिंदी से सम्बंधित जानकारी

हिंदी प्रश्न पत्र में 60 बहुविकल्पीय प्रश्न पूछे जाते है |

क्रम स० हिंदी पाठ्यक्रम प्रश्नों की स०
1. विलोम शब्द 10 प्रश्न
2. वाक्य शुद्धि एवं वर्तनी 10 प्रश्न
3. अनेक शब्दों के लिए एक शब्द 10 प्रश्न
4. तत्सम और तद्भव 10 प्रश्न
5. विशेषण और विशेष्य 10 प्रश्न
6. पर्यायवाची शब्द 10 प्रश्न
कुल प्रश्नों की संख्या  60

हिंदी की उपयोगी पाठ्य पुस्तके

  • हरदेव बाहरी की पुस्तक से अध्ययन कर सकते है |
  • यूथ प्रकाशन का आर ओ/ ए आर ओ सामान्य हिंदी |
  • एस आर पब्लिकेशन की समीक्षा अधिकारी हिंदी पुस्तक का अध्ययन करें ।
  • एस आर पब्लिकेशन और शिल्पी प्रकाशन का समीक्षा अधिकारी पिछले वर्ष का हिंदी हल पेपर और प्रैक्टिस सेट ।

ये भी पढ़े: पढाई करते समय कैसे नींद दूर भगाए ?

ये भी पढ़े: अपने अंदर के Talent को कैसे पहचाने

ये भी पढ़े: किसी भी subject को कैसे याद किया जाए

2.मुख्य परीक्षा

आर.ओ. मुख्य परीक्षा में चार अनिवार्य प्रश्न-पत्र होते हैं

  • प्रथम प्रश्नपत्र- सामान्य अध्ययन यह प्रश्न पत्र बहुविकल्पीय होता है ।
  • द्वितीय प्रश्नपत्र- सामान्य हिंदी एवं आलेखन यह प्रश्न पत्र वर्णनात्मक प्रकृति का होता है ।
  • तृतीय प्रश्नपत्र सामान्य शब्द एवं हिंदी व्याकरण यह प्रश्न पत्र वस्तुनिष्ठ (बहुविकल्पीय) प्रकृति का होता है ।
  • चतुर्थ प्रश्नपत्र- हिंदी निबंध वर्णनात्मक प्रकृति का होता है ।

आर.ओ. मुख्य परीक्षा कुल 400 अंकों की होती है |

प्रथम प्रश्नपत्र सामान्य अध्ययन में कुल 120 वस्तुनिष्ठ प्रश्नों का उत्तर अधिकतम दो घंटे की समय सीमा में देना होता है, जिसके लिये अधिकतम 120 अंक निर्धारित है, द्वितीय प्रश्नपत्र सामान्य हिंदी एवं आलेखन (वर्णनात्मक) के लिये अधिकतम 100 अंक निर्धारित है, जिसका उत्तर अधिकतम ढाई घंटे में लिखना होता है, तृतीय प्रश्नपत्र सामान्य शब्द एवं हिंदी व्याकरण (वस्तुनिष्ठ) में कुल 30 प्रश्न पूछे जाते हैं, जिसके लिये अधिकतम 60 अंक निर्धारित है इसका उत्तर अधिकतम आधे घंटे में देना होता है ,चतुर्थ प्रश्नपत्र हिंदी निबंध के लिये अधिकतम 120 अंक निर्धारित है, जिसका उत्तर अधिकतम तीन घंटे में लिखना होता है ।

प्रश्न पत्र विषय प्रश्न स०  अंक समय
प्रथम प्रश्नपत्र सामान्य अध्ययन 120 120 2 घंटे
द्वितीय  प्रश्नपत्र सामान्य हिंदी एवं आलेखन 100 100 2 घंटे 30 मिनट
तृतीय  प्रश्नपत्र सामान्य शब्द एवं हिंदी व्याकरण 30 60 30 मिनट
चतुर्थ  प्रश्नपत्र हिंदी निबंध प्रश्न पत्र के अनुसार 120 अंक 3 घंटे

ये भी पढ़े: बेहतर प्रेजेंटेशन देने के टिप्स

समीक्षा अधिकारी/ का वेतन

समीक्षा अधिकारी को वेतन के रूप में 9,300-34,800 रुपये प्रति माह प्राप्त होता है |

समीक्षा अधिकारी के कर्तव्य 

  • अनुभाग में प्राप्त होनें वाले पत्रों को दैनिकी में अंकित करना, तथा अनुभाग के लिये निर्धारित पंजियों का रख-रखाव करना और कागज पत्रों, पत्रावलियों के संचालन को सही-सही अंकित करना ।
  • निर्गमन के लिये अंकित पत्रों को तत्परता से निर्गत करना ।
  • स्वच्छ प्रतियां तथा विवरण पत्र तैयार करना तथा आवश्यकता पड़ने पर उद्धरण लेना ।
  • प्रतियों का मिलान करनें में अन्य सहायकों की सहायता करना ।
  • निर्गत की जानें वाली समस्त डाक को पत्रवाहक-पुस्तिका में अंकित करना तथा पत्रों को वितरित हो जाने के उपरान्त पत्रवाहक पुस्तिका की जांच करना ।
  • निर्गमन से पूर्व पत्रों के सभी संलग्नकों की जांच करना ।

ये भी पढ़े: रॉ एजेंट कैसे बने यहाँ से जाने 

ये भी पढ़े: सरकारी नौकरी कैसे मिलेगी

यहाँ आपको हमनें समीक्षा अधिकारी/ सहायक समीक्षा अधिकारी बननें के बारें में बताया, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहें है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करें, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े : प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

ये भी पढ़े: दिमाग तेज़ कैसे करें – ये सबसे आसान उपाय करे

ये भी पढ़ें: BDO Officer कैसे बने