पीएचडी (Phd) क्या है कोर्स, फ़ीस, कैसे किया जाता है

पीएचडी (Phd) क्या है ?

पीएचडी (PhD) का अर्थ डॉक्टर ऑफ़ फिलॉसफी (Doctor of Philosophy) है, जिसे संक्षिप्त में पीएचडी कहा जाता है, इस कोर्स को करने के बाद आप के नाम के आगे डॉ (Dr.) शब्द सम्मिलित हो जाता है | यह एक डाक्टरल डिग्री (Doctoral Degree) है, यदि आपको किसी महाविद्यालय या विश्वविद्यालय में एक प्रोफेसर बनना है, तो आपके पास यह डिग्री होना अनिवार्य है | आप इस डिग्री के बाद रिसर्च या फिर एनालिसिस भी कर सकते है, इस डिग्री करने के उपरांत आप उस विषय के एक्सपर्ट कहलायेंगे आपको उस विषय के बारे में पूरा ज्ञान हो जायेगा, इस पेज पर पीएचडी (Phd) के विषय में पूरी जानकारी प्रदान की जा रही है |

ये भी पढ़े: प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करे

 पीएचडी (Phd)

परास्नातक करने के उपरांत किसी भी विषय में रिसर्च करने के लिए आपको पीएचडी (Phd) करना होगा, इसको करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में प्रोफ़ेसर के रूप में नियुक्त हो सकते है | पीएचडी करने के लिए आपके परास्नातक में 55 प्रतिशत अंक होने अनिवार्य है | पीएचडी के बाद आप उस विषय के विशेषज्ञ बन जाएंगे अथार्त आप को उस विषय की पूरी जानकरी हो जाएगी और आपके नाम के आगे डॉ. शब्द सम्मिलित हो जाता है | सफलता पूर्वक पीएचडी करने के बाद आपको सार्वजनिक क्षेत्र में जाने के बहुत सारे अवसर उपलब्ध हो जाते है, वहां पर आप शोध कार्यक्रम में भाग ले सकते है और अपने विषय पर और गहन अध्ययन कर सकते है |

योग्यता

पीएचडी करने के लिए आपको स्नातक अच्छे अंकों से उत्तीर्ण होना चाहिए | स्नातक के बाद परास्नातक में आपके 55 प्रतिशत अंक होने अनिवार्य है, प्रतिशत की अनिवार्यता अलग-अलग विश्वविद्यालय में अलग-अलग हो सकती है |

पीएचडी कोर्स के लाभ

1.शिक्षा के क्षेत्र में यह सर्वोच्च डिग्री है, इसको करने के पश्चात आप उस विषय के विशेषज्ञ कहलायेंगे |

2.पीएचडी करने के बाद आप किसी भी कॉलेज में एक प्रोफेसर के रूप में नियुक्त हो सकते है |

3.पीएचडी करने के पश्चात आप अपने विषय पर रिसर्च या एनालिसिस कर सकते है |

4.पीएचडी करने के पश्चात आप अपने क्षेत्र में किसी भी पद के लिए आवेदन कर सकते है |

5.पीएचडी किये हुए व्यक्ति को क्रिएटर ऑफ़ इनफार्मेशन भी कहा जाता है |

6.पीएचडी करने के पश्चात आप के नाम के आगे डॉ० (Dr) लग जाता है |

7.पीएचडी करने के पश्चात आप अपने क्षेत्र में गलत और सही का निर्णय कर पाएंगे |

पीएचडी करने के लिए महत्वपूर्ण जानकारी

पीएचडी करने के लिए महत्वपूर्ण जानकारी इस प्रकार से है |

ये भी पढ़े: 12th के बाद कैरियर कैसे बनाये

12वीं

पीएचडी में प्रवेश के लिए आप 12वीं में उसी विषय का चुनाव करे, जिसमें आपको इंट्रेस्ट अधिक हो, आपको उसी विषय में गहन अध्ययन करना होगा और अच्छी पढ़ाई करते हुए न्यूनतम 60 प्रतिशत अंक प्राप्त करने का प्रयास करना होगा |

स्नातक

12 वीं अच्छे अंको से उत्तीर्ण करने के बाद आप स्नातक में उन्हीं विषयों का चुनाव करे, जो आप ने इंटरमीडियट में विषय लिए हो, जिससे आप को स्नातक में बहुत ही सहायता प्राप्त होगी, क्योकि आप का बेस पहले से ही मजबूत होगा, जिससे आगे की पढ़ाई बहुत अच्छे से कर पाएंगे | स्नातक में आपको अपने विषय को बहुत गहराई से अध्ययन करना होगा, जिससे आप को परास्नातक में बहुत आसानी होगी | स्नातक आप न्यूनतम 60 प्रतिशत अंकों से उत्तीर्ण करने का प्रयास करे |

परास्नातक

अच्छे अंको से स्नातक उत्तीर्ण होने के बाद आप परास्नातक में प्रवेश ले और परास्नातक में वही विषय का चुनाव करे, जिससे आप स्नातक उत्तीर्ण हो और आपको सबसे अच्छा विषय लगता हो | यहां पर इस बात का विशेष ध्यान दे, यदि आपके परास्नातक में 55 प्रतिशत से कम अंक होंगे, तो आप पीएचडी में प्रवेश नहीं ले पाएंगे, इसलिए बहुत ही अच्छे से पढ़ाई करे, क्योंकि यहाँ पर आपने थोड़ी सी भी गलती  की तो आपके आगे के सारे रास्ते बंद हो जाएंगे और आप उस विषय में पीएचडी नहीं कर पाएंगे |

यूजीसी नेट परीक्षा

परास्नातक 55 प्रतिशत से उत्तीर्ण होने के बाद आप यूजीसी नेट परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते है, यह एक राष्ट्रीय पात्रता परीक्षा है, जिसको उत्तीर्ण करना अनिवार्य कर दिया गया है, पहले यह अनिवार्य नहीं थी | यह परीक्षा वर्ष में दो बार आयोजित होती है अतः सही से मेहनत की जाये तो इसको पहले प्रयास में ही उत्तीर्ण किया जा सकता है | यूजीसी नेट परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आप पीएचडी प्रवेश परीक्षा में भाग ले सकते है |

ये भी पढ़े: सफलता के लिए जरुरी है Focus

पीएचडी प्रवेश परीक्षा

प्रत्येक विश्वविद्यालय अलग से पीएचडी प्रवेश परीक्षा का आयोजन करता है, भविष्य में सम्पूर्ण राज्य में एक संयुक्त परीक्षा कराने की योजना सरकार द्वारा बनायी जा रही है, इसलिए आप जिस विश्वविद्यालय से पीएचडी करना चाहते है, आप वहा पर आवदेन कर सकते है | प्रवेश परीक्षा में अच्छे अंक प्राप्त होने पर ही आपको पीएचडी में प्रवेश प्रदान किया जायेगा, इसलिए अच्छे अंक प्राप्त करने का प्रयास करे |

फीस

पीएचडी करने के लिए कोई फीस निर्धारित नहीं है, प्रत्येक यूनिवर्सिटी में इसकी फीस अलग-अलग है, यदि आप सरकारी यूनिवर्सिटी से पीएचडी करते है, तो आपकी फीस कम होगी और यदि आप प्राइवेट यूनिवर्सिटी से पीएचडी करते है, तो उसकी फीस अधिक होगी |

यहाँ पर हमनें पीएचडी करने के विषय में जानकारी उपलब्ध करायी है, यदि इस जानकारी से सम्बन्धित आपके मन में किसी प्रकार का प्रश्न आ रहा है, अथवा इससे सम्बंधित अन्य कोई जानकारी प्राप्त करना चाहते है, तो कमेंट बाक्स के माध्यम से पूँछ सकते है,  हम आपके द्वारा की गयी प्रतिक्रिया और सुझावों का इंतजार कर रहे है |

हमारें पोर्टल kaiseinhindi.com के माध्यम से आप इस तरह की और भी जानकरियाँ प्राप्त कर सकते है | हमारे पोर्टल पर आपको करंट अफेयर्स, डेली न्यूज़,आर्टिकल तथा प्रतियोगी परीक्षाओं से सम्बंधित लेटेस्ट जानकारी प्राप्त कर सकते है, यदि आपको यह जानकारी पसंद आयी हो, तो हमारे facebook पेज को जरूर Like करे, तथा पोर्टल को सब्सक्राइब करना ना भूले |

ये भी पढ़े: मेडिकल-इंजीनियरिंग के अलावा ये कोर्स दे सकते है रोज़गार